मार्च से शुरू होना था मेडिकल कॉलेज का अस्पताल, अभी करना होगा इंतजार

मार्च से शुरू होना था मेडिकल कॉलेज का अस्पताल, अभी करना होगा इंतजार

By: Ashish Pathak

Published: 03 Mar 2019, 04:53 PM IST

रतलाम. शासकीय स्वशासी मेडिकल कॉलेज में पहले सत्र की पढ़ाई शुरू होने के बाद अब 750 बेड के अस्पताल को शुरू करने में कॉलेज प्रशासन लगा हुआ है। इसको मार्च में शुरू होना था, लेकिन संसाधन देरी से आने की वजह से अब इसको शुरू होने में छह माह से कुछ अधिक समय लगेगा। इस अस्पताल के शुरू होने से पांच जिलों के मरीजों को लाभ होना है।

Medical college

बता दे कि मेडिकल कॉलेज में 750 बिस्तरों के अस्पताल के निर्माण का कार्य एक माह पूर्व ही पूरा हो गया है। कॉलेज में पीडियाट्रीक सर्जरी, आर्थोपेडभ्क सर्जरी, जनरल व विषय विशेषज्ञ के अलावा महिला रोग विशेषज्ञ, नेत्ररोग, गला, नाक व कान के साथ-साथ कार्डियक सर्जरी के लिए ऑपरेशन थिएटर पहले ही तैयार हो गया है। इसके अलावा अब यहां पर ट्रामा सेंटर बनाने की तैयारी की जा रही है, जिससे गंभीर दुर्घटना के मरीजों को यहां पर इलाज मिल सके। इससे रतलाम के अलावा नीमच, मंदसौर के अलावा अलीराजपुर व झाबुआ के मरीजों को भी लाभ होगा।

संसाधन आए, अब भी लगेगा समय
अस्पताल में ऑपरेशन थिएटर के अनुसार संसाधन आ गए है। कुछ आना शेष है। अस्पताल के जानकारों के अनुसार इसके बाद भी कम से कम छह माह का समय इसमे लगेगा। इसके लिए जरुरत अनुसार शासन ने सहयोग मांगा गया है। जरुरत पूरी होने के अनुसार ही ये तय होगा कि छह माह का समय लगेगा या और भी समय लग सकता है। अस्पताल के प्राध्यापकों के अनुसार जिस तरह से तैयारी चल रही है, उसके अनुसार इस वर्ष के अंत तक ही अस्पताल की शुरुआत हो पाएगी।

Medical college

इस तरह होगा अस्पताल का स्वरूप
बता दे कि रतलाम के मेडिकल कॉलेज में जो 750 बिस्तर का अस्पताल बनना है उसकी सबसे बड़ी विशेषता ये है कि शुरुआत से ही मरीजों को अलग-अलग प्रकार की बीमारी के दस ऑपरेशन थिएटर की सुविधा मिलेगी। इसक लिए कुछ समय पूर्व डीन सहित अन्य विषय विशेषज्ञों ने अस्पताल के उस क्षेत्र का निरीक्षण भी किया है, जहां पर ये सब निर्माण हो रहा है।

 

Medical college

शुरू करने की तैयारी

अस्पताल को शुरू करने की तैयारी जोरों से चल रही है, लेकिन इसमे भी कम से कम छह माह लगेंगे। समय पर इसकी शुरुआत हो, इसके लिए हरसंभव उपाय किए जा रहे है।
- डॉ. संजय दीक्षित, डीन, मेडिकल कॉलेज

Medical college
Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned