scriptGaurav Kalash Yatra starts from Bajna with the praise of Tantya Mama | टंट्या मामा के गुणगान के साथ बाजना से गौरव कलश यात्रा प्रारंभ | Patrika News

टंट्या मामा के गुणगान के साथ बाजना से गौरव कलश यात्रा प्रारंभ

क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या मामा के गुणगान के साथ सोमवार को रतलाम जिले के बाजना से गौरव कलश यात्रा प्रारंभ हुई।

रतलाम

Updated: November 29, 2021 06:10:22 pm

रतलाम. क्रांतिसूर्य जननायक टंट्या मामा के गुणगान के साथ सोमवार को रतलाम जिले के बाजना से गौरव कलश यात्रा प्रारंभ हुई। इस अवसर पर बड़ी संख्या में आए हुए व्यक्तियों द्वारा यात्रा में शामिल होकर स्वतंत्रता संग्राम में वीर टंट्या मामा के योगदान को व्यक्त किया गया।
Tantya Mama
Tantya Mama
कार्यक्रम में मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद के उपाध्यक्ष विभाष उपाध्याय, विधायक रतलाम चेतन्य काश्यप, विधायक रतलाम ग्रामीण दिलीप मकवाना, कलसिंह भाबर, पूर्व विधायक संगीता चारेल, डॉ. विजय चारेल, जनपद अध्यक्ष रामवर देवदा, मोतीलाल निनामा, शंभूसिंह गणावा, नारायण मईडा, अपर कलेक्टर एमएल आर्य, सीईओ जिला पंचायत जमुना भिड़े, एसडीएम कामिनी ठाकुर, जनपद सीईओ विजय गुप्ता, जन अभियान परिषद के जिला समन्वयक रत्नेश विजयवर्गीय बड़ी संख्या में जनजाति बंधु, ग्रामीणजन आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम में वीर टंट्या मामा के चित्र पर माल्यार्पण कर शुभारंभ किया गया। यात्रा में रथों पर सवार होकर सांस्कृतिक कलाकार दलों द्वारा वीर टंट्या मामा तथा अन्य जननायको की गाथा सुनाई जा रही है।
बाजना में आयोजित कार्यक्रम में संबोधित करते हुए विभाष उपाध्याय ने कहा कि वीर टंट्या मामा हमारे देश का गौरव है। स्वतंत्रता के संग्राम में उनका योगदान अद्भुत है। अंग्रेजों के विरुद्ध उनके द्वारा लड़ाई शौर्य और साहस की मिसाल है। उपाध्याय ने टंट्या मामा के जीवन पर प्रकाश डालते हुए ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक पृष्ठभूमि की जानकारी भी दी। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा यात्रा आयोजन के साथ सर्वांगीण विकास के लिए दृढ़ संकल्पित होकर कार्य किया जा रहा है। प्रदेश में स्कूल, सड़क, पेयजल, आवास, शौचालय, शिक्षा, सिंचाई जैसे सभी बिंदुओं पर कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि हमें सौभाग्य से गौरव यात्रा में शामिल होने का अवसर मिला है। 4 दिसंबर को पाताल पानी में होने वाले समापन समारोह में भी अधिकाधिक लोग सपरिवार पहुंचे। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान द्वारा गौरवशाली आयोजन किया जा रहा है।
कलसिंह भाबर ने अपने संबोधन में कहा कि वीर टंट्या मामा हमारे समाज के गौरव हैं। अंग्रेजों से लड़ाई में उनका अद्भुत योगदान है। उन्होंने अंग्रेजों के विरुद्ध लड़ाई का बिगुल बजाकर समाज को जागृत किया। आज ऐसे शूरवीर योद्धा का स्मरण किया जा रहा है। श्री कल सिंह भाबर ने जनजाति समाज की ऐतिहासिक, सांस्कृतिक पृष्ठभूमि पर प्रकाश डाला और देश के विकास में समाज के योगदान की विस्तृत जानकारी अपने उद्बोधन में दी।रतलाम शहर विधायक चैतन्य काश्यप ने अपने संबोधन में कहा कि वीर टंट्या मामा के शौर्य और साहस का गुणगान करके हम गौरवान्वित हैं। भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में उनका योगदान सदैव स्मरणीय है। वे मालवा निमाड़ तथा अन्य क्षेत्रों के सम्माननीय जननायक हैं। हमें चाहिए कि हम सभी भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के नायकों का सदैव स्मरण करते रहे।
विधायक दिलीप मकवाना ने अपने संबोधन में कहा कि मध्यप्रदेश सरकार द्वारा ऐतिहासिक कार्य किया जा रहा है। अभी विगत दिनों जनजाति गौरव दिवस मनाया गया था और अब वीर टंट्या मामा को स्मरण करते हुए गौरव कलश यात्रा आयोजित की जा रही है। जनजाति समाज के विकास के लिए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान दृढ़ संकल्पित और कृत संकल्पित है। जनजाति समाज के सर्वांगीण उत्थान का कार्य मध्यप्रदेश में किया जा रहा है। मकवाना ने 4 दिसंबर को पाताल पानी में आयोजित समापन समारोह में बड़ी संख्या में पहुंचने की अपील की। कार्यक्रम में राजेंद्रसिंह लुनेरा ने अपने संबोधन में वीर टंट्या मामा सहित देश के आदिवासी जननायकों के व्यक्तित्व एवं कृतित्व पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में जनजाति बंधुओं के विकास और उत्थान के लिए सदैव कृत संकल्पित है। इसके लिए कई योजनाएं लागू की गई हैं जिनका लाभ प्राप्त हो रहा है। कार्यक्रम में संगीता चारेल, नारायण मईडा, डॉ. विजय चारेल ने भी संबोधित किया।
बाजना से चलकर गौरव कलश यात्रा शिवगढ़ होती हुई सैलाना पहुंची। स्थान-स्थान पर यात्रा का भव्य स्वागत, अभिनंदन किया गया। यात्रा पर पुष्पवर्षा की गई। बाजना में यात्रा के शुभारंभ अवसर पर जलगांव (महाराष्ट्र) से आए कलाकारों के दल द्वारा जननायक टंट्या मामा के जीवन पर आधारित सांस्कृतिक प्रस्तुति दी गई। स्थानीय आदिवासी कलाकारों द्वारा भी प्रस्तुति दी गई। इस अवसर पर कार्यक्रम परिसर में वीर टंट्या मामा सहित देश के आदिवासी जननायकों की चित्र प्रदर्शनी भी आयोजित की गई जिसको दर्शकों द्वारा सराहा गया।
Tantya Mama
IMAGE CREDIT: patrika

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.