40 से अधिक मंडी व्यापारियों को प्रशासन ने थमाए नोटिस, तो व्यापारी हुए लामबंद

40 से अधिक मंडी व्यापारियों को प्रशासन ने थमाए नोटिस, तो व्यापारी हुए लामबंद

Mukesh Mahawar | Updated: 15 Jun 2019, 05:44:17 PM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

24 घंटे में शेड खाली नहीं किया तो नहीं जारी होगी अनुज्ञा

रतलाम. मंडी में व्यापारियों को नोटिस जारी करने की प्रशासन की कार्रवाई के बाद व्यापारी भी लामबंद हो गए है। मंडी के व्यापारी संगठनों ने उन्हे बारिश के दौरान मंडी में शेड नहीं उपलब्ध कराए जाने पर 17 जून सोमवार से अनाज की उपज नहीं खरीदने का एलान कर दिया है। व्यापारियों ने इस संबंध में कृषि मंत्री व जिले के प्रभारी मंत्री सचिन यादव को पत्र भी भेजा है। इसमें युवा किसान संघ द्वारा मंडी कार्य में बाधा उत्पन्न करने का आरोप लगाया है।
युवा किसान संघ द्वारा मंडी में व्यापारियों के शेड खाली कराए जाने के कलेक्टर को गुरुवार को आवेदन दिया था। इसके बाद शुक्रवार को मंडी की भार साधक अधिकारी लक्ष्मी गामड़ ने 40 से अधिक व्यापारियों को नोटिस थमा दिए। इसमें २४ घंटे के भीतर उन्हे शेड खाली करने के निर्देश दिए गए है, जिससे व्यापारियों में हड़कंप मच गया। यदि व्यापारी अपना माल नहीं उठाते है, तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की बात कही है। हर कोई नोटिस पर आपत्ति ले रहा है कि वह यदि प्लेट फार्म से उपज हटाएंगे तो कहां ले जाएं। मंडी प्रशासन ने स्पष्ट कर दिया कि शेड किसानों के लिए है, व्यापारी अपना माल अपने गोदाम में रखे या वेयर हाउस ले जाएं।
शाम से खाली हो रहे थे शेड
मंडी से नोटिस मिलने की सूचना पर से ही कई व्यापारियों के द्वारा गुरुवार देर शाम से ही अपनी उपज को उठवाने का काम शुरू कर दिया गया था। शुक्रवार दोपहर तक अधिकांश व्यापारी अपनी उपज को उठाकर दूसरे स्थान पर ले जाने का काम करने में जुट गए थे। वहीं दूसरी और मंडी में शुक्रवार को भी प्याज की आवक भरपूर रही। एक दिन पहले जैसे ही हालात मंडी परिसर में इस दिन भी नजर आए। बारिश का मौसम नजदीक आने से प्याज घर या गोदाम पर खराब न हो उसके पूर्व किसान उन्हे बड़ी मात्रा में मंडी लेकर पहुंच रहे है, जिससे कि उन्हे उपज का उचित दाम मिल जाए और उपज भी बारिश में खराब न हो।

15 दिन से बिगाड़ रहे व्यवस्था
मंडी में परेशानी को लेकर रतलाम मंडी व्यापारी संघ के अध्यक्ष विनोद जैन और दि ग्रेन एंड सीड्स मर्चेन्ट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेंद्र चत्तर द्वारा मंत्री को लिखे पत्र में यह भी बताया कि मंडी में बीते १५ दिनों से लगातार विपणन कार्य में बाधा उत्पन्न करने का काम चल रहा है। अनाज मंडी में मंडी समिति द्वारा प्याज का विपणन कार्य मनमाने तरीके से कराया जा रहा है, जबकि इसके लिए सैलाना बस स्टैंड मंडी है। प्याज के छिलके व सड़े प्याज उड़कर गेहूं, चना व सोयाबीन की साफ फसल में आकर उसे खराब कर रहा है, जिससे व्यापारियों को नुकसान हो रहा है। संघ ने प्याज व्यापारियों पर जबरन अतिक्रमण कर अनाज मंडी की व्यवस्था भंग करने का आरोप भी लगाया है।
&- 40 से अधिक मंडी व्यापारियों को भार साधक अधिकारी ने नोटिस जारी किए है। सभी को 24 घंटे के भीतर प्लेटफार्म से माल उठाने का कहा है, यदि तय समय सीमा में माल नहीं हटता है, तो उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।
एमएल बारसे, मंडी सचिव

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned