VIDEO गजब का ये कॉलेज, हर कोई कहता वारिस सिर्फ हम

VIDEO गजब का ये कॉलेज, हर कोई कहता वारिस सिर्फ हम

Ashish Pathak

September, 1304:52 PM

Ratlam, Madhya Pradesh, India

रतलाम। देश में या राज्य में जब जिस पार्टी की सरकार होती है, उस दल से जुडे़ पदाधिकारी, मंत्री किसी भी परियोजना की शुरुआत करते है। लेकिन ये मामला थोड़ा अलग है। देश में ये एकमात्र एेसा मेडिकल कॉलेज है, जिसको शुरू कराने का श्रेय भाजपा से लेकर कांग्रेस दोनों ले रहे है। इतना होता तो ठीक था, जब मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान 12 सितंबर को मेडिकल कॉलेज की शुरुआत करने आ रहे थे तो एक दिन पहले ही क्षेत्र के सांसद कांतिलाल भूरिया ने इसकी शुरुआत कर दी। बात रतलाम के मेडिकल कॉलेज की है। इतना ही नहीं, भाजपा के दो बडे़ नेता भी इस कॉलेज को लेकर श्रेय से लेकर उपलब्धी का बखान कर रहे है।

असल में जब से रतलाम में मेडिकल कॉलेज बना है, तब से भाजपा व कांगे्रस दोनों इसको लेकर बयानबाजी कर रहे है कि ये उनकी देन है। इस मामले में सांसद कांतिलाल भूरिया का कहना है कि जब यूपीए सरकार थी, तब देश में छह मेडिकल कॉलेज मंजूर किए गए थे। उनमे से एक रतलाम भी था। ये मंजूरी तत्कालीन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री गुलामनबी आजाद ने दी थी। भाजपा तो सिर्फ श्रेय लेने की राजनीति कर रही है। जबकि भाजपा का कहना है कि वर्ष 2008-09 के बजट में राज्य सरकार ने इसके लिए राशि की घोषणा की थी। इसके अलावा इसको बनाने के लिए मंजूरी दी थी। इन सब के बीच बड़ा मामला तब हुआ जब सरकारी उद्घाटन के पहले ही सांसद भूरिया ने इसकी शुरुआत कर दी।

 

मुहूर्त देखकर की शुरुआत

सांसद भूरिया 11 सिंतबर को मेडिकल कॉलेज पंडितों को लेकर पहुंचे। वैदीक मंत्रों के बीच उन्होंने नारियल फोड़ा व फीता काटकर इसकी शुरुआत कर दी। मजेदार बात ये कि जब सांसद ने ये सब किया तब प्रशासन को इस बारे में पता ही नहीं चल पाया। बाद में जब जानकारी मिली तो सांसद सहित उनके साथ गए नेताओं पर धारा 188 में कार्रवाई कर दी। इस मामले में भूरिया ने मीडिया से कहा कि उन्होने तो शुरुआत कर दी। अब जिसको जब शुरुआत करना हो करें। उनको इससे फर्क नहीं पड़ता। सांसद ने कहा कि कुछ लोग सिर्फ राजनीति कर रहे है, इसको मैं संसद में विशेष अधिकार हनन का मामला उठाऊंगा।

 

खबर तक नहीं करता

सांसद ने कहा कि उनको किसी आयोजन की प्रशासन खबर नहीं करता। मैं सांसद हूं, मुख्यमंत्री को इस मामले में सूचना देना चाहिए। उनको कुछ राजनीति करना है तो उनके क्षेत्र में जाकर करें। यहां सांसद मैं ही हूं। यहां सेवा होगी, राजनीति नहीं। इधर दूसरी तरफ भाजपा का कहना है कि भूरिया को आयोजन में बुलाया गया था। असल में उनको नीमच में प्रदेश कांगे्रस अध्यक्ष कमलनाथ के आयोजन में जाना था, इसलिए उन्होंने नहीं आने का बहाना तलाश।

congress  <a href=BJP medical collage hindi news" src="https://new-img.patrika.com/upload/2018/09/13/ratlam_medical_collage_opning_sansad_kantilal_bhuriya_3405942-m.jpg">
Show More
Ashish Pathak
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned