कुर्सी छोड़ जमीन पर बैठ विरोध जताया, नपाध्यक्ष ने नपा के इतिहास का सबसे बड़ा बजट बताया

कुर्सी छोड़ जमीन पर बैठ विरोध जताया, नपाध्यक्ष ने नपा के इतिहास का सबसे बड़ा बजट बताया

By: Akram Khan

Published: 03 Mar 2019, 05:52 PM IST

रतलाम। (जावरा) नगर पालिका परिषद जावरा के इतिहास में अब तक का सबसे बड़ा बजट शनिवार को नपा के नवीन परिषद हॉल में नपाध्यक्ष अनिल दसेड़ा की अध्यक्षता में राजस्व समिति चेयरमैन तेजुब हुसैन ने इस परिषद का अंतिम बजट रखा। सभापति ने सदन में 1 अरब 15 करोड़ 32 लाख 28 हजार 920 रुपए की आय तथा 1 अरब 15 करोड़ 30 लाख 84 हजार 120 रुपए की व्यय का बजट रखा। बजट में 1 लाख 44 हजार 800 रुपए की बचत भी बताई गई है। राजस्व सभापति व नपाध्यक्ष ने इसे शहर विकास का बजट बताया तो नपा उपाध्यक्ष ने आंकड़ों का मायाजाल बताते हुए कहा कि बड़े बजट से विकास नहीं होता है, विकास होता है काम धरातल पर करने से। इधर बीत 15 सालों में भी चौपाटी टंकी नहीं बनने से नाराज हुई भाजपा की सचेतक ने जमीन पर बैठकर अपना विरोध जताया।
शनिवार को दोपहर 2 बजे नगर पालिका परिषद का बजट सम्मेलन नपाध्यक्ष की अध्यक्षता तथा सीएमओ अशोक शर्मा की मौजूदगी में शुरू हुआ। सदन में नपा उपाध्यक्ष पवन सोनी ने कहा कि पीआईसी में बजट का अनुमोदन होने के बाद भी सदन में कॉपी देने पर नाराजगी जताई । नपा उपाध्यक्ष सोनी ने नपाध्यक्ष पर आरोप लगाते हुए कहा कि विधायक डॉ. राजेन्द्र पाण्डेय ने पिलीयाखाल को सोन्दर्यीकरण के लिए प्रयास कर ८ करोड़ रुपए स्वीकृत करवाते हुए १ करोड़ रुपए नपा को दिलवा भी दिए है, लेकिन नपा के जवाबदारों ने पिलीयाखाल सौनदर्यीकरण की डीपीआर में जानबुझ कर कई कमियां रखी, साथ ही उसे उज्जैन के कार्यालय में छीपाते हुए षडयंत्र रचा है, ताकि पीलिया खाल का काम शुरु ना हो सके और भाजपा प्रत्याशी को चुनाव में नुकसान पहुंचाया जा सके।
सदन में जब भाजपा पार्षद दल की सचेतक सुमन मेहता ककहा कि नपाध्यक्ष चौपाटी टंकी को जानबुझकर अटका रहे है, वे पिछली तीन परिषदों से चौपाटी क्षैत्र में पानी की टंकी के लिए लड़ाई लड़ती आ रही है, जब अपनी भी पार्टी की परिषद में अपना काम ना तो बहुत सुनना पड़ता है, वार्ड में उन्है काफी सुनना पड़ता है, नाराज मेहता ने कहा कि जब तक उनका काम नहीं होता है तब तक वे नपा के हर सम्मेलन में जमीन पर बैठेगी और नपा का अन्न जल तक ग्रहण नहीं करेगी। इतना बोलकर सचेतक जमीन पर बैठ गई। नपा उपयंत्री महेश सोनी ने चौपाटी टंकी निर्माण आ रही तकनिकी समस्या बताई, लेकिन सचेतक नहीं मानी, इसके सभी पार्षदों व सीएमओ ने मेहता को उठाने का प्रयास किया लेकिन वे नहीं मानी।
काम १५ दिन, पगार महीने की
नपा नेता प्रतिपक्ष इब्राहिम मंसूरी ने नपा उपाध्यक्ष पवन सोनी की बात का समर्थन करते हुए कहा कि नगर में सफाई व्यवस्था बहुत लचर हो गई है, सफाई कर्मचारी आधे दिन छुट्टी पर रहते है, रजिस्टर चेक करों तो १५ दिन काम होता है और पगार पूरे महिने की जारी हो जाती है। सदन में बजट सम्मेलन की समाप्ती के बाद पुलवामा में शहीद हुए जवानों के साथ ही नपा के पूर्व पार्षद रहे कांग्रेस नेता फजलेहक पठान तथा सामाजिक कार्यकर्ता आबीद लुहार के निधन पर श्रृद्धांजलि अर्पित की गई।

Akram Khan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned