किसान भड़के, गेहूं की बंपर आवक लेकिन मंडी में व्यवस्था नहीं

किसान भड़के, गेहूं की बंपर आवक लेकिन मंडी में व्यवस्था नहीं

By: Akram Khan

Published: 10 Apr 2019, 05:51 PM IST

रतलाम। प्रदेश की आर्दश मंडियों में शुमार जावरा की अरनीयापीथा स्थित कृषि उपज मंडी में इन दिनों गेहंू की बम्पर आवक हो रही है। मंडी में जितनी आवक हो रही है परेशानियां भी उतनी ही हो रही है। करीब पांच से सात दिन तक किसानों को अपनी उपज लेकर मंडी में रहना पड़ रहा है, लेकिन उनकी उपज की निलामी नहीं हो रही है। मंगलवार को भी मंडी में करीब 27 हजार से अधिक की आवक हुई, जिससे फोरलेन पर बने मंडी गेट से लेकर अंत में बने गेहंू अड्डे तक ट्रैक्टर ट्रॉलियों की लाइन लगी रही। इधर जो माल मंडी प्रांगण में पड़ा है, उसकी निलामी नहीं होने पर किसानों ने नाराजगी जताते हुए मंडी कार्यालय पहुंचकर नारेबाजी की और पहले उनके ढेर निलाम करने की मांग करते हुए कर्मचारियों को चेतावनी दी की यदि उनकी उपज पहले निलाम नहीं हुई तो वे पथराव करेंगे।
अरनीयापीथा मंडी में पिछले सात दिनों से पड़े किसानों की उपज निलाम नहीं होने के चलते हुए विवाद सूचना पर औद्योगिक क्षेत्र थाना प्रभारी बीएल सौलंकी तथा हुसैन टैकरी चौकी प्रभारी मधुरा राठौर दल बल सहित मौके पर पहुंचे और किसानों से चर्चा की। चर्चा के दौरान किसानों ने बताया कि वे गरीब किसान है, उनके पास खुद के ट्रैक्टर नहीं है, इसलिए मैदान में गेहंू खाली कर ट्रैक्टर ट्रॉली को रवाना कर दिया है, लेकिन मंडी प्रशासन पहले ट्रॉली का निलाम करवा रहे है। ऐसे में उन्हे लम्बा इंतजार करना पड़ रहा है।

नहीं किया फोन रिसीव
मंडी में पहुंचे पुलिस अधिकारियों ने किसानों से चर्चा कर पहले उनके ढेर निलाम करने की बात कहीं। इस पर थाना प्रभारी ने मंडी कर्मचारी अजय उपाध्याय से कहा कि पहले सात दिन से पड़े किसानों के ढेर निलाम करवाए, उसके बाद अन्य निलामी करें। इधर जब विवाद चल रहा था, उस दौरान मंडी में ना तो मंडी सचिव मौजूद थे और ना ही भारसाधक अधिकारी, थाना प्रभारी सौलंकी ने कई बार मंडी सचिव मुनिया को फोन लगाया, लेकिन उन्होने फोन तक रिसीव नहीं किया। थाना प्रभारी ने मंडी कर्मचारियों को पहले ढेर निलाम करने के लिए कहा, इधर किसानों ने मंडी कर्मचारी से कहा कि यदि उन्होने पहले उनके ढेर निलाम नहीं किए तो वे पथराव पर उतर आएंगे, जिसकी जवाबदारी मंडी प्रशासन की रहेगी। इधर मामला शांत होने के बाद एसडीएम व भारसाधक अधिकारी एमएल आर्य मंडी पहुंचे और व्यवस्थाओं में परिवर्तन किया।

पहले ट्रॉली को करें नीलाम, बाद में ढेर
शाम को मंडी पहुंचे भारसाधक अधिकारी ने अव्यवस्था ना हो इसके लिए सुबह 10.30 से दोपहर 1.30 बजे तक ट्रॉली में निलाम तथा दोपहर 3 बजे से ढेर निलाम होंगे। वहीं जब तक मंडी प्रांगण में रखा माल पूरी तरह से निलाम ना हो तब तक दूसरी ट्रॉली अंदर नहीं लेने के निर्देश दिए। मंडी में इन दिनों करीब 25 हजार से अधिक बोरी माल आ रहा है, लेकिन प्रतिदिन करीब 15 हजार बोरी माल ही निलाम हो पा रहा है, ऐसे में अगले दिन फिर नया माल आता है, जिससे परेशानी होती है। नई व्यवस्था की है, जिससे परेशानी कम होगी।

Akram Khan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned