30 तुलावटियों को दिखाया बाहर का रास्ता

30 तुलावटियों को दिखाया बाहर का रास्ता

रतलाम। प्रदेश की आदर्श मंडियों में शुमार जावरा की कृषि उपज मंडी में पूर्व मंडी बोर्ड तथा सचिव ने पूर्व लेनदेन व सांठगांठ कर करीब 30 नए तुलावाटियों की भर्ती की थी। जिसका विरोध तुलावटी संघ अध्यक्ष प्रमोद शाकल्य ने करते हुए मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड में याचिका दायर की थी, जिस पर बोर्ड ने मंडी में नए तुलावटियों की भर्ती को नियम विरुद्ध पाते हुए मंडी में निरस्त कर दिया है। साथ ही भविष्य में नए तुलावटियों की आवश्यकता पर आवेदन ऑफ लाइन प्राप्त नहीं किए जाने के आदेश जारी किए है। आदेश के बाद मंडी समिति ने तत्काल सभी 30 तुलावटियों को उनके लाइसेंस व बुक जमा करवाने के सूचना पत्र जारी कर दिए है।

आवेदक प्रमोद शाकल्य अध्यक्ष तुलावटी संघ ने मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड में आवेदन प्रस्तुत किया था। आवेदन में शाकल्य ने बताया कि मंडी समिति ने 30 नवीन तुलावटियों की भर्ती किए जाने का निर्णय लिया था। मंडी समिति का कार्यकाल 2019 में समाप्त हो रहा है, यह जानते हुए मंडी समिति सदस्यों तथा मंडी के जिम्मेदार अधिकारी ने निजी लाभ के लिए 30 नए तुलावटियोंकी नियुक्ति अवैध रुप से करने का प्रयास कर रहे थे।

याचिकाकर्ता को जब यह ज्ञात हुआ कि उक्त सदस्य और अधिकारी एक से दो लाख रुपए प्रति व्यक्ति लेकर नियुक्ति का आश्वसन दे रहे है। जिस पर याचिकाकर्ता ने सूचना के अधिकार के तहत जानकारी मांगी, जो 14 नवम्बर 18 को प्राप्त हुई। जिससे पता लगा कि 29 अगस्त 18 को मंडी में तुलावटियों की संख्या बढ़ाने के लिए उप समिति गठित की गई है। बिना तारिख के नवीन तुलावटी भर्ती के लिए उप समिति प्रतिवेदन की कॉपी भी प्राप्त हुई तो पता चला कि समिति से परीक्षण कर 30 लोगों के नामों की अनुशंसा सहित आवश्यक कागजी कार्रवाई के लिए प्रस्तुत कर दी है। प्रतिवेदन में कोई तारीख नहीं है, ऐसा जानबुझ कर किया गया है। मंडी समिति द्वारा 1 सितम्बर 18 को ऑन लाइन आवेदन प्राप्त करना थे, लेकिन एक भी आवेदन ऑन लाईन नहीं आया और सभी आवेदन ऑफ लाइन ले लिए गए और उन्ही की अनुशंसा उपसमिति द्वारा कर दी गई।

Akram Khan
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned