प्रदेश के इस शहर में कांग्रेस-निर्दलीय को भाजपा से उम्मीद

प्रदेश के इस शहर में कांग्रेस-निर्दलीय को भाजपा से उम्मीद

Sachin Trivedi | Updated: 14 Jan 2019, 06:02:08 PM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

प्रदेश के इस शहर में कांग्रेस-निर्दलीय को भाजपा से उम्मीद

रतलाम. कांग्रेस और निर्दलीय पार्षदों की विशेष सम्मेलन बुलाने की मांग पर अब नए सप्ताह में ही फैसला हो पाएगा। नगर निगम अध्यक्ष शनिवार को शहर से बाहर थे, जबकि महापौर भी निगम नहीं पहुंची। भाजपा के कई पार्षद भी अंदरूनी तौर पर कांग्रेस व निर्दलीय पार्षदों के मांग पत्र से सहमत है और विशेष सम्मेलन कराना चाहते है। इसका बड़ा कारण वार्डो में रूके कार्य और आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारी बता रहे है। उधर, ठेकेदार एसोसिएशन ने चेतावनी के बाद शनिवार से अपने कार्य बंद कर दिए। नगर निगम के विशेष सम्मेलन को लेकर एक बार फिर पार्षदों के बीच राजनीतिक गहमागहमी शुरू हो गई है। कांग्रेस ने निर्दलीय पार्षदों के समर्थन से एक मांग पत्र पीठासीन अधिकारी के नाम देकर विशेष सम्मेलन बुलाने की मांग कर दी है।

पार्टी के फोरम पर भी निगम से जुड़े मुद्दों पर बात कर रहे

भाजपा के पार्षद फिलहा खुलकर इस मांग पत्र को लेकर कुछ नहीं कह रहे है, लेकिन कुछ पार्षदों ने बताया कि विशेष सम्मेलन की मांग हो रही है तो करना चाहिए। शहर में कई पार्षदों के वार्डो में निगम से प्रस्तावित कार्य बंद हो गए है, ऐसे में चर्चा करना जरूरी है। कई भाजपा पार्षद तो पार्टी के फोरम पर भी निगम से जुड़े मुद्दों पर बात कर रहे है। ठेकेदार एसोसिएशन हुआ मुखर, कार्य किए बंद नगर निगम से जुड़े कार्य करने वाले ठेकेदार एसोसिएशन ने शनिवार को अपने अपने कार्य बंद करने का ऐलान कर दिया। एक निजी होटल में बैठक के बाद एसोसिएशन सदस्यों ने निर्णय लिया कि जब तक कमिश्नर और महापौर चर्चा के लिए नहीं बुलाएंगे, तब तक शहर में कोई भी नया कार्य शुरू नहीं किया जाएगा। भुगतान रोकने के कारण पुराने कार्यो को भी रोक दिया गया है। एसोसिएशन के अध्यक्ष मनसुखलाल ने बताया कि ठेकेदार अपने कार्यो के भुगतान के लिए परेशान हो रहा है, जानबूझकर फाइलों को लटकाया जा रहा है, जबकि टैंडर और निर्माण शर्तो को पूरा कर कार्य किए गए है। इसी से नाराज होकर अब एसोसिएशन ने निर्णय लिया है कि शहर में कोई कार्य नहीं करेंगे।

निगम में खड़े रहे, चर्चा के लिए नहीं बुलाया
ठेकेदार एसोसिएशन के सदस्य शनिवार को बैठक के बाद नगर निगम भी पहुंचे लेकिन उनको चर्चा के लिए बुलाया नहीं गया। इससे उनमें नाराजगी और गहरा गई। एसोसिएशन सदस्यों का कहना है कि भुगतान नहीं होने के कारण कार्य करना मुश्किल हो गया है। आयुक्त सहित अन्य विभागीय प्रभारी हमारी फाइलों पर निर्णय नहीं कर रहे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned