scriptCorporation's garbage vehicle crushed the girl, instead of stopping th | निगम के कचरा वाहन ने युवती को कुचला, गाड़ी रोकने के बजाए तेज दौड़ाई, करीब 300 मीटर तक घसीटने के बाद रोका वाहन | Patrika News

निगम के कचरा वाहन ने युवती को कुचला, गाड़ी रोकने के बजाए तेज दौड़ाई, करीब 300 मीटर तक घसीटने के बाद रोका वाहन

- आक्रोशित भीड़ ने कचरा वाहन का कांच फोड़ा, चक्काजाम कर किया हंगामा, पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों ने दी समझाइश

रतलाम

Published: January 11, 2022 10:36:36 am

रतलाम। नगर निगम के कचरा वाहन ने सोमवार दोपहर में विरियाखेड़ी क्षेत्र में घर के बाहर बाटियां सेक रही तीन युवतियों को टक्कर मार दी। घटना के बाद चालक ने वाहन को रोकने के बजाए तेज गति से दौड़ा दिया जिस कारण से उसके आगे फंसी युवती सड़क पर रगड़ाती चली गई। युवती व उसकी बहनों की चीख पुकार सुनकर क्षेत्रवासी घरों से बाहर निकले और वाहन का पीछा किया तब जाकर चालक ने गाड़ी रोकी तो लोगों ने उसे पकड़कर पिटाई कर दी। इस बीच कुछ लोगों ने युवती को निकाला अस्पताल पहुंचाया लेकिन तब तक वह दम तोड़ चुकी थी।
निगम के कचरा वाहन ने युवती को कुचला, गाड़ी रोकने के बजाए तेज दौड़ाई, करीब ३०० मीटर तक घसीटने के बाद रोका वाहन
निगम के कचरा वाहन ने युवती को कुचला, गाड़ी रोकने के बजाए तेज दौड़ाई, करीब ३०० मीटर तक घसीटने के बाद रोका वाहन
थाना औद्योगिक क्षेत्र पुलिस के अनुसार इस घटना में विरियाखेड़ी निवासी २२ वर्षीय पूनम पिता मेघराज भूरिया की मौत हुई है। घटना की शिकायत पुलिस से भाई गोविंद भूरिया ने की। इसमें बताया कि उनके यहां मन्नत का कार्यक्रम चल रहा था। इस दौरान बहन पूनम, सुमित्रा और सावित्री घर के बाहर बैठकर बाटियां सेक रही थी। तभी जुलवानिया ट्रेचिंग ग्राउंड से कचरा खाली कर तेज गति से आ रहे वाहन ने सड़क से नीचे उतर तीनों को टक्कर मार दी। इस दौरान सावित्री व सुमित्रा को मामूली चोट आई जबकि पूनम गाड़ी के आगे हिस्से में फस गई।
नहीं सुनी किसी की आवाज
गाड़ी में फंसी पूनम सहित उसकी बहनों ने गाड़ी को रूकवाने के लिए चालक को आवाज लगाई लेकिन उसने नहीं सुनी और गाड़ी को तेज दौड़ाता चला गया। इस दौरान आस-पास के अन्य लोग शोर सुनकर बाहर निकले और दोनों कचरा वाहन के पीछे दौड़ लगा दी। काफी दूर जाने के बाद चालक ने गाड़ी रोककर उसमें से उतर कर दौड़ लगा दी जिसका पीछा कर लोगों ने उसे पकड़ लिया। ग्रामीणों की माने तो चालक शराब के नशे में था। उसके पास से उन्हे शराब की बोतल भी मिली थी।
ओर कर दिया चक्काजाम
घटना के बाद आक्रोशित क्षेत्र के रहवासियों ने सड़क पर चक्का जाम कर दिया। इसके साथ ही निगम के कचरा वाहनों को रोक दिया। जाम की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को समझाने का प्रयास किया लेकिन कोई समझने को तैयार नहीं था। बाद में सीएसपी हेमंत चौहान और एसडीएम अभिषेक गहलोत मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाकर कार्रवाई का आश्वासन दिया जिसके बाद जाम खुला। लोगों की शिकायत थी कि निगम के वाहन हर दिन तेज गति से चलते है, वाहनों के चालक से कुछ कहते है तो वह सुनते नहीं है।
बहन इंतजार करती रह गई
हादसे में घायल हुई बहन सुमित्रा और सावित्री छोटी बहन पूनम का इंतजार करती रह गई लेकिन शाम को उसका शव जब घर पहुंचा तो उनका रो-रोकर बूरा हाल हो गया। दरअलस इन दोनों बहनों को बताया गया था कि उपचार के लिए पूनम को अस्पताल ले जाया गया लेकिन शव आने पर उनका हाल बेहाल हो गया। पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर
निगम के कचरा वाहन चालक के खिलाफ कायमी की। वहीं निगम के वाहन से हादसा होने के बाद निगम के अधिकारी भी थाने पहुंच गए थे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.