निरामयम से बड़े नेताओं ने बनाई दूरी

निरामयम से बड़े नेताओं ने बनाई दूरी

By: harinath dwivedi

Published: 10 Mar 2019, 12:09 PM IST

रतलाम। जिला चिकित्‍सालय में आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत निरामयम के जिलास्तरीय शिविर का आयोजन शनिवार को जिले के स्वास्थ्य विभाग ने अस्पताल परिसर में किया। अतिथियों के रूप में सांसद कांतिलाल भूरिया व शहर विधायक चेतन्य काश्यप को बुलाया गया था। दोनों ही अतिथि कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। अलबत्ता कांग्रेस नेताओं ने ही मंच संभाला और शिविर शुरू करके चले गए। बताया जाता है कि सांसद भूरिया रतलाम में ही मौजूद होने के बाद भी इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। बताया जा रहा है कि आमंत्रण कार्ड में विधायक का नाम नहीं होने से विधायक काश्यप और भाजपा का कोई नेता यहां नहीं पहुंचा। बताया जाता है कि कार्यक्रम को लेकर स्वास्थ्य अमले की लापरवाही सामने आई है जिसमें सांसद को भी विधिवत आमंत्रण देने की बजाय एक कार्यक्रम में जाकर उन्हें बता दिया था। इस वजह से सांसद भी कार्यक्रम में नहीं पहुंचे।

आठ सौ मरीजों का पंजीयन
निरामयम शिविर में सुबह से दोपहर तक करीब आठ सौ मरीजों का पंजीयन किया गया था। इन मरीजों को उनकी बीमारी और उसकी गंभीरता के हिसाब से इलाज करके या फिर उन्हें हायर सेंटर भेजे जाने की प्रक्रिया की गई। खास बात यह है कि शिविर में कैंसर मरीज भी पहुंचे थे। सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर ननावरे ने बताया निरामयम शिविर का उददेश्‍य विभिन्‍न विधाओं के विशेषज्ञ चिकित्‍सकों के माध्‍यम से जनसामान्‍य का स्‍वास्‍थ्‍य परीक्षण एवं उपचार करना था। आयुष्‍मान भारत निरामयम के अंतर्गत पात्र हितग्राहियों की पहचान कर उन्हें चिन्हित करते हुए निशुल्‍क उपचार उपलब्‍ध कराना तथा 1391 प्रोसीजर्स के अंतर्गत आने वाले हितग्राहियों को परीक्षण उपरांत संबंधित इम्‍पेनल्‍ड चिकित्‍सालयों को रैफर करना है।
अतिथियों ने ये कहा
नगर निगम मेें नेता प्रतिपक्ष यास्मिन शैरानी ने कहा कि सही मायनों में गरीब और बेसहारा को लाभ मिलने से ही योजना सार्थक होगी। पूर्व निगम सभापति सतीश पुरोहित ने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍य शिक्षा और आवास सबकी जरूरत है। स्‍वस्‍थ नागरिक ही स्‍वस्‍थ राष्‍ट का निर्माण कर सकते हैं। कांग्रेस नेता पारस सकलेचा ने चाणक्‍य का उल्‍लेख करते हुए राजधर्म की पहली शर्त जनता का स्‍वास्‍थ्‍य बताया। उन्‍होंने स्‍त्री-पुरुष की औसत आयु में बढते अंतर के प्रति चिंता व्‍यक्‍त की तथा इस दिशा में कार्य करने की आवश्‍यकता बताई। कार्यक्रम के अंत में आभार सिविल सर्जन डॉ. आनन्‍द चन्‍देलकर ने माना।

-------------
सांसद को ऐन वक्त सूचना दी
सांसद को ऐन वक्त पर विभाग ने सूचना देकर कार्यक्रम में बुलाना चाहा। वे आ जाते लेकिन तरीके से और समय पर सूचना देते तो अच्छा रहता।
यास्मिन शैरानी, नेता प्रतिपक्ष
आमंत्रण में नहीं था नाम
दूसरे जिलों में निरामयम शिविरों के आयोजन को लेकर जो आमंत्रण पत्र छपे थे उनमें स्थानीय जनप्रतिनिधियों के नाम नहीं होने से हमने उसका अनुसरण करके नाम दिए दिए। यह केवल स्वास्थ्य शिविर था, इसलिए जनप्रतिधियों के नाम नहीं छापे गए।
डॉ. प्रभाकर ननावरे, सीएमएचओ, रतलाम

BJP Congress
harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned