सोलर एनर्जी वाला रतलाम का पहला स्कूल बना नवीन कन्या उमावि

सोलर एनर्जी वाला रतलाम का पहला स्कूल बना नवीन कन्या उमावि

kamal jadhav | Updated: 18 Jul 2019, 10:53:13 AM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

सोलर एनर्जी वाला रतलाम का पहला स्कूल बना नवीन कन्या उमावि

रतलाम।आनंद कॉलोनी स्थित नवीन कन्या उमावि जिले में सोलर प्लांट से बिजली लेने वाला पहला स्कूल बन गया है। सोलर प्लांट लगकर तैयार हो चुका है और इससे बिजली की सप्लाई भी स्कूल में शुरू हो चुकी है। पांच किलोवाट की क्षमता वाला यह सोलर प्लांट केंद्र सरकार के नवीन एवं नवीनीकरण ऊर्जा मंत्रालय के सहयोग से मप्र ऊर्जा विकास निगम के माध्यम से स्कूल में लगाया गया है। स्कूल की प्राचार्य ममता अग्रवाल ने बताया इससे न केवल बिजली की बचत होगी वरन स्कूल पर पडऩे वाला बिजली बिल का भार भी कम होगा।

शहर के छह स्कूलों में लगना है प्लांट
मप्र ऊर्जा विकास निगम की तरफ से शहर के सभी छह हायर सेकंडरी स्कूलों का चयन इसके लिए हुआ था। शहर के पांच में पांच-पांच किलोवाट और एक स्कूल उत्कृष्ट उमावि में छह किलोवाट का सोलर प्लांट लगाया जाना है। इसकी शुरुआत नवीन कन्या उमावि से होकर यह चालू हो चुका है। नवीन कन्या उमावि के अलावा अन्य स्कूलों में महारानी लक्ष्मीबाई कन्या उमावि, जवाहर उमावि, विनोबा हायर सेकंडरी, माणकचौक उमावि और उत्कृष्ट उमाव हैं जिनमें यह प्लांट लगना है।

हर साल हजारों रुपयों की बचत
हायर सेकंडरी स्कूलों में काफी संख्या में कमरे, लेबोरेटरी और अन्य संसाधन होने से हर माह दो से तीन हजार रुपयों का बिजली का बिल आता रहा है। ऐसे में हर साल २० से ३० हजार रुपए का बिजली बिल इन स्कूलों को बिजली के नाम पर ही भरना पड़ता रहा है। शहर के छहों स्कूलों की बात की जाए तो इस मान से एक लाख रुपए से ज्यादा का सालाना बिजली बिल का खर्च बचना तय है। नवीन कन्या उमावि में प्लांट लगाने के बाद ठेकेदार कंपनी ने शहर के दूसरे स्कूल में काम शुरू किया है।
काफी बचत होगी बिजली बिल की
स्कूल में सोलर प्लांट लग चुका है और इसका कनेक्शन भी ठेकेदार कंपनी के कर्मचारी कर गए हैं। यह अच्छी पहल है जिससे स्कूलों में बिजली की बचत तो होगी ही शासन की राशि भी बचेगी। पांच किलोवाट का सोलर प्लांट स्कूल में लगाया गया है।
ममता अग्रवाल, प्राचार्य नवीन कन्या उमावि, रतलाम

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned