scriptCoolness of weather will benefit wheat gram | मौसम की ठंडक गेहूं चना को देगी लाभ | Patrika News

मौसम की ठंडक गेहूं चना को देगी लाभ

पहली बार लक्ष्य के मुकाबले सरसों की बोवनी हुई अधिक

रतलाम

Updated: December 01, 2021 09:36:39 pm

रतलाम. मौसम में धीरे-धीरे ठंडक घुलने लगी है, इसका फायदा रबी सीजन की फसलों को मिलेगा। अब तक दोपहर में तापमान में गिरावट नहीं होने से किसानों के सिर पर चिंता की लकीरें थीं, लेकिन मौसम में बदलाव से किसानों ने थोड़ी राहत की सांस ली है। रात के तापमान में भी गिरावट आई हैं। साथ ही ओस गिरने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। इन सब के बीच मावठे की हल्की ही सही, लेकिन बुधवार को बारिश हुई है।
Weather News- दिन के साथ ही रात के पारे में बढ़ोतरी का दौर
Weather News- दिन के साथ ही रात के पारे में बढ़ोतरी का दौर
wheat in Rajasthan: राजस्थान में गेहूं का बफर स्टॉक की तैयारीमौसम में धीरे-धीरे ठंडक घुलने लगी है, इसका फायदा रबी सीजन की फसलों को मिलेगा। अब तक दोपहर में तापमान में गिरावट नहीं होने से किसानों के सिर पर चिंता की लकीरें थीं, लेकिन एक सप्ताह से मौसम में बदलाव से किसानों ने थोड़ी राहत की सांस ली है। रात के तापमान में भी गिरावट आई हैं। इसके साथ ही ओस गिरने का सिलसिला भी शुरू हो गया है। यह ओस की बूंदें फसलों के लिए वरदान साबित होगी। रात के तापमान में आई गिरावट से सर्दी ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है। रात में न्यूनतम तापमान लुढ़ता है। रात में पारा 16 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि दिन में अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस बुधवार को दर्ज हुआ। आने वाले दिनों में तापमान में और गिरावट आने की संभावना बताई जा रही हैं। पिछले तीन दिनों से मौसम में बदलाव आया है। किसानों को उम्मीद है कि फसलों की स्थिति सुधरेगी। इन दिनों रबी सीजन की मुख्य फसल गेहूं की बोवनी का कार्य क्षेत्र बड़े रकबे में किया गया है। इस समय गेहूं की फसल में पहला और दूसरा पानी किसान दे रहे है, लेकिन पिछले पखवाडे से ठंड का अभाव था। इससे फसलों की रौनक गायब थी। बीते एक सप्ताह से मौसम में आए बदलाव के चलते ठंड का अहसास होने लगा है। फसलों पर ओस की बूंदे तेज जमने लगी हैं, जिसके चलते ऐसा माना जा रहा है कि अब धीरे-धीरे रौनक बढ़ेगी और फसलों की स्थिति सुधर जाएगी।
Gram Suraksha Yojana: हर महीने 1411 रुपये के निवेश पर मिलेंगे 35 लाख रुपये, लोन का भी लाभबोवनी पूर्ण कर डाल रहे खाद

रबी सीजन के तहत जिले में 275542 हेक्टेयर रकबे में बोवनी का लक्ष्य रखा गया है। जिसके चलते गेहूं और चने की बोवनी कार्य पूर्ण हो चुका है। किसानों ने इस साल गेहूं की फसल अधिक बोई है। इतना ही नहीं, लक्ष्य के मुकाबले सरसों की बोवनी अधिक हुई है। वहीं कृषि विभाग का दावा है कि गेहूं के लिए किसानों द्वारा खाद की व्यवस्था की जा रही है।
farmersफैक्ट फाइल

यह है मैदानी हकीकत हेक्टेयर में

उपज - लक्ष्य - बोवनी हुई


मसूर - 3500 - 2600


मटर - 7000 - 5000


सरसो - 5100 - 6344


गेहू - 214500 - 2 लाख

चना - 41200 - 35000


अलसी - 3500 - 2020

Now the farmers started shaking the standing soybean crop
IMAGE CREDIT: patrika
गेहूं चने को होगा लाभ

ठंड के मौसम ने रफ्तार पकड़ ली है। जिसके चलते गेहूं चने की फसल की फायदा होगा और किसानों को उपज की पैदावार में लाभ मिलेगा।
- विजय चौरसिया, उपसंचालक, कृषि विभाग

Weather Update Kanpur: न्यूनतम तापमान में 0.8 डिग्री की बढ़ोत्तरी, दिन में ठंड बढ़ने की जताई उम्मीद

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

एनसीसी रैली में बोले पीएम मोदी- महिलाओं को सेना में मिल रही बड़ी जिम्मेदारियांSC-ST को आरक्षण पर सुप्रीम कोर्ट का अहम फैसला, राज्य तय करें प्रमोशन का पैमानाNeoCov: ओमिक्रॉन के बाद सामने आया कोरोना का नया वैरिएंट 'नियोकोव' और भी खतरनाकDCGI ने भारत बायोटेक को इंट्रानैसल बूस्टर डोज के ट्रायल की दी मंजूरी, 9 जगहों पर होंगे परीक्षणAkhilesh Yadav और शिवपाल यादव को हराने के लिए मायावती के प्लान B का खुलासाघर से निकलने से पहले देख ले अपनी ट्रेन का स्टेटस, कई ट्रेन रद्द, कई के रूट बदलेपुलिस से बचने के लिए नदी में कूदा अधेड़, खोजने के लिए गोताखोर और एसडीआरएफ की टीम जुटीसुभासपा ने जारी की तीन उम्मीदवारों की लिस्ट, राजभर का दावा- हमारे निशान पर सपा प्रत्याशी लड़ेगा चुनाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.