8 लेन एक्सप्रेस वे के लिए इस जिले के दो गांव और जुड़े

8 लेन एक्सप्रेस वे के लिए इस जिले के दो गांव और जुड़े

Sourabh Pathak | Publish: Sep, 04 2019 01:13:52 PM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

Delhi-Mumbai 8 lane expressway - रतलाम जिले के तीन गांव के किसानों को बंटा, रतलाम, मंदसौर और झाबुआ के 6525 किसानों को मिलेगा 600 करोड़ का मुआवजा

रतलाम। Delhi-Mumbai 8 lane expressway रतलाम-मंदसौर और झाबुआ से होकर गुजरने वाले Delhi-Mumbai 8 lane expressway में अब रतलाम जिले में दो गांव और जुड़ रहे है। इसे लेकर सर्वे की प्रक्रिया पूरी होने के बाद अब इन्हे शामिल करने की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। रतलाम जिले के ग्रामीण क्षेत्र में मेवासा और भदवासा गांव को इसके तहत शामिल किया गया है। वहीं दूसरी और भूमि अधिग्रहण के बाद अब मुआवजा वितरण की शुरुआत भी हो गई है। इसके साथ ही कुछ किसानों ने मुआवजा कम दिए जाने का आरोप लगाते हुए मुआवजा चार गुना वितरीत करने की मांग की। तीनों ही जिलों में मुआवजे के नाम पर साढे़ 6 हजार से अधिक किसानों को 600 का मुआवजा वितरीत होना है, जिसकी प्रक्रिया के तहत रतलाम ग्रामीण क्षेत्र के तीन गांवों में वितरण की कार्रवाई भी पूरी हो चुकी है।

रतलाम-मंदसौर और झाबुआें से होकर गुजरने वाला यह 8 लेन एक्सप्रेस वे 244.5 किमी करीब लंबा है। इसके निर्माण के दौरान इन तीन जिलों के 6525 किसानों की भूमि अधिग्रहित होना है, जिसकी नपती होने के साथ ही अधिग्रहण से जुड़ी कार्रवाई भी शुरू हो चुकी है। इतना ही नहीं रतलाम जिले ग्रामीण विकासखंड में तीन गांव बड़ौदा, नयापुरा और कांडरवासा के किसानों के बैंक खातों में मुआवजा राशि भी आ चुकी है। ग्रामीण क्षेत्र के लिए एक अरब 11 करोड़, 97 लाख, 96 हजार, 913 रुपए के दो अवार्ड जारी कर दिए गए है।

दो और गांव 8 लेन से जुड़े
8 लेन से रतलाम ग्रामीण के पहले 13 गांव जुड़े थे, जिसके तहत 27.2 किमी रोड बनना है और यहां की 273 हैक्टेयर भूमि अधिग्रहित की है, जिसके चलते 800 किसान सीधे तौर पर प्रभावित हुए है। इन किसानों को अब तक दो करोड़ 80 लाख रुपए बांटे जा चुके है। वर्तमान में दो और गांव मेवासा व भदवासा को भी 8 लेन से जोडऩे की अनुमति मिल गई है। एेसे में अब इन दोनों गांव में कितने किसानों की कितनी भूमि अधिग्रहित की जाना है और उसका कितना मुआवजा वितरीत करना है, इसका पता अब चलेगा।

दो नहीं चार गुना चाहिए
8 लेन से प्रभावित किसानों ने हालही में जावरा जनपद अध्यक्ष रामविलास धाकड़ के नेतृत्व में मंदसौर में प्रदर्शन किया था। इसमें मुख्य रूप से किसानों ने मुआवजे की राशि दोगुने से चार गुना करने की मांग की है। उनकी माने तो गुजरात व छत्तीगढ़ सहित अन्य राज्यों में मुआवजा राशि जब अधिक है तो मप्र सरकार दोगुना तक ही मुआवजा देने में सीमित क्यो है। वहीं नेशनल हाइवे से जुड़े अधिकारी देशभर में उनके द्वारा बनाए जाने वाले हाइवे को लेकर एक समान मुआवजा राशि दिए जाने की बात कह रहे है।

रतलाम-झाबुआ के लिए 140 करोड़
फैक्ट फाइल
3 - जिले
6525 - किसान
400 - करोड़ मुआवजा बंटेगा
200 - करोड़ परिसंपत्ति के बंटेंगे

-------
जिला - किमी - किसान
रतलाम - 91.1 - 3015
मंदसौर - 102.8 - 2708
झाबुआ - 50.5 - 802
कुल - 244.5 - 6525

-------

मुआवजा बांटना शुरू
- जितनी भूमि की जरूरत थी, उसके हिसाब से प्रकरण बनाकर हमारी और से राज्य सरकार को मुआवजे की राशि जमा करा दी गई है। उनके द्वारा मुआवजा वितरण का काम भी शुरू कर दिया गया है। मुआवजा वितरण को लेकर नेशनल हाईवे की देशभर में एक जैसी प्रक्रिया चलती है।
केपीएस चौहान, प्रोजेक्ट डायरेक्टर

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned