#changemaker: बोलें: रतलाम का स्थानीय प्रत्याशी हो तो बने बात

#changemaker: बोलें: रतलाम का स्थानीय प्रत्याशी हो तो बने बात

रतलाम. राजनीति में स्वच्छ छवि के लोगों को आगे लाने के लिए शुरू हुई पत्रिका समूह की चेंजमेकर मुहिम अब लोकसभा चुनाव के नए पड़ाव पर है। लोकसभा चुनाव को लेकर ही रविवार को रतलाम पत्रिका कार्यालय पर चेंजमेकर्स और वॉलंटियर्स की संयुक्त बैठक का दौर शुरू हो गया। बैठक में हर आयु वर्ग के चेंजमेकर्स और वॉलंटियर्स ने स्थानीय, प्रादेशिक और राष्ट्रीय परिदृश्य के मुद्दों पर करीब दो घंटे तक चर्चा की। रतलाम लोकसभा क्षेत्र में स्थानीय प्रत्याशी की मांग के साथ पेयजल, संभागीय दर्जा व अन्य विषय भी उठे।

स्थानीय मुद्दों के साथ बैठक की शुरूआत
बैठक की शुरूआत में रतलाम लोकसभा क्षेत्र के रतलाम जिले पर बात हुई। लोकसभा क्षेत्र में तीन जिले रतलाम, झाबुआ और आलीराजपुर है, लेकिन रतलाम का विकास लोकसभा के अनुसार नहीं हो रहा है। रतलाम के कई स्थानीय मुद्दें वर्षो से बने हुए है तो औद्योगिक विकास और संभाग का दर्जा दिए लाने की मांग पर कदम नहीं उठ रहे है। माही नदी का पानी रतलाम लाने की कवायद कागजों से आगे नहीं बढऩे पर नाराजगी दिखी।

 

patrika

आरक्षण, जीएसटी और एयर स्ट्राइक पर बात
बैठक में चेंजमेकर्स और वॉलंटियर्स ने राष्ट्रीय मुद्दों जैसे नोटबंदी, जीएसटी, सवर्ण और ओबीसी आरक्षण, सर्जिकल स्ट्राइक, एयर स्ट्राइक, राष्ट्रवाद व चौकीदार जुमला पर भी बात की। आतंकवाद के साथ युवाओं के रोजगार और कर्जामाफी पर भी तर्क रखे गए। विदेश नीति तथा हाल ही में देश में बने माहौल पर भी वॉलंटियर्स ने बेबाकी से बात रखी। साथ ही चुनाव घोषणा पत्र में रतलाम जिले को महत्व देने की मांग का प्रस्ताव भी रखा।

हर वर्ग और क्षेत्र से शामिल हुए वॉलंटियर्स
बैठक में चेंजमेकर राधावल्लभ खंडेवाल के साथ विक्रमसिंह सिसोदिया, गोपालकृष्ण सोहनी, ज्ञानचंद जैन, आरए केसरी, राजेन्द्रसिंह गोयल, जगदीश सोनी, सबाना खान, हीरालाल धरमचंदानी, अनिकेत शर्मा सहित अन्य युवा प्रतिनिधि और नागरिक मौजूद थे।

patrika
sachin trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned