scriptIllegal housing on the side of railway track broken with JCB | रेलवे पटरी के किनारे अवैध आवास जेसीबी से तोड़े | Patrika News

रेलवे पटरी के किनारे अवैध आवास जेसीबी से तोड़े

130 का लक्ष्य, 70 मकान किए नेस्तनाबूद
80 हजार वर्गफीट भूमि को कराया खाली

रतलाम

Updated: November 17, 2021 08:05:13 pm

रतलाम. शहर के जावरा फाटक पार क्षेत्र की रेलवे पटरी के किनारे बने हुए शिवशंकर कॉलोनी के 130 आवासों में से 70 को रेलवे ने जेसीबी की मदद से नेस्तनाबूद कर दिए। शेष आवासों पर जेसीबी का पंजा बुधवार को चलेगा। जुलाई माह में रेलवे ने इन आवास में रहने वालों को नोटिस दिए थे। इसके बाद तीन बार तोडऩे गए, लेकिन हर बार एक पखवाड़े की समय सीमा देकर वापस आ गए थे। जिनको हटाया गया, उन सभी को डोसीगांव स्थित प्रधानमंत्री आवास योजना के फ्लैट्स में भेजा गया है। पहले दिन रेलवे ने करीब 80 हजार वर्गफीट भूमि से अतिक्रमण को खाली कराया है।
Illegal housing on the side of railway track broken with JCB
Illegal housing on the side of railway track broken with JCB
11 बजे पहुंचे जेसीबी लेकर

सुबह करीब 11 बजे रेलवे के कार्य विभाग के अधिकारी आरपीएफ, जीआरपी व औद्योगिक थाना पुलिस लेकर दल बल के साथ पहुंचे। यहां पर सभी को पूर्व में जारी किए नोटिस का हवाला देकर 30 मिनट का समय देकर आवास खाली करने को कहा गया। इस दौरान बड़ी संख्या में पुलिस बल देखकर कॉलोनी में अफरा - तफरी मच गई। कुछ लोग बातचीत करने व मध्यस्थता करने आए, लेकिन रेलवे अधिकारी टस से मस नहीं हुए। इसके बाद दोपहर १२ बजे से जेसीबी आवास पर चलना शुरू हो गई।
पंखा, पतरा खोला गया

जब शिवशंकर कॉलोनी के रहवासियों को यह भरोसा हो गया कि अब आवास टूटेंगे तो घर के अंदर के पंखे से लेकर बिजली सहित पतरे खोलना शुरू कर दिए। हालांकि बीच में कुछ लोगों ने रेलवे की कार्रवाई का विरोध करते हुए चक्काजाम किया, लेकिन इनको पांच मिनट में पुलिस ने सख्ती से उठा दिया। इस दौरान जिनके आवास थे, उन्होंने अपना जब पूरा सामान निकाल लिया तो इनको रेलवे के वाहन में डोसीगांव स्थित पीएम आवास योजना के फ्लैट्स में भेजा गया।
70 के लिए लगे इतने ही राउंड

एक - एक आवास में से पंखा, ट्यूबलाइट, कूलर, पानी की मोटर, टेलिविजन सेट आदि सहित सिलेंडर आदि गृहस्थी के सामान को ले जाने में ट्रक से भेजा गया। इसके लिए जितने आवास से अतिक्रमण हटाया गया, उतने ही राउंड ट्रक को लगे। रेलवे ने पहले दिन 70 आवास को तोड़ते हुए 80 हजार वर्गफीट भूमि पर अपना कब्जा लिया है।
जारी रहेगा अभियान


रेलवे भूमि से अतिक्रमण हटाने की शुरुआत मंगलवार से हुई है। पहले दिन 70 आवास हटाए गए है। अभियान को जारी रखा जाएगा।


- खेमराज मीणा, मंडल रेलवे प्रवक्ता

The body of the woman found on the railway track was identified, she was eight months pregnant
IMAGE CREDIT: patrika

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

SSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगानिलंबित एडीजी जीपी सिंह के मोबाइल, पेन ड्राइव और टैब को भेजा जाएगा लैब, खुल सकते हैं कई राजएसईसीएल ने प्रभावित गांवों को मूलभूत सुविधा देना किया बंद, कोल डस्ट मिले पानी से बर्बाद हो रहे हैं खेततीसरी लहर का खतरनाक ट्रेंड, डाक्टर्स ने बताए संक्रमण के ये खास लक्षणInd vs SA: चेतेश्वर पुजारा कर बैठे बड़ी भूल, कीगन पीटरसन को दिया जीवनदान; हुए ट्रोल
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.