रतलाम:- प्रदेश सरकार मुर्दाबाद के नारो ने मचाया हड़कंप।

रतलाम:- दिनांक 9 शनिवार को दोपहर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अभाविप के छात्रों द्वारा मुख्यमंत्री के 12 पुतले एक के बाद एक कर जलाये। आज अखबार में खबर पढ़ कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता दोबत्ती थाने पहुचे और थाना प्रभारी को ज्ञापन सोप अभाविप के छात्रों पर मुक़दमा दर्ज करने की मांग की।
मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बने 2 माह हुए है। और 80 से अधिक वचनों को पूरा किया है।लेकिन कुछ राजनीतिक संगठन को उनके कार्यो पर प्रश्नचिन्ह लगा कर मुख्यमंत्री के पुतले जलाए जा रहे हे। जनता में गलत संदेश दे रहे है। कांग्रेस का कहना है शहर में धारा 144 लागु है। जिसके बाद भी बिना अनुमति पुतला जलाना प्रशासन के नियमो का उलंघन किया गया है।
मुख्य मंत्री का पुतला जलाने वालो पर कार्रवाही की जाए कार्रवाही नहीं हुई तो कांग्रेस द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा। थाना प्रभारी से चर्चा करते नेता प्रतिपक्ष यास्मीन शेरानी और कई पार्षद सहित कार्यकर्ता मौजूद रहे।
थाना प्रभारी का कहना:- पुतला दहन कोई अपराध नहीं है। पर धारा 144 का उलंघन तो है। धारा 144 में खुले परिसर में कोई भी गतिविधि करने के लिए शासन से अनुमति लेना होती है। इस पर हमने अभाविप के पदाधिकारियों को पत्र जारी कर दिया है। अनुमति पत्र ला कर दिखाए।

By: Swadesh Sharma

Updated: 10 Mar 2019, 03:56 PM IST

रतलाम:- दिनांक 9 शनिवार को दोपहर प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए अभाविप के छात्रों द्वारा मुख्यमंत्री के 12 पुतले एक के बाद एक कर जलाये। आज अखबार में खबर पढ़ कांग्रेस के पदाधिकारी और कार्यकर्ता दोबत्ती थाने पहुचे और थाना प्रभारी को ज्ञापन सोप अभाविप के छात्रों पर मुक़दमा दर्ज करने की मांग की।
मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बने 2 माह हुए है। और 80 से अधिक वचनों को पूरा किया है।लेकिन कुछ राजनीतिक संगठन को उनके कार्यो पर प्रश्नचिन्ह लगा कर मुख्यमंत्री के पुतले जलाए जा रहे हे। जनता में गलत संदेश दे रहे है। कांग्रेस का कहना है शहर में धारा 144 लागु है। जिसके बाद भी बिना अनुमति पुतला जलाना प्रशासन के नियमो का उलंघन किया गया है।
मुख्य मंत्री का पुतला जलाने वालो पर कार्रवाही की जाए कार्रवाही नहीं हुई तो कांग्रेस द्वारा उग्र आंदोलन किया जाएगा। थाना प्रभारी से चर्चा करते नेता प्रतिपक्ष यास्मीन शेरानी और कई पार्षद सहित कार्यकर्ता मौजूद रहे।
थाना प्रभारी का कहना:- पुतला दहन कोई अपराध नहीं है। पर धारा 144 का उलंघन तो है। धारा 144 में खुले परिसर में कोई भी गतिविधि करने के लिए शासन से अनुमति लेना होती है। इस पर हमने अभाविप के पदाधिकारियों को पत्र जारी कर दिया है। अनुमति पत्र ला कर दिखाए।

Swadesh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned