कालसर्प दोष, अपने शहर में करें यह आसान टोटका, VIDEO में देखें उपाय

कालसर्प दोष, अपने शहर में करें यह आसान टोटका, VIDEO में देखें उपाय

Ashish Pathak | Publish: Mar, 06 2019 01:07:36 PM (IST) | Updated: Mar, 06 2019 01:07:37 PM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

कालसर्प दोष, अपने शहर में करें यह आसान टोटका, VIDEO में देखें उपाय

रतलाम। इस समय माघ माह चल रहा है। बुधवार को माघ माह की सबसे बड़ी अमावस्या है। अमावस्या के दिन कालसर्प दोष अगर कुंडली में हो तो उपाय या टोटके किए जाते है। आमतोर पर ये उपाय महाराष्ट्र के त्रयंबकेश्वर, मध्यप्रदेश के उज्जैन में करने का विधान है, लेकिन कई बार अर्थसंकट के चलते पूजन का महंगा व्यय आमजन नहीं उठा पाता। एेसे में घर में रहकर भी कालसर्प दोष का उपाय आसन टोटके से किया जा सकता है। ये बात इंदौर के प्रसिद्ध ज्योतिषी सुरेश शर्मा ने रतलाम में पंचाग सम्मेलन के दौरान आने पर कही।

kaal sarp dosh

ज्योतिषी शर्मा ने कहा कि ये बात तो सभी जानते है कि कालसर्प दोष बारह प्रकार के होते है। जब राहु व केतु के बीच सभी प्रकार के ग्रह आ जाते है तो कालसर्प दोष का उदय होता है। इस दोष के चलते कई बार ये देखने में आया है कि अनेक प्रकार की मेहनत करने के बाद भी व्यक्ति को समुचित लाभ नहीं हो पाता है। आमतौर पर ये हर कोई जानना चाहता है कि कालसर्प दोष होता क्या है।

kaal sarp dosh

ये होता है कालसर्प दोष
कालसर्प योग के बारे में ज्योतिषी शर्मा ने बताया कि राहु केतु को केंद्र बिंदु मानकर एक काल्पनिक सीधी रेखा खींची जाए व यदि सभी ग्रह इसके बीच आ जाए तो ये कालसर्प योग होता है। असल मंे राहु च केतु छाया ग्रह है। राहु का नक्षण भरणी है व इसके देवता सर्प है। जन्म कुंडली में 14 प्रकार के श्राप होते है। इनमे प्रमुख रुप से पितृ श्राप, प्रेत श्राप, ब्राहमण श्राप, मातुल श्राप, पत्नी श्राप, मातृ श्राप, सहोदर श्राप व सर्प श्राप प्रमुख है।

 

kaal sarp dosh

कालसर्प योग होने पर होता है ये
- जिसकी कुंडली में ये होगा हो, उसको मेहनत का फल नहीं मिलता है।
- परिवार में तालमेल की कमी रहती है।
- दवाओं पर अतिरिक्त व्यय होता है।
- विवाह में समस्या आती है।
- सपने में मंदिर, सर्प, उडऩा, तेजी से गिरना आदि आते है।

 

वीडियो में देखें इसका उपाय लेकिन....
नारियल का सूखा गोला लेकर उसको उपर से काटे। उस गोले में काली उड़द, काले तिल, शक्कर, तांबे का सर्प जोड़ा, एक रुपए का सिक्का, सरसो या चमेली का तेल, सिंदूर आदि को डाले। इसके बाद इस गोले को बंद करें। गोले को स्वयं के उपर से 23 बार अपने उपर से बारकर पीपल के पेड़ के नीचे रखें। इसके बाद क्या करना है ये जानने के लिए देखें खबर का VIDEO...

kaal sarp dosh

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned