चार्ज संभालते ही एक्शन मोड में आए कलेक्टर, कोरोना को लेकर अधिकारियों को दिये खास दिशा निर्देश

नवागत कलेक्टर पहुंचे रतलाम चार्ज संभालते ही ली अधिकारियों के साथ बैठक, दिये जरूरी दिशा-निर्देश।

By: Faiz

Published: 09 May 2021, 09:17 PM IST

रतलाम/ मध्य प्रदेश के रतलाम जिले के नवागत कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने रविवार को रतलाम पहुंचकर काम संभाल लिया। इसके बाद उन्होंने कोरोना को लेकर रतलाम शहर और जिले की स्थिति के बारे में जानकारी ली और अधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना नियंत्रण के लिए आवश्यक निर्देश भी दिए।

 

पढ़ें ये खास खबर- ग्लूकोज और नमक मिलाकर नकली कंपनी बना रही थी रेमडेसिविर, MP के इन शहरों समेत देशभर में बेच डाले 1 लाख से ज्यादा इंजेक्शन

 

देखें खबर से संबंधित वीडियो...

कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में अधिकारियों की बैठक ली बैठक

नवागत कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम कुमार रविवार दोपहर करीब 1:30 बजे कलेक्ट्रेट पहुंचे। जहां एसपी गौरव तिवारी, एडीएम जमुना भीड़ एवं अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। पहले नवागत कलेक्टर ने एसपी गौरव तिवारी के साथ चर्चा की। उसके बाद कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में अधिकारियों की बैठक ली। इस दौरान, नवागत कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने बैठक में साफ कहा कि, मेरा काम आज से शुरू होता है। इसके पहले किस ने क्या किया ,अच्छा किया, बुरा किया इसमें मुझे कोई रुचि नहीं है।

 

पढ़ें ये खास खबर- भितरघात के आरोप पर विफरे पूर्व वित्तमंत्री, कहा- 'शिवराज जी तो हार की जिम्मेदारी लेंगे नहीं, इसलिये मुझपर फोड़ा गया ठीकरा


'तीन-चार दिन काम करूंगा, तो जिले की स्थितियां खुद हो जाएंगी साफ'

नवागत कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा कि मैं साफ बोलता हूं। यदि मैंने कुछ कहा है तो वो मेरी जिम्मेदारी है, आप भी बेझिझक बोल सकते है कि, कलेक्टर ने बोला है। इसमें कोई संकोच की बात नहीं है। आपको काम करना है। भलाई-बुराई मेरे जिम्मे रहेगी। कलेक्टर ने कहा कि, मैं ये इसलिए बोल रहा हूं कि, ये टफ टाइम है। रतलाम जैसे जिले में कम जनसंख्या होने के बावजूद रोज 400 प्रकरण आ रहे हैं, तो इसका मतलब है कि लोग दायित्वों को पूरा करने में संकोच कर रहे है। संकोच के क्या कारण है, मुझे नहीं पता।तीन-चार दिन काम करने पर मुझे पता चलेगा।

 

पढ़ें ये खास खबर- मानवीय संवेदनाएं तार-तार : खाट पर बेटी का शव लेकर 30 कि.मी पैदल चलकर पोस्टमार्टम कराने पहुंचा पिता


'तुम्हारे साथ, तुम्हारे बिना, या तुम्हारे बावजूद, हमें रतलाम को संकट से बाहर निकालना है'

नवागत कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने बैठक में कहा कि, रतलाम को कोरोना की वर्तमान परिस्थिति से हमें बाहर निकालना है। इसके लिए हर आदमी का सुझाव और सहयोग जरूरी है। मुझे ये काम हर हाल में करना है। उन्होंने कहावत का उदाहरण देते हुए कहा कि, फिर चाहे तुम्हारे साथ, तुम्हारे बिना, या तुम्हारे बावजूद। लेकिन, हमें रतलाम को इस स्थिति से बाहर लाना है। और इन स्थितियों में आप सभी के सहयोग से यह काम करना है।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned