एलएचबी रैक के साथ चलेगी इंदौर दिल्ली सरायरोहिला ट्रेन


रतलाम, मंदसौर, नीमच व चित्तौडग़ढ़ में होगा ठहराव, फतेहाबाद-बडऩगर के रास्ते चलेगी

By: harinath dwivedi

Published: 10 Feb 2018, 10:59 AM IST

रतलाम। गर्मी में यात्रियों को ट्रेन सुविधा उपलब्ध कराने के लिए रेलवे ने इंदौर से फतेहाबाद-बडऩगर-रतलाम के रास्ते जयपुर होते हुए दिल्ली सरायरोहिला तक ट्रेन एलएचबी श्रेणी के डिब्बों से चलाने का निर्णय लिया है। इंदौर से ट्रेन अप्रैल से जून तक प्रत्येक शुक्रवार व रविवार को व दिल्ली सरायरोहिला से प्रत्येक शनिवार व सोमवार को चलेगी। दोनों दिशा में ट्रेन का ठहराव रतलाम, मंदसौर व नीमच में होगा।

ट्रेन नंबर 09301 इंदौर से

इंदौर से ये ट्रेन रात को 7.20 बजे चलेगी। फतेहाबाद 7.50, बडऩगर 8.20 बजे, रतलाम 9.20 बजे, मंदसौर रात 11.05, नीमच 11.53, चित्तौडग़ढ़ देर रात 1.15 बजे पहुंचेगी। ट्रेन शनिवार व सोमवार को यात्रियों को दोपहर 1.20 बजे दिल्ली सरायरोहिला पहुंचाएगी।

 

ट्रेन 09302 दिल्ली सरायरोहिला से

दिल्ली सरायरोहिला से ट्रेन दोपहर 2.30 बजे प्रत्येक शनिवार व सोमवार को चलेगी। चित्तौडग़ढ़ ये ट्रेन देर रात 3.20 बजे, नीमच में 4.18 बजे, मंदसौर में सुबह 5.08 बजे, रतलाम सुबह 6.30 बजे, बडऩगर 7.15, फतेहाबाद 7.52 बजे होते हुए इंदौर पहुंचेगी।

इंदौर से चलेगी इन तारीख को

अप्रैल में- 13,15,20,22,29

मई में- 4,6,11,13,18,20,25,27

जून में-1,3,8,10,15,17,22,24,29

 

दिल्ली सरायरोहीला से चलेगी इन तारीख को

अप्रैल- 14,16,21,23,28,30

मई में- 5,12,14,19,21,26,28

जून में-2,4,9 व 11 को।

यहां होगा ठहराव

ट्रेन का दोनों दिशा में फतेहाबाद, बडऩगर, रतलाम, मंदसौर, नीमच, चित्तौडग़ढ़, भीलवाड़ा, मांडल, विजयवाड़ा, नसिराबाद, अजमेर , किशनगढ़, फुलेरा, कनकपुरा, जयपुर, जगतपुरा, दौसा, बांदीकुई, अलवर, खैरथल, रेवाड़ी, गुडगांव व दिल्ली कैंट में ठहराव होगा। ट्रेन में द्वितीय श्रेणी वातानुकूलित के दो, तृतिय श्रेणी वातानुकूलित के चार, शयनयान के सात, व सामान्य श्रेणी के चार डिब्बे उपलब्ध रहेंगे। इस ट्रेन की बड़ी विशेषता ये है कि इसमे जर्मन तकनीक से बने एलएचबी स्तर के डिब्बे रहेंगे। रेलवे का मानना है कि इस श्रेणी के डिब्बों में ट्रेन की दुर्घटना कम होती है व यात्रियों की सुरक्षा अधिक होती है। इस समय जो डिब्बे दौड़ रहे है, उनके मुकाबले वजन में एलएचबी स्तर के डिब्बे वजन में हल्के होते है। इसलिए इन स्तर के डिब्बों को इंदौर-रतलाम-दिल्ली सरायरोहिला ट्रेन में लगाया जा रहा है।

 

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned