समाप्त हो गए तिथि के विवाद, अब इस तरह तैयार होंगे हिंदू पंचाग

देशभर के पंचाग निर्माणकर्ताओं ने किया वेबिनार, रतलाम के ज्योतिषी भी हुए शामिल

By: Ashish Pathak

Updated: 03 Aug 2020, 08:51 PM IST

रतलाम. आमतोर पर हमेशा ग्यारस से लेकर पर्व की तिथियों को लेकर अलग-अलग स्थान के पंचाग के अनुसार भेद रहता है। इससे जनमानस भी प्रभावित होता है। अब आने वाले समय में पंचाग में तिथियों को लेकर भेद नहीं होगा। इसकी वजह भारतीय पंचागकर्ताओं ने एक देश एक तिथि के ध्येय को लेकर वेबिनार का आयोजन किया। इसमे रतलाम के पंचागकर्ता व ज्योतिषी भी शामिल हुए।

रेलवे का बड़ा निर्णय, अब गुजरात में नहीं, मध्यप्रदेश में होगा यह टेस्ट

Shree krishna janmashtami 2019 in gwalior mandir

नक्षत्र लोक ज्योतिष विज्ञान शोध संस्थान द्वारा भारतीय पंचांगकर्ताओं की एक वाक्यता हेतु वेबीनार का आयोजन धर्मसभा के रूप में किया। पंडित ओम प्रकाश शर्मा ने बताया कि दंडी स्वामी जोगेश्वर आश्रम का सानिध्य तथा वरिष्ठ ज्योतिषी रमेश भोजराज द्विवेदी की अध्यक्षता में वेबीनार का आयोजन हुआ। इसमे विक्रम संवत 2078 याने की वर्ष 2021 - 2022 में मनाए जाने वाले पर्व, व्रत, त्योहार आदि को लेकर पंचाग अनुसार मतभेद दूर किए गए व एक राय बनाई गई।

रतलाम में फटा कोरोना बम, 11 नए मरीज आए सामने, भाजपा नेता भी हुए संक्रमित

नवरात्रि में 28 मार्च को ऐसे करें विघ्नहर्ता श्रीगणेश का पूजन, बाधाओं से मिलेगी मुक्ति

यह हुए प्रमुख रुप से शामिल

इस वेबिनार में भारत के प्रमुख पंचांगकर्ता विजय त्रिपाठी, मोहन दाते, विद्याधर करंदीकर, सिद्धार्थ शर्मा, विश्वजीत रावल, बालकृष्ण दवे, अशोक शर्मा, विष्णु कुमार शर्मा, नरोत्तम पुजारी, दामोदर कृष्णा, सुमन राजेश मिश्रा, पूरनचंद, अजय व्यास, शशि राजकपूर, रमेश पंड्या, सुरेश गौड, भागीरथ जोशी, रमेश वायगांवकर, जितेंद्र आचार्य सम्मिलत रहे। इस दौरान अभिषेक जोशी ने शास्त्रार्थ विवेचना प्रस्तुत की जिस पर सभी पंचांगकर्ताओं ने अपनी सहमति प्रदान की।

तीस वर्ष बाद रक्षाबंधन पर दस महायोग एक साथ

Gupta Navratri
IMAGE CREDIT: patrika

इस तरह मनेंगे पर्व

1 चैत्र शुक्ल वर्ष प्रतिपदा 13 अप्रैल 2021
2. रामनवमी - 21 अप्रैल 2021
3. अक्षय तृतीया - 14 मई 2021
4. जानकी नवमी - 21 मई 2021
5. गंगादशमी - 20 जून 2021
6. निर्जला एकादशी- 21 जून 2021
7. भड्ल्या नवमी - 18 जुलाई 2021
8. जन्माष्टमी - 30 अगस्त 2021
9. जलझूलनी एकादशी - 17 सितम्बर 2021
10. विजयादशमी - 15 अक्टूबर 2021
11. दीपावली - 4 नवम्बर 2021
12. देवप्रबोधिनी एकादशी - 15 नवम्बर 2021
13. बसंत पंचमी - 5 फरवरी 2022
14.फुलेरा दोज - 04 मार्च 2022
15.होलिका दहन - 17 मार्च 2022
16. शीतला सप्तमी 24 मार्च 2022
17. शीतलाष्टमी - 25 मार्च 2020 को सर्व सम्मति से शास्त्र आधार पर मान्य किया गया।

सेवानिवृत रेल कर्मचारी की झाली तालाब में फिसलने से मौत

भारतीय रेलवे : प्रताडऩा की शिकायत करने वाली महिला का तबादला

Diwali in Bhilwara against Corona
IMAGE CREDIT: Diwali in Bhilwara against Corona
holika dahan
Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned