नौकरी के नाम पर पति-पत्नी ने की लाखों की लूट

नौकरी के नाम पर पति-पत्नी ने की लाखों की लूट

Chandraprakash Sharma | Publish: Jul, 18 2019 05:32:33 PM (IST) Neemuch, Neemuch, Madhya Pradesh, India

8 पीडि़तों से पहली किस्त के रूप में लूटे साढ़े पांच लाख रुपए

जावरा/रतलाम। प्रदेश में लगातार बढ़ती बैराजगारों की मार छेल रहे युवाओं के साथ सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर भोपाल के एक दंपत्ती ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर जावरा, रतलाम, मंदसौर और नागदा के करीब ८ युवकों के साथ लाखो रूपए की धोखाधड़ी करने का मामला सामने आया है। आवेदन पर धोखाधड़ी करने वाले पति-पत्नी व उनके साथियों पर प्रकरण दर्ज करते हुए मामले को जांच में लिया।
मामला 2017 से चल रहा है, नौकरी दिलाने वाले दंपती से सभी युवा लगातार फोन पर सम्पर्क में थे, लेकिन लम्बा समय होने के बाद भी जब युवकों को जॉक का कॉल लेटर नहीं मिला तो सभी युवा दंपती के निवास भोपाल जा पहुंचे, लेकिन वहां पर ताला लगा देख और दंपती का मोबाइल भी स्वीच ऑफ होने पर युवा जावरा पहुंचे और सीधे शहर थाने पर उनके साथ हुई धोखाधड़ी का आवेदन दिया। पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर मामले को विवेचना में लिया, संभवत: गुरुवार को मामले का खुलासा हो सकता है।
शहर थाना प्रभारी अभिनव शुक्ला ने बताया कि सालिग्राम पिता मायाराम धाकड़, इमरान पिता इशाद, दिलीप पिता गोवर्धन, दिनेश पिता मन्नालाल माली सभी निवासी जावरा, विनोद पिता रामचन्द्र कटारिया, निलेश पिता सीताराम निवासी रतलाम, शादाब पिता एहमद हुसैन निवासी मंदसौर तथा मुकेश पिता किशन भाटिया निवासी नागदा ने शहर थाने पर आवेदन दिया, युवाओं ने बताया कि भोपाल निवासी आशा पति पीसी बांधेवाल तथा पीसी बांधेवाल जो कि पति पत्नी है। साथी गोपाल परिहार निवासी इंदौर तथा रणजीसिंह निवासी भोपाल के साथ मिलकर सरकारी नौकरी दिलाने का झांसा देकर लाखों रुपए लूट लिए। युवक से तीन लाख में सौदा तय हुआ था।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned