देखें VIDEO : एक दिन में चार प्रदर्शन, मुकदमा सिर्फ कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर

कोरोना वायरस व लगे हुए लॉकडाउन के बाद अब शहर धीरे धीरे रफ्तार पकड़ रहा है। इन सब के बीच सोमवार को शहर में चार अलग - अलग संगठन ने प्रदर्शन, धरना व नारेबाजी की। इसमे प्रशासन ने कांग्रेस के प्रदर्शन में अपने कार्य की रफ्तार दिखाते हुए मुकदमा कार्यकर्ताओं पर दर्ज कर लिया। इनके अलावा रेलवे गार्ड, वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन व वन विभाग के प्रदर्शन पर फिलहाल कार्रवाई नहीं की गई है।

By: Ashish Pathak

Published: 03 Jun 2020, 09:32 AM IST

रतलाम. कोरोना वायरस व लगे हुए लॉकडाउन के बाद अब शहर धीरे धीरे रफ्तार पकड़ रहा है। इन सब के बीच सोमवार को शहर में चार अलग - अलग संगठन ने प्रदर्शन, धरना व नारेबाजी की। इसमे प्रशासन ने कांग्रेस के प्रदर्शन में अपने कार्य की रफ्तार दिखाते हुए मुकदमा कार्यकर्ताओं पर दर्ज कर लिया। इनके अलावा रेलवे गार्ड, वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन व वन विभाग के प्रदर्शन पर फिलहाल कार्रवाई नहीं की गई है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रशासन की नीयत पर अब सवाल उठा दिए है।

इस दिन से बदलेगा आपके शहर में वेदर, होगी झमाझम बारिश

आनंद कॉलोनी से काजीपुरा रोड की समस्या दूर नहीं होने से नाराज निगम नेता प्रतिपक्ष रही यास्मीन शैरानी क्षेत्र के लोगों के साथ मंगलवार सुबह कीचड़ से पटी सड़क पर धरना देकर बैठ गई। सूचना पुलिस, प्रशासन और नगर निगम के अधिकारियों को मिली तो शेरानी को उठाने प्रयास करने लगे लेकिन वह अपनी बात पर अड़ी रही। काफी देर चले चर्चा के दौर के बाद नगर निगम के सिटी इंजीनियर मौके पर पहुंचे और तत्काल सड़क की मरम्मत का आश्वासन दिया जिसके बाद शेरानी धरने से उठी। उसके बाद दोपहर में निगम ने यहां पर जर्जर सड़क की मरम्मत का काम भी शुरू करा दिया। प्रदर्शन को लेकर स्टेशन रोड थाना पुलिस ने एसडीएम के प्रतिवेदन पर 188 के उल्लंघन को लेकर कायमी की है। साथ ही निगम में सोमवार को प्रदर्शन के मामले में शहर कांग्रेस अध्यक्ष महेंद्र कटारिया के खिलाफ भी कायमी की।

रेलवे का तोहफा : रेलवे ने किया टिकट आरक्षण के नियम में बदलाव, 24 मई से होंगे लागू

देखें VIDEO : एक दिन में चार प्रदर्शन, मुकदमा सिर्फ कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर

डीआरएम कार्यालय में प्रदर्शन

आठ सूत्री मांग को लेकर वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन ने ६ जून तक मांग सप्ताह चलाते हुए मंगलवार को मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय व रेलवे स्टेशन पर जोरदार प्रदर्शन किया। सुबह करीब ९ बजे प्रदर्शन की शुरुआत सबसे पहले रेलवे स्टेशन के इंजीनियरिंग कार्यालय के बाहर गेट से शुरू हुई। यहां पर करीब एक घंटे तक प्रदर्शन करने के बाद कर्मचारी मंडल कार्यालय आए। यूनियन प्रवक्ता हरीश चांदवानी ने बताया कि मंडल मंत्री एसबी श्रीवास्तव ने संबोधन में कहा कि रेल कर्मचारी विपदा की घड़ी मंे भी सरकार के साथ कंधा से कंधा मिलाकर काम कर रहा है, लेकिन सरकार कर्मचारियों के हितों की अनदेखी कर रही है। इसको बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सुनील चतुर्वेदी, रंजीता वैष्णव, पल्लव उपाध्याय, कपिल साहू, कपिल गुर्जर, सुशांत सक्सेना सहित कई कर्मचारी उपस्थित रहे।

200 ट्रेन BREAKING : रेलवे ने जारी किया टाइम टेबल

देखें VIDEO : एक दिन में चार प्रदर्शन, मुकदमा सिर्फ कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर

वन विभाग में प्रदर्शन हुआ
मध्यप्रदेश वन कर्मचारी संघ रतलाम द्वारा सामान्य वनमंडल के वन परिक्षेत्र में पदस्थ अधिकारी वंदना ठाकुर के विरुद्ध वन परिक्षेत्र अंतर्गत अधिनस्थ कर्मचारियों को प्रताडि़त करने व वनअपराध प्रकरणों में अवैध रूप से राशि की मांग करने सहित तानाशाह पूर्ण रवैया का आरोप लगाते हुए मंगलवार को प्रदर्शन किया गया। संगठन जिलाध्यक्ष कमलङ्क्षसह देवड़ा ने बताया कि पूर्व में भी उक्त अधिकारी के खिलाफ कई बार मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन दिए है, लेकिन लेकिन कार्रवाई नहीं होती है। मंगलवार को प्रदर्शन किया गया व ज्ञापन दिया गया। इस बार अगर कार्रवाई नहीं हुई तो कर्मचारी कठोर कदम उठाने को बाध्य होंगे। देवड़ा के अनुसार पूर्व में भी उक्त अधिकारी द्वारा की गई आर्थिक अनियमितता की जांच की मांग का भरोसा दिया गया, लेकिन अब तक यह कार्य नहीं हुआ है। एक पखवाडे़ में उक्त अधिकारी को नहीं हटाया गया तो कर्मचारी सामूहिक अवकाश पर चले जाएंगे।

मानसून के पहले ही शुरू हो जाएगी भारी बारीश

देखें VIDEO : एक दिन में चार प्रदर्शन, मुकदमा सिर्फ कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर
IMAGE CREDIT: patrika

रेलवे गार्ड का प्रदर्शन
रेल मंडल के रतलाम सहित विभिन्न रेलवे स्टेशन पर विभिन्न मांग को लेकर गार्ड काउंसिल के सदस्यों ने मंगलवार को जोरदार प्रदर्शन किया। रतलाम रेलवे स्टेशन पर लॉबी के बाहर प्रदर्शन किया गया। ऑल इंडिया गार्ड कौसिंल के मंडल मंत्री केसी गोयल ने बताया कि रेल प्रशासन द्वारा रेलवे के गार्डो का अन्य संवर्ग में विलय करने का निर्णय लिया है। इसी के विरोध में रेल मंडल में मुख्यालय सहित चित्तौडग़ढ़, उज्जैन, इंदौर, डॉ. अंबेडकर नगर आदि स्थान पर विरोध किया गया। प्रदर्शन के बाद रेलवे बोर्ड के अधिकारियों के नाम का ज्ञापन रेल मंडल कार्यालय में दिया गया। प्रदर्शन के दौरान मंडल मंत्री गोयल के अलावा वेद प्रकाश शर्मा आलोक पाटिल आदि उपस्थित थे।

हो गया निर्णय, इस दिन से चलेगी ट्रेन, यह रहेगा तरीका

एक मई से चलेगी ट्रेन, इन स्टेशन पर होगा ठहराव

VIDEO यात्री ट्रेन चलाने से पहले रेलवे ने जारी की पांच शर्ते

हो गया निर्णय, इस दिन से चलेगी ट्रेन, यह रहेगा तरीका

रेलवे का तोहफा : ट्रेन में वेटिंग का टिकट होगा कंफर्म, बस करना होगा इस नंबर पर एक वाट्सएप

congress party
Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned