आज डेमू से ना करें सफर, ४.३० घंटे का मेगा ब्लॉक

नीमच से आगे नहीं जाएगी डेमू

By: harinath dwivedi

Published: 04 Jan 2018, 03:00 AM IST

रतलाम। अब तक मानवरहित रेल फाटक को समाप्त करने वाले मंडल ने इससे एक कदम आगे कदम बढ़ाया है। अब मंडल के अधिकारी कर्व समाप्त करने की दिशा में काम कर रहे है। इसके अंतर्गत गुरुवार को मंडल के नीमच-चित्तौडग़ढ़ सेक्शन में रेलवे कर्व को समाप्त कर पटरी सीधी डालने का काम करेगा। इससे कर्व की वजह से जो ट्रेन की गति ८५ किमी की होती हे, वह बढ़कर ११० किमी प्रतिघंटे की रफ्तार की हो जाएगी। इसके चलते गुरुवार को रतलाम से चित्तौडग़ढ़ जाने वाली डेमू नीमच से वापस आएगी।

सुबह १०.३० पर चलती है डेमू
असल में ट्रेन नंबर ७९३०३ रतलाम चित्तौडग़ढ़ डेमू ट्रेन सुबह १०.३० बजे चलती है। यहां से ट्रेन अनेक रेलवे स्टेशन पर रुककर नीमच दोपहर १.३३ बजे पहुंचती है। यहां पर २ मिनट का ठहराव करके ये ट्रेन अपने अगले पड़ाव के लिए जब निकलती है तो अगला स्टेशन ही बिसालवास-कालन आता है। करीब १० किमी के इन दो स्टेशन के रास्ते में ५ किमी लंबा कर्व (मौड़) आता है। इस कर्व को समाप्त करने की दिशा में रेलवे ने कदम उठाया है।

ये होगा बड़ा लाभ यात्रियों को
असल में इस काम से न सिर्फ रेलवे को बल्कि यात्रियों को भी बड़ा लाभ होगा। अब तक इस सेक्शन मे कर्व की वजह से ट्रेन ८०-८५ किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चलती है। ये गति कर्व समाप्त होने के बाद १००-११० किमी प्रतिघंटे की हो जाएगी। इससे न सिर्फ डेमू बल्कि अन्य ट्रेन भी कम समय में यात्रियों को अपने गंतव्य तक पहुंचाएगी।

डीआरएम ने की थी पहल
गत माह डीआरएम आरएन सुनकर ने परिचालन, वाणिज्य, इंजीनियर व संकेत विभाग सहित अन्य विभाग के आला अधिकारियों के साथ मिलकर रतलाम-नीमच-चित्तौडग़ढ़ सेक्शन का निरीक्षण किया था। डीआरएम सुनकर ने ये कर्व देखा था। इसके बाद इस कर्व को समाप्त करके सीधी पटरी की संभावनाएं खंगाली गई।

इन गाडिय़ों को निरस्त/टर्मिनेट
ट्रेन नं. ७९३०३ रतलाम चित्तौडग़ढ़ डेमू को नीमम पर शॉर्ट टर्मिनेट किया या है।
७९३०४ चित्तौडग़ढ़ रतलाम डेमू को चित्तौडग़ढ़ नीमच के बीच निरस्त किया है।
१९३२९ वीर भूमि एक्स. रतलाम बिलसल वास कला स्टेशन पर 1.30 घंटे रेगुलेट होगी।
२९०२० मेरठ कैंट लिंक एक्सप्रेस चित्तौडग़ढ़ को शॉट टिर्मिनेट किया है।
२९०१९-२० मंदसौर मेरठ कैंट एक्स. चित्तौढग़ढ़ मंदसौर में निरस्त रहेगी।

demu train mega block
Show More
harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned