परिवार के साथ सोया, सुबह का सूरज नहीं देख पाया कैलाश

परिवार के साथ सोया, सुबह का सूरज नहीं देख पाया कैलाश
परिवार के साथ सोया, सुबह का सूरज नहीं देख पाया कैलाश

Mukesh Mahawar | Updated: 23 Aug 2019, 06:16:00 PM (IST) Mandsaur, Mandsaur, Madhya Pradesh, India

मकान की दीवार व पतरे की छत गिरने से मौत

सैलाना/रतलाम . जनपद सैलाना की पंचायत भामट के ग्राम पीपलघाटी में अल सुबह जर्जर मकान गिरने से घर में सो रहे कैलाश पिता जीवना डामर (35 वर्ष) की मौत हो गई। परिजनों का कहना है कि परिजनों का रो रो कर बुरा हाल था और कहना था कि कई बार आवेदन और मांग करने के बाद भी हमें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मकान नहीं मिला है। अब हादसा हो गया। जिसने मां का बुढापे का सहारा, बहन का भाई व बच्चों का पिता छीन लिया है। अब परिवार के पालन पोषण की परेशानी खड़ी हो जाएगी।
मिली जानकारी के अनुसार बुधवार रात को कैलाश अपनी मां, बहन, पत्नी और दो बच्चों के साथ खाना खाकर सो गया। सुबह 5.30 बजे के लगभग उसकी पत्नी उठी और चाय बनाई तथा कैलाश को उठने के लिए बोला तब कैलाश ने कहा कि कुछ देर और सोता हूं बस इतना कहने के बाद ही उसके पास बनी हुई गारे की दीवार भरभरा कर गिर गई। मकान के छत के चद्दर भी गिर गए। सिर पर एक पत्थर के गिरने से उसके सिर में चोट लगी और उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। सुबह गांव वालों को जानकारी मिलने पर वे एकत्रित हुए और पुलिस व पटवारी को सूचना दी। जानकारी मिलने पर पुलिस व पटवारी मौके पर पहुंचे। पटवारी ने कहा कि पंचनामा व रिपोर्ट बनाकर मुआवजा दिलाया जाएगा। पुलिस ने पंचनामा बनाकर शव को पोस्ट मार्टम के लिए सैलाना भिजवाया। दोपहर करीब 12 बजे सैलाना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। गांव में उसका अंतिम संस्कार किया गया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned