कमलनाथ सरकार का बड़ा निर्णय, व्यापारी वर्ग को मिला तोहफा

कमलनाथ सरकार का बड़ा निर्णय, व्यापारी वर्ग को मिला तोहफा

By: Gourishankar Jodha

Published: 07 Jul 2019, 01:29 PM IST

रतलाम। प्रदेश सरकार ने व्यापारियों को आ रही दिक्कतों को देखते हुए बड़ा निर्णय लिया है, व्यापारी वर्ग गत दिवस आए निर्देशों के बाद अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चला गया था। इसके बाद सरकार को फैसला बदलना पड़ा और तोहफे में पुरानी व्यवस्था को यथावत रखते हुए सरकार ने व्यापारियों तोहफे में राहत देते हुए मंडियों में ई-अनुज्ञा आखिरकार स्थगित कर दी। जिससे व्यापारी वर्ग में खुशी का माहौल है। मंडी बंद होने के कारण जहां किसान वर्ग भी परेशान हो रहा था, तो करोड़ों का कारोबार प्रभावित होते हुए मंडी टैक्स का भी नुकसान हर दिन झेलना पड़ रहा था।

 

patrika

10 नंबर प्रारूप से जारी होगी अनुज्ञा
आखिरकार ई-अनुज्ञा में आ रही दिक्कतों के चलते व्यापारियों के विरोध के बाद शनिवार को ई-अनुज्ञा स्थगित कर दी गई। पुन: व्यापारियों को पुराने तरिके से ही अनुज्ञा जारी की जाएगी। यानि की 10 नंबर प्रारूप पर अनुज्ञा जारी होगी। बतां दे कि कुछ व्यापारी इस ऑनलाइन प्रक्रिया से खुश नजर आ रहे थे, लेकिन कई व्यापारी इसके विरोध में भी खड़े हो गए थे। कुछ तकनीकि त्रुटि के चलते विरोध चल रहा था, लेकिन रतलाम मंडी में एक दिन पूर्व ही मंडी प्रशासन के कहने पर व्यापारी वर्ग मान गया था और नीलामी में भाग भी ले चुका था। मंडी बोर्ड से आए निर्देशों के बाद ऑनलाइन अनुज्ञा में आ रही व्यापारियों की दिक्कतों के म²ेनजर अभी ई- अनुज्ञा स्थगित कर दी गई है। जिससे कई व्यापारियों ने राहत की सांस ली है।

अनाज मंडी में ही नीलाम होगी प्याज
मंडी प्रशासन ने प्याज खरीदी योजना समाप्ति के बाद शनिवार को फिर से प्याज की नीलामी अनाज मंडी के स्थान पर सैलाना बस स्टैंड स्थित लहसुन-प्याज मंडी में शुरू की गई थी। लेकिन जगह की कमी और शेडों से टकपते पानी के कारण व्यापारियों ने इसे यथावत अनाज मंडी में ही रहने की बात कही। मामला बिगड़ता देख व्यापारियों ने कुछ से समय के लिए नीलामी रोक दी, बता दे कि शनिवार को सैलाना बस स्टैंड लहसुन-प्याज मंडी में करीब 40-45 ट्राली प्याज लहसुन- की लेकर किसान पहुंचे थे। व्यापारियों के विरोध के बाद मंडी प्रशासन के आग्रह पर दोपहर तक नीलामी हुई, बाद में महू-नीमच रोड स्थित अनाज मंडी में मंडी सचिव एमएल बारसे के साथ व्यापारियों की बैठक में निर्णय लिया गया कि अनाज मंडी में प्याज की नीलामी की जाएगी, लेकिन तौल कार्य सोयाबीन नीलामी के बाद मंडी के किसान शेड में हो सकेगा। बैठक में सलीम बागवान, प्रकाश जादव, डॉ. मुकेश राज, पंकज अग्रवाल, दिनेश यादव, निलेश बाफना आदि उपस्थित थे।

 

प्याज नीलामी अनाज मंडी में होगी
मंडी निरीक्षक रूमालसिंह ने बताया कि व्यापारियों के आग्रह पर अनाज मंडी में प्याज की नीलामी का निर्णय लिया है। सड़े गले प्याज को एक स्थान पर एकत्रित किया जाए, नीलामी के बाद प्याज को सोयाबीन की नीलामी समाप्त होने के बाद शेड में तोला जाएगा। बचा हुआ प्याज एक स्थान पर एकत्रित किया जाएगा, ताकि दूसरे दिन नीलामी में परेशानी नहीं आए। मंडी सहायक निरीक्षक मुकेश ग्रेवाल ने बताया कि शनिवार से ई-अनुज्ञा (ऑनलाइन) स्थगित कर दी गई है। अब पुरानी तरिके से ऑफलाइन 10 नंबर प्रारूप पर ई-अनुज्ञा जारी की जाएगी।

Gourishankar Jodha
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned