छत्रीपुल निर्माण को एमआईसी ने दी हरी झंडी

bhuvanesh pandya

Publish: Sep, 16 2017 02:22:38 (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
छत्रीपुल निर्माण को एमआईसी ने दी हरी झंडी

- कालिका माता उद्यान विकास योजना पर भी दी स्वीकृति

रतलाम। शहर की बेपटरी यातायात व्यवस्था को पटरी पर लाने और उद्यानों के विकास के लिए शुक्रवार को महापौर परिषद ने आधा दर्जन प्रस्तावों पर वित्तिय मंजूरी की मुहर लगा दी। वहीं, छत्रीपुल के नव निर्माण और कालिका माता उद्यान विकास के प्रोजेक्टों को भी स्वीकृति दी गई है। परिषद ने मेला आयोजन के कार्यक्रमों को लेकर भी सवाल उठे।

मेला तैयारी और आयोजन की प्रस्तावित कार्ययोजना से पूर्व उठते सवालों के बीच शुक्रवार को महापौर डॉ. सुनीता यार्दे ने पूरी तैयारी के साथ महापौर परिषद की बैठक ली। बैठक का एजेंडा आगामी कार्ययोजनाओं पर परिषद की स्वीकृति था, लेकिन शुरूआत मेला की तैयारी और होने वाली व्यवस्थाओं से हुई। परिषद सदस्यों ने कार्यक्रमों के लिए निर्धारित दिनों व आयोजनों पर खर्च राशि में पारदर्शिता की मांग रखी। साथ ही कालिका माता उद्यान विकास प्रोजेक्ट के तहत नए कार्यो के लिए वित्तिय मंजूरी दे दी। बैठक में परिषद सदस्य प्रेम उपाध्याय, भगतसिंह भदौरिया, मंगल लोढ़ा, सूरजसिंह जाट, ताराचंद पंचोनिया, मनीषा शर्मा, रेखा जौहरी सहित निगम आयुक्त एसके सिंह मौजूद थे।

इन कार्यो की दी मंजूरी
- अलकापुरी शॉपिंग काम्पलेक्स के सामने स्थित सार्वजनिक उद्यान विकसित करने की वित्तीय स्वीकृति।
- अमृत सागर तालाब उद्यान तथा श्री कालिका माता उद्यान विकास योजना को भी वित्तीय स्वीकृति।
- छत्रीपुल के नवीन निर्माण की प्रक्रिया पूर्ण करने व गरबा स्थलों के मार्गो का पेंचवर्क की मंजूरी।
- कचरा संग्रहण वाहनों पर वार्ड क्रमांक, दरोगा का नाम लिखवाने व नवरात्र व दीपावली पर विशेष सफाई अभियान।
- यातायात बेहतरी के लिए लेन डिवाइडर, रोड स्टड, केट आई खरीदी को भी मंजूरी।

पार्षद ने उठाए अनुमति पर सवाल
महापौर में कार्यो की मंजूरी से पहले पार्षद अरूण राव ने कस्तुरबा नगर की सड़क खुदाई के मसले पर नगर निगम अधिकारियों पर निशाना साधा। पार्षद राव का कहना है कि निगम को सूचना देने के बावजूद सड़क की बिना अनुमति खुदाई करने वाली फर्म पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है। बारिश में गड्ढों से रहवासी दुर्घटनाओं का शिकार हो रहे है। एक निजी फर्म ने अपने फायदें के लिए बिना अनुमति के सड़क खोद दी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned