कोर्ट ने तुलावटी संघ अध्यक्ष का निलंबन माना अनुचित, मंडी समिति को किया तलब

कोर्ट ने तुलावटी संघ अध्यक्ष का निलंबन माना अनुचित, मंडी समिति को किया तलब

By: Akram Khan

Published: 19 Jan 2019, 05:45 PM IST

रतलाम। (जावरा) प्रदेश की आदर्श मंडियों में शामिल अरनीयापीथा कृषि उपज मंडी में मंडी समिति अध्यक्ष प्रतिनिधि तथा डायरेक्टरों द्वारा आनन फानन में बिना किसी आवश्यकता के 30 नए तुलावटियों की भर्ती करते हुए, तुलावटी संघ अध्यक्ष प्रमोद शाकल्य का लायसेंस निरस्त करते हुए उन्है काम से बेदखल कर दिया था। जिस पर तुलावटी संघ अध्यक्ष ने मंडी समिति की इस कार्रवाई के विरोध में न्यायालय उपर संचालक मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड भोपाल के समक्ष अपील की थी, जिस पर संज्ञान लेते हुए अपर संचालक ने मंडी समिति द्वारा तुलावटियों के निलंबन को गलत मानते हुए इस मामले में जवाब लेकर तलब किया है।

उल्लेखनीय है कि कृषि उपज मंडी समिति जावरा के प्रस्ताव क्रामंक 461(4) 28 दिसम्बर 2019 एवं उस पर आधारित सचिव कृषि उपज मंडी समिति जावरा द्वारा जारी पत्र क्रमांक मंडी/अनु./18-19/2314 28.12.2018 जिसके द्वारा तुलावटी संघ अध्यक्ष प्रमोद शाकल्य की तुलावटी अनुज्ञप्ति निरस्त की गई है, के विरुद्ध मध्यप्रदेश कृषि उपज मंडी अधिनियम 1972 की धारा 34 के अन्तर्गत न्यायालय अपर संचालक मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड भोपाल के समक्ष अपील प्रस्तुत करते हुए कार्यवाही को स्थगीत करने हेतु स्थगन के लिए आवेदन दिया था। आवेदन पर सुनवाई करते हुए न्यायालय अपर संचालक ने 17 जनवरी 2019 को मंडी समिति के २८ दिसम्बर को लिए गए निर्णय व कार्यवाही को स्थगीत करना उचित मानते हुए आगामी तारिख तक के लिए स्थगीत करने के आदेश जारी किए है। वहीं आगामी 10 अप्रेल 2019 को इस मामले में मंडी समिति को समस्त जवाब लेकर अपने न्यायालय में तलब किया है। न्यायालय के आदेश के परिपालन में शनिवार से तुलावटी संघ अध्यक्ष पुन: मंडी में काम शुरू करेंगे।

पीलिया खाल ब्रिज निर्माण का विरोध
जावरा. नगर में मध्य बहने वाले पीलिया खाल पर रपट रोड पर सेतु विकास निगम द्वारा बनाए जा रहे ब्रिज को लेकर असंमजस और भी बढ़ता जा रहा है। इस असमंजस को लेकर नपा के वार्ड 21 के पार्षद ने एसडीएम को पत्र लिखकर ब्रिज का नक्शा नहीं बताए जाने की शिकायत की है। नपा पार्षद दिनेश सैनी ने अनुविभागीय अधिकारी एमएल आर्य को पत्र लिखकर बताया कि रपट पर बन रहे ब्रिज के नक्शे जनप्रतिनिधियों को नहीं बताए जा रहे है। वर्तमान में रपट रोड़ छोटा मालीपुरा, बडा व जुलाहपुरा, पाड़ाखाना से बजाजखाना रास्ता जाता है। रपट रोड़ कार्नर से 25 फिट चौडाई वाला रोड़ आने-जाने में काम आता है, पुल बनने से 5 से 7 फिट गली जैसा कार्नर हो जाएगा। ऐसे में लगभग 7 हजार आबादी वाले मोहल्ले में पानी टेंकर, अग्रिशमन गाडी, ऐम्बुलेंस आदी नही आ पाईगी। दोनो तरफ पुल की चौड़ाई बढाई जाए। पुल के नक्क्षे का मानचित्र बडे बोर्ड पर दोनो ओर लगाए जाने की मांग की है, पार्षद ने बताया कि वे स्वयं वार्ड 21 के पार्षद है, लेकिन बिना उनकी जानकारी के ब्रिज निर्माण का शिलान्यास कर लिया गया।

Akram Khan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned