मध्यप्रदेश के इस शहर में तेजी से बढ़ रहे हैं डेंगू के मरीज

मध्यप्रदेश के इस शहर में तेजी से बढ़ रहे हैं डेंगू के मरीज

harinath dwivedi | Publish: Oct, 14 2018 11:42:55 AM (IST) | Updated: Oct, 14 2018 11:42:56 AM (IST) Ratlam, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश के इस शहर में तेजी से बढ़ रहे हैं डेंग के मरीज

रतलाम। शहर के साथ ही जिले में डेंगू का दायरा लगातार बढ़ता जा रहा है। सरकारी अस्पताल में तो मरीजों की संख्या आ रही है किंतु निजी अस्पतालों और रेलवे अस्पताल में भी अब काफी मरीज आने लगे हैं। शनिवार को जिला अस्पताल की पैथालॉजी लेबोरेटरी में लगाए गए एलाइजा टेस्ट में एक साथ आठ मरीजों को डेंगू पाजीटिव होने की पुष्टि हुई है। इतनी बड़ी संख्या में एक ही दिन में डेंगू के पाजीटिव मरीज सामने आने से विभाग भी सकते में हैं। अब तक अधिकृत रूप से जिले में डेंगू के पाजीटिव मरीजों की संख्या 34 पहुंच गई है। यह आंकड़ा पिछले सालों में सामने आए आंकड़़ों के मुकाबले काफी ज्यादा है। जिला अस्पताल की लेबोरेटरी में ही सहायक टेक्नीशियन की पत्नी को भी डेंगू पाजीटिव होने की पुष्टि हुई है तो निजी अस्पताल में भर्ती भाजपा नेता मधु शिरोड़कर के पुत्र को भी डेंगू की पुष्टि होने की बात कही जा रही है।

 

निजी अस्पतालों में भी सामने आ रहे मरीज

शहर के निजी अस्पतालों में बुखार पीडि़त पहुंच रहे हैं तो उन्हें डेंगू के नाम पर निजी लेबोरेटरियों में धड़ल्ले से जांच करवाई जा रही है। निजी लेबोरेटरियों में हो जांच किट के माध्यम से हो रही जांचों में डेंगू होना बताकर मरीजों की जेब ढीली की जा रही है। भाजपा एक नेता मधु शिरोड़कर के पुत्र जयंत उम्र 16 साल को बुखार आने पर सागोद रोड स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उसे निजी लेबोरेटरी में जांच करवाई गई जहां डेंगू की पुष्टि हुई है। हालांकि इस मरीज की जिला अस्पताल में एलाइजा टेस्ट से अभी पुष्टि नहीं हुई है।

 

रेलवे अस्पताल से भी आ रहे मरीज

जिला अस्पताल के साथ ही रेलवे क्षेत्र के मरीजों की भी डेंगू की जांच की जा रही है। रेलवे अस्पताल से जुड़े सूत्र बताते हैं कि अस्पताल में हर दिन दो दर्जन से ज्यादा बुखार से पीडि़त मरीज आ रहे हैं। इनमें से कुछ संदिग्ध होते हैं जिनका सेंपल लेकर जिला अस्पताल भेजा जा रहा है। अब तक रेलवे क्षेत्र के आठ से ज्यादा मरीजों को डेंगू की पुष्टि हो चुकी है। जिला अस्पताल की लेबोरेटरी के टेक्नीशियनों के अनुसार डेंगू के संंदिग्ध मरीजो के सेंपल इतने आ रहे हैं कि हर दो या तीन दिन में जांच करना पड़ रही है। ज्यादा दिन का गेप हो जाए तो सेंपल बढ़ जाते हैं।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned