Elecation 2018: विरोध के बीच कांग्रेस घोषित करेगी जिले में सबसे पहले अपने प्रत्याशी

Elecation 2018: विरोध के बीच कांग्रेस घोषित करेगी जिले में सबसे पहले अपने प्रत्याशी

Sachin Trivedi | Updated: 04 Oct 2018, 05:53:08 PM (IST) Ratlam, Madhya Pradesh, India

विरोध के बीच कांग्रेस घोषित करेगी जिले में सबसे पहले अपने प्रत्याशी

रतलाम. हाईकमान की तेजी और संभागीय संगठन के फीडबैक के आधार पर रतलाम जिले में कांग्रेस अपने प्रत्याशी भाजपा से पहले घोषित करेगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी के दौरों की तैयारी में जुटी कांग्रेस ने हाल ही में संभाग स्तर की टीम भेजकर जिले की ५ विधानसभाओ में फीडबैक लिया है, इनमेें ग्रामीण, सैलाना और आलोट विस प्रमुख है। इन विधानसभाओं में दावेदारों की संख्या कम तो नहीं है, लेकिन संगठन ने जीतने वाले प्रत्याशी को लेकर अपने पत्ते साफ करना शुरू कर दिया है। दो से तीन निजी एजेंसियों की मदद से कराए गए सर्वे और कार्यकर्ताओं के बीच से नाम के बाद चर्चा होने लगी है।

संभागीय प्रभारी के आने से पहले हुई भी बगावत
कांग्रेस के संभागीय प्रभारी राहुल रिछारिया के रतलाम दौर से पहले गांधी जयंती पर कार्यक्रम में रतलाम ग्रामीण कांग्रेस में बगावत हो गई है। कार्यकर्ताओं ने ग्रामीण ब्लॉक के अध्यक्ष पद पर जितेन्द्र परमार की नियुक्ति को खारिज कर पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष को अपना प्रतिनिधि घोषित कर दिया। हालांकि संगठन मामले में जानकारी ही जुटा रहा है। रतलाम ग्रामीण विधानसभा से भी बाहरी प्रत्याशी के विरोध का प्रस्तावित पारित कर दिया। ग्राम बांगरोद के सेजावता मार्ग की एक धर्मशाला में करीब 30 गांव के 200 से ज्यादा कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को गांधी जयंती मनाई और दो बड़े प्रस्तावित पारित किए। जनपद पंचायत सदस्य के प्रतिनिधि मांगीलाल मालवीय व कार्यकर्ताओं ने रतलाम ग्रामीण ब्लॉक कांग्रेस के पद पर नियुक्त जितेन्द्र परमार का विरोध करते हुए उन्हें हटाने की मांग का प्रस्ताव पारित कर दिया। साथ ही पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष जगदीश पाटीदार के नेतृृत्व में कार्य करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया। कांग्रेस कार्यकर्ता सुखदेव मुकाती, राकेश व्यास, रमेश पटेल, कन्हैयालाल राठौर, अशोक पटेल, दिलीप कुमावत, शांतिलाल चौधरी, बल बहादुरसिंह, जगदीश पाटीदार, मांगीलाल मालवीय आदि ने कहा कि 25 सितंबर तक परमार को हटाने का आश्वासन दिया था, लेकिन उन्हें हटाया नहीं गया है। ऐसे में हमने सर्वानुमति से परमार के स्थान पर पाटीदार को अपना प्रतिनिधि बनाया है।

 

बाहरी प्रत्याशी की अटकलों पर अब भी नाराजगी
ग्रामीण ब्लॉक की बैठक के दौरान कार्यकर्ताओं ने विधानसभा चुनाव में बाहरी प्रत्याशी का विरोध करने का निर्णय लिया है। सरपंच रूस्तम पटेल, भरतलाल पाटीदार, नारायण मालवीय और रमेशचंद्र जोशी ने बताया कि आगामी चुनाव में हम रतलाम ग्रामीण सीट से स्थानीय प्रत्याशी ही स्वीकार करेंगे, बाहरी प्रत्याशी थोपा गया तो विरोध किया जाएगा। रतलाम शहर और रतलाम ग्रामीण के ब्लॉक में गुटबाजी को विरोध की वजह बताया जा रहा है। बुधवार को संभागीय प्रभारी राहुल रिछारिया रतलाम दौरा करेंगे, इसके पहले ग्रामीण ब्लॉक में कार्यकर्ताओं का बगावत करना पूरे संगठन में हड़कंप मचा हुआ है। एक दिन पहले शहर में कांग्रेस के दावेदारों ने बाहरी प्रत्याशी का विरोध किया था, अब बांगरोद के घटनाक्रम को लेकर संभागीय प्रभारी को कार्यकर्ताओं को मनाने जतन करना पड़ेगा।

विरोध नहीं है
रतलाम ग्रामीण ब्लॉक के अध्यक्ष पद पर विरोध नहीं है, कुछ कार्यकर्ता अपनी बात रख रहे है, उनसे संगठन के पदाधिकारी लगातार चर्चा कर रहे है, हल निकाला जा रहा है।
- राजेश भरावा, जिलाध्यक्ष रतलाम ग्रामीण कांग्रेस

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned