एमपी के इस नेता पुत्र व बहू ने पुलिस से मांगी सुरक्षा

एमपी के इस नेता पुत्र व बहू ने पुलिस से मांगी सुरक्षा

kamal jadhav | Updated: 18 Jul 2019, 11:13:43 AM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

एमपी के इस नेता पुत्र व बहू ने पुलिस से मांगी सुरक्षा

रतलाम। शहर के कांग्रेस नेता और नगर निगम के पूर्व उपमहापौर सतीष पुरोहित के पुत्र तरुण पुरोहित ने शहर की एक इंजीनियर युवती निहारिका से घर से भागकर प्रेम विवाह कर लिया। प्रेम विवाह के चार दिन बाद नवदंपति डीआईजी कार्यालय पहुंचे व सुरक्षा की मांग की। तरुण की पत्नी निहारिका ने डीआईजी को दिए आवेदन में कहा कि उसे उसके पिता धीरज मूंदड़ा और भाई पृथ्वीराज से जान को खतरा है। इसलिए वे पति-पत्नी डीआईजी से सुरक्षा की मांग करने आए हैं। उनके और उनके पति, ससुर और ससुराल वालों को सुरक्षा की आवश्यकता है। वे कभी भी इन्हें नुकसान पहुंचा सकते हैं। निहारिका ने बताया डीआईजी ने आश्वासन दिया है कि पूरी सुरक्षा दी जाएगी। तरुण के पिता सतीष पुरोहित ने कहा कि बेटा घर से गया था तब पता नहीं था। उन्हें आज ही पता चला की दोनों ने शादी कर ली है। दोनों बालिग हैं इसलिए उन्हें कोई आपत्ति नहीं है और यह रिश्ता मंजूर है।

वरिष्ठ कांग्रेस नेता हैं सतीष पुरोहित
कांग्रेस नेता और एडवोकेट सतीष पुरोहित पार्टी में काफी वरिष्ठ नेता हैं। रतलाम नगर निगम की पहली परिषद में वे पार्षद के रूप में चुनकर आए थे और उसी परिषद में उपमहापौर बने थे। उस समय महापौर के पद पर जयंतीलाल जैन को चुना गया था। पेशे से एडवोकेट पुरोहित का आज भी कांग्रेस में उनका दखल है। इनके पिता कैलाशचंद्र पुरोहित भी अपने समय के नामी एडवोकेट रहे हैं। पुरोहित ने बताया उनके पुत्र जिसने घर से भागकर प्रेम विवाह किया है उसने भी लॉ कर लिया है और सनद के लिए आवेदन कर दिया है।

12 को भागे और 13 को विवाह
तरुण और उनकी पत्नी निहारिका ने डीआईजी गौरव राजपूत को सुरक्षा के लिए दिए आवेदन में कहा कि वे 12 तारीख को घर से भागे थे और 13 को इंदौर में आर्य समाज में उन्होंने विधिवत रूप से विवाह कर लिया। विवाह करने के चार दिन बाद बुधवार को पति तरुण और पत्नी निहारिका दोपहर में डीआईजी गौरव राजपूत के कार्यालय पहुंचे। युवती निहारिका का कहना है कि उन्हें उनके पिता और भाई ने धमकी दी है। इसलिए वे डीआईजी से सुरक्षा की मांग करने पहुंचे हैं। इस दौरान सतीष पुरोहित व अन्य लोग भी उनके साथ थे।
----------------

कोई आपत्ति नहीं है विवाह पर
बेटा और उसकी पत्नी बालिग है इसलिए उन्हें इस पर कोई आपत्ति नहीं है। मुझे आज ही इनके विवाह के बारे में पता चला जब डीआईजी कार्यालय में ये लोग गए और वहां से मेरे पास दूरभाष पर सूचना आई कि उन्हें कोई आपत्ति है क्या। मैं दोपहर करीब ढाई बजे डीआईजी कार्यालय पहुंचा और कहा कि मुझे कोई आपत्ति नहीं है। दोनों बालिग हैं और कानून के हिसाब से इन्हें अपना निर्णय करने का अधिकार है। मैंंने बेटे और बहू को सुखी जीवन का आशीर्वाद भी दिया है।
सतीष पुरोहित, एडवोकेट और तरुण के पिता

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned