संभाग के पहले शासकीय मेडिकल कॉलेज की प्यास बुझाएगा गंगासागर

संभाग के पहले शासकीय मेडिकल कॉलेज की प्यास बुझाएगा गंगासागर

Sachin Trivedi | Updated: 23 Jun 2019, 01:32:07 PM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

मेडिकल कॉलेज को पर्याप्त जलापूर्ति हो सकेगी

रतलाम. उज्जैन संभाग के पहले स्वशासी मेडिकल कॉलेज को आगामी गर्मियों में पानी के संकट से जूझना नहीं पड़ेगा। रतलाम नगर निगम और प्रशासन इस दिशा में प्लान पर काम कर रहा है। शहर विधायक चेतन्य काश्यप के प्रस्ताव पर अब गंगसागर टंकी से मेडिकल कॉलेज को पानी की आपूर्ति की जाएगी। फिलहाल कॉलेज को निगम सीधे मुख्य पाइप लाइन से पानी देता है, लेकिन कॉलेज की मांग के अनुसार पानी की आपूर्ति नहीं होती है। कॉलेज की मांग 2 लाख लीटर पानी रोजाना की है, जबकि निगम एक लाख लीटर देता है। मांग और आपूर्ति के बीच अंतर गहराने के कारण कॉलेज में जलसंकट गहराता है।

एक माह पूर्व ही विधायक ने दिया प्रस्ताव
विधायक चेतन्य काश्यप और कलेक्टर रतलाम रुचिका चौहान के बीच चर्चा में बताया गया कि मेडिकल कॉलेज में जल समस्या के समाधान को लेकर काश्यप ने कहा कि गंगासागर टंकी से मेडिकल कॉलेज को पानी दिया जा सकता है। नगर निगम को इस संबंध में वे एक माह पूर्व ही बता चुके है और वह इस दिशा में कार्यवाही कर रहा है। इससे मेडिकल कॉलेज को पर्याप्त जलापूर्ति हो सकेंगे। कलेक्टर ने इस पर सहमति जताते हुए आश्वस्त किया कि निगम से जल्द ही जलापूर्ति की कार्यवाही कराई जाएगी।

कई अन्य अहम विषयों पर भी की चर्चा
विधायक चेतन्य काश्यप ने आचार संहिता समाप्ति के बाद कलेक्टर रूचिका चौहान से भेंट कर डोसीगांव में आवास आवंटन, मेडिकल कॉलेज में जल व्यवस्था और श्रमोदय आवासीय स्कूल के संबंध में चर्चा की। उन्होंने शिवशंकर नगर में निर्मित हो चुके 84 आवासों का आवंटन जल्द करने का आग्रह किया। कलेक्टर चौहान को बताया गया कि शिवशंकर नगर रहवासियों मेें 400 से अधिक हितग्राहियों को आवास की पात्रता दी गई है। डोसीगांव में 84 आवास निर्मित हो चुके है। पात्र हितग्राहियों में से जिन हितग्राहियों ने चेतन्य काश्यप फाउण्डेशन के सहयोग से नगर निगम में पूर्ण राशि जमा कर दी है और जो बैंकों की कार्यवाही पूर्ण कर चुके है, उन्हें जल्द से जल्द आवास आवंटित किए जाए।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned