ड्राय डे के दिन शराब बेचने को लेकर झगड़े, हवाई फायर से फैलाई दहशत

शराब बेचने पर प्रतिबंध होने के बावजूद नामली थाना क्षेत्र के बड़ोदिया में दो लोगों में अवैध शराब बेचने को लेकर विवाद

By: harinath dwivedi

Published: 26 Jan 2018, 03:10 PM IST

रतलाम। नामली थाना क्षेत्र के बड़ोदिया गांव में गणतंत्र दिवस पर शराब बेचने पर प्रतिबंध होने के बावजूद दो लोगों में अवैध शराब बेचने को लेकर विवाद हो गया। विवाद इतना बड़ा कि सूर्यपाल सिंह नाम के एक व्यक्ति ने हवाई फायर कर दिया। फायरिंग की आवाज से गांव में हड़कंप मच गया। ग्रामीणों की सूचना पर नामली थाने से और बांगरोद चौकी से पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

 

गांव में अवैध शराब कारोबारियों के बीच विवाद के बाद फायरिंग का यह मामला सामने आया है। अवैध रूप से शराब बेचने को लेकर चल रहे विवाद के बाद दो पक्ष आपस में झगड़ पड़े और एक पक्ष ने फायर कर गांव में दहशत फैलाने का प्रयास किया। पुलिस के अनुसार नामली थाना क्षेत्र के बड़ोदिया निवासी कैलाश पिता मदनलाल बागरी की बड़ोदिया फंटे पर चाय-नाश्ते की दुकान चलाता है। चाय-नाश्ते की दुकान की वजह से उसकी दोस्ती नगरा निवासी कुंदन पिता विक्रमसिंह से हो गई थी। पुलिस सूत्र बताते हैं कि दोस्ती होने के नाते कुंदन सिंह उस पर दबाव बना रहा है कि वह उसकी शराब उसके गांव में बेचे। इस दबाव में कैलाश नहीं आया और उसने शराब बेचने से संभवत: इनकार कर दिया। इसी बात को लेकर बीते गुरुवार को कैलाश के साथ कुंदन ने नगरा में मारपीट कर दी थी। दूसरे दिन भी 26 जनवरी को दोपहर को कुंदन ने गांव में पहुंचकर कैलाश के साथ मारपीट कर मारपीट की और हवाई फायर कर उसे धमकाया।

 

पूर्व में बेचता था शराब

पुलिस बताती है कि बड़ोदिया निवासी कैलाश पूर्व में अवैध शराब बेचने का कार्य करता रहा है। वह इसी कारण पूरे क्षेत्र में लोगों की नजरों में था कि शराब का अवैध कारोबार करता है। शराब बेचने की जानकारी मिलने और आए दिन चाय की दुकान पर मुलाकात की वजह से कैलाश की दोस्ती नगरा निवासी कुंदन से हुई थी। वह भी शराब के अवैध कारोबार को आगे बढ़ाना चाहता था।

ये भी थे आरोपी के साथ

पुलिस ने बताया मारपीट के दौरान कुंदन के साथ उसके साथी बडोदिया निवासी सूर्यपाल सिंह पिता मदन सिंह, गोविंदसिंह पिता अनूप सिंह, राजेंद्र सिंह पिता सरदार सिंह, देवेंद्र सिंह पिता सरदार सिंह, भोला पिता गोविंद भी शामिल थे। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले को शांत करते हुए सभी आरोपियों के खिलाफ धारा 307 और एससी-एसटी एक्ट में प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned