वैक्सीन नहीं लगवाई तो तनख्वाह के पड़ जाएंगे लाले

अब वैक्सीनेशन कराने पर ही मिलेगा वेतन, सभी को देना होगा वैक्सीनेशन से जुड़ा प्रमाण पत्र

By: sachin trivedi

Published: 23 Jun 2021, 12:42 AM IST

उज्जैन/रतलाम. प्रदेश में जारी वैक्सीनेशन महाअभियान को लक्ष्य तक पहुंचाने के प्रयासों में अब कलेक्टर्स सख्त बूस्टर डोज लगा रहे हैं। महाअभियान के पहले दिन उत्साह से प्रेरित होकर उज्जैन एवं रतलाम के कलेक्टर्स ने अब शासकीय सेवकों के लिए नए निर्देश जारी कर दिए हैं। बिना वैक्सीन वाले सेवकों का वेतन रोका जाएगा। मत स्पष्ट है कि वैक्सीनेशन कराने पर ही जुलाई माह की तनख्वाह जारी होगी। इसके लिए कोषालय में बिल पत्रकों के साथ वैक्सीन लगवाने का प्रमाण पत्र भी प्रमाणिक होने के बाद ही वेतन जारी होगा।

रतलाम मेंं इस तरह नई व्यवस्था
शासकीय दफ्तरों में काम करने वालों के लिए कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम ने वैक्सीन की अनिवार्यता कर दी है। इस संबंध में कलेक्टर ने मंगलवार शाम को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समीक्षा बैठक में निर्देश दिए। कलेक्टर ने सभी आहरण संवितरण अधिकारियों को निर्देशित किया कि उनके कार्यालय के सभी अधिकारी, कर्मचारी वैक्सीनेशन करवाकर कोरोना से सुरक्षित हो जाएं। यदि किसी कार्यालय के कर्मचारियों द्वारा वैक्सीनेशन नहीं करवाया गया है तो उस कार्यालय के अधिकारियों, कर्मचारियों को सैलरी नहीं मिलेगी। सभी डीडीओ इस आशय का प्रमाण पत्र देंगे। कलेक्टर ने यह भी निर्देश दिए कि शादी विवाह आयोजन की अनुमति में एसडीएम यह ध्यान रखें कि सम्मिलित होने वाले सभी मेहमान वैक्सीन लगवा चुके हो अन्यथा परमिशन नहीं दी जाएगी। वैक्सीनेशन अभियान की आगामी दिनों की तैयारियों की समीक्षा भी कलेक्टर द्वारा की गई। शिक्षा विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि शिक्षकों के वैक्सीनेशन के लिए एसडीएम से चर्चा कर कैंप लगवाएं। कलेक्टर ने सीएमएचओ को निर्देशित किया कि कोरोना की तीसरी लहर आने की स्थिति में जिले के शासकीय चिकित्सालयों में बच्चों के उपचार के समुचित प्रबंधन एवं व्यवस्थाओं के लिए विस्तृत प्रतिवेदन प्रस्तुत करें।

patrika
IMAGE CREDIT: patrika

उज्जैन में इस तरह नए निर्देश
शासकीय कर्मचारियों को अब अगले महीने का वेतन पाने के लिए टीका लगवाना जरूरी होगा। जो कर्मचारी टीका नहीं लगवाएंगे, उन्हें जुलाई का वेतन नहीं मिलेगा। कलेक्टर ने इस संबंध में सभी शासकीय विभागों के प्रमुखों को निर्देशित किया है। साथ ही जिला कोषालय अधिकारी को भी सभी जिला अधिकारियों से उनके अधिक कर्मचारियों के वेक्सीनेशन सर्टिफिकेट जमा करवाने का कहा है। टीकाकरण की सुविधा उपलब्ध करवाने के बावजूद अभी भी कई शासकीय कर्मचारियों द्वारा टीका नहीं लगवाने की आशंका है। ऐसे में कलेक्टर आशीषसिंह ने अब टीकारण को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न विभागों के जिला अधिकारियों को निर्देशित किया है। कलेक्टर ने सभी विभागों के प्रमुखों को निर्देशित किया है कि वे अपने अधीनस्थ सभी अधिकारी-कर्मचारियों का कोविड वैक्सीनेशन सुनिश्चित करवाएं। उन्होंने जिला कोषालय अधिकारी को निर्देश दिए है कि वे जून के वेतन बिल के साथ ही सभी जिला अधिकारियों से वैक्सीनेशन के प्रमाण पत्र एकत्रित करें और उनको प्रस्तुत करें। इसके बाद जुलाई का वेतन तभी आधारित किया जाए जब शत प्रतिशत शासकीय कर्मचारी वैक्सीनेशन करवा ले। सभी संविदा व दैनिक वेतन भोगी शासकीय सेवकों के वैक्सीनेशन की जानकारी भी कलेक्टर को प्रस्तुत करने के लिए विभाग प्रमुखों को निर्देशित किया गया है।

sachin trivedi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned