रेलवे में सुरक्षा के लिए अब तक का सबसे बड़ा काम शुरू, परिंदा भी पर नहीं मार पाएगा

रेलवे में सुरक्षा के लिए अब तक का सबसे बड़ा काम शुरू, परिंदा भी पर नहीं मार पाएगा

Ashish Pathak | Publish: Dec, 08 2018 06:04:40 PM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

रेलवे में सुरक्षा के लिए अब तक का सबसे बड़ा काम शुरू, परिंदा भी पर नहीं मार पाएगा

रतलाम। रेल मंडल के रेलवे स्टेशनों की सुरक्षा को बेहतर करने के लिए जल्दी ही इंटीग्रेटेड सुरक्षा प्रणाली (आईएसएस) को लगाने की योजना को मंजूरी मंडल रेल प्रबंधक आरएन सुनकर ने दे दी है। ये प्रणाली लगने के बाद रेलवे स्टेशन व रेलवे ट्रैक की सुरक्षा और सख्त हो जाएगी। स्टेशन से लेकर ट्रेन में अंदर पहुंचने तक यात्री इस प्रणाली की नजर में रहेंगे। जरुरत होने पर यात्री व उनके साथ आए मित्र या परिजन की जांच भी हो सकेगी।

रेलवे स्टेशन जिसमे मंडल से सभी रेलवे प्लेटफॉर्म, आरक्षण कार्यालय, अनारक्षित टिकट काउंटर, यात्री प्रतिक्षालय, खानपान की दुकान, पार्सल कार्यालय, वेतन कार्याल्य, फुट ओवर ब्रिज, होग सिग्नल, बाहर बनी हुई दो व चार पहियां पार्र्किंग आदि पर रेलवे की सख्त नजर रहेगी। इस प्रणाली में लगने वाले सभी कैमरे हाईस्पीड इंटरनेट से जुडे़ रहेंगे। इसको लाइव भी देखा जा सकेगा। इतना ही नहीं, वरिष्ठ अधिकारी जीपीएस के माध्यम से मोबाइल से जोड़ सकेंगे व जरुरत होने पर मोबाइल में देख पाएंगे।

संदिग्ध के बारे में बताएगा

ये प्रणाली लगने के बाद यदि कोई संदिग्ध व्यक्ति रेलवे स्टेशन में प्रवेश करता है या रेलवे ट्रैक पर आता है तो सीसीटीवी कैमरे की नजर में वो आ जाएगा। प्रणाली कैमरे की जद में व्यक्ति के आने के तुरंत बाद उसको स्कैन करना शुरू कर देगी। यदि किसी के पास कोई एेसा सामान है जो रेलवे के नियम के खिलाफ है तो सीसीटीवी कैमरा स्वयं इस बारे में सिग्नल दे देगा।

नियंत्रण कक्ष से देखेंगे

इस समय स्टेशन पर ५५ कैमरे लगे हुए है। इनमे से कुछ से जीआरपी तो कुछ से आरपीएफ में देखा जाता है। नई प्रणाली से रेलवे नियंत्रण कक्ष से भी देखा जा सकेगा। इतना ही नहीं, पार्सल के सामान की जांच नहीं होती है। पार्सल में जो लाने वाला बोलता है, उसी को सही मान लिया जाता है। इस प्रणाली से पार्सल के सामान की भी जांच हो सकेगी।

 

जल्द रतलाम में शुरू

इंटीग्रेटेड सिक्युरिटी सिस्टम को लेकर इंदौर स्टेशन पर ज्यादातर काम हो चुका है, मंडल के अन्य स्टेशनों पर भी काम चल रहा है। इस सिस्टम के लगने के बाद सुरक्षा ऑटोमेटिक हो जाएगी और स्टेशन और भी ज्यादा सुरक्षित हो जाएगा। रतलाम में भी इसको जल्द किया जाएगा।
- आरएन सुनकर, डीआरएम

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned