निगम नहीं जुटा पाई बजट तो विधायक ने लगा दी खुद की धनराशि

निगम नहीं जुटा पाई बजट तो विधायक ने लगा दी खुद की धनराशि

Sachin Trivedi | Publish: May, 11 2018 03:07:17 PM (IST) Ratlam, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश के इस शहर में जल संकट को पटरी पर लाने विधायक को जुटना पड़ा

रतलाम. तीन दिनों से पेयजल की भारी किल्लत का सामना कर रहे रहवासियों का आक्रोश गुरुवार को फूट पड़ा। जवाहरनगर एवं विरियाखेड़ी में पानी नहीं मिलने से नाराज लोग सड़क पर उतर आए। खाली बर्तन लेकर नगर निगम के खिलाफ प्रदर्शन कर चक्काजाम कर दिया। हालात गहराए तो शहर विधायक ने 13 लाख की निजी राशि से दो मोटर पंप बुलवाकर पेयजल व्यवस्था पटरी पर लाने के प्रयास किए है। 100 एचपी का एक मोटर पंप लगने के बाद गुुरुवार को शाम के समय जवाहरनगर सहित अन्य इलाकों में पानी बांटा गया।

शहर को पेयजल उपलब्ध कराने वाले धोलावाड़ इंटकवेल पर एकमात्र चालू टरबाइन बंद होने के बाद से बिगड़ी पेयजल व्यवस्था पर गुरुवार को लोगों गुस्सा का फूट पड़ा। जवाहरनगर में सुबह ८.४५ बजे तक नल नहीं आए तो रहवासियों ने एकत्रित होकर क्षेत्रीय पार्षद व महापौर परिषद सदस्य ताराचंद पंचोनिया का निवास घेर लिया। पंचोनिया ने जलप्रदाय अमले से संपर्क साधा लेकिन माकूल जवाब नहीं मिल पाया। ऐसे में नाराज लोग लक्ष्मणपुरा चौराहा पर आ गए और खाली बर्तन लेकर रोड पर बैठ गए। हंगामा बढऩे पर महापौर परिषद के सदस्य भगतसिंह भदौरिया मौके पर पहुंचे और नाराज लोगों को समझाने का प्रयास किया, लेकिन रहवासी तत्काल पानी उपलब्ध कराने की मांग पर अड़ गए। इस दौरान पार्षद पंचोनिया भी रहवासियों के साथ रोड पर ही बैठ गए। करीब ९.३० बजे भदौरिया की सूचना पर निगम उपायुक्त संदेश शर्मा लक्ष्मणपुरा पहुंचे और दोपहर तक पेयजल आपूर्ति की बात कही, लेकिन रहवासियों ने शर्मा की बात नहीं मानी। आखिरकार १० बजे निगम के तीन टैंकर क्षेत्र में पहुंचे तब रहवासियों का आक्रोश थमा।

विरियाखेड़ी में महापौर के समझाने पर हटे रहवासी
विरियाखेड़ी में भी सुबह के समय लोगों को पानी नहीं मिला। पहले ही जल संकट का सामना कर रहे रहवासी भड़क उठे और मुख्य रोड पर ही खाली बर्तन जमाकर रास्ता रोक दिया। क्षेत्रीय पार्षद मनीषा शर्मा ने रहवासियों से चर्चा कर महापौर डॉ. सुनीता यार्दे को सूचना दी। पार्षद भदौरिया सहित निगम का अमला भी मौके पर पहुंचा। रहवासियों ने साफ कहा कि कई दिनों से पानी की किल्लत झेल रहे है, कोई सुनवाई नहीं हो रही। महापौर ने मौके पर पहुंचकर लोगों से चर्चा की और समस्या के हल का आश्वासन दिया।

विधायक ने गुजरात से बुलवाए दो मोटर पंप
शहर में पेयजल की किल्लत को काबू करने के लिए विधायक चेतन्य काश्यप ने १३ लाख रुपए की निजी राशि से २ मोटर पंप निगम को उपलब्ध करा दिए। इससे गुरुवार शाम से शहर की जल वितरण व्यवस्था को पटरी पर लाने में मदद मिली। धोलावाड़ जलाशय पर आखरी टरबाइन खराब होने के बाद निगम कुछ क्षेत्रों में जलप्रदाय कर पा रहा था। विधायक काश्यप को इसकी जानकारी मिलते ही तत्काल प्रभावित हो रही जलप्रदाय व्यवस्था को सुचारू करने के निर्देश देते हुए निगम अमले से तकनीकी जानकारी मांगी। अमले ने पंप की समस्या बताई तो विधायक ने तत्काल 2 नए पंप मंगवाए। एक 100 एचपी क्षमता का पंप अहमदाबाद से एवं दूसरा 60 एचपी क्षमता का सबमर्सिबल पंप वापी से बुलवाया गया। 100 एचपी का पंप धोलावाड़ में लगा कर चालू भी कर दिया गया। इससे शहर में गुरूवार से जल प्रदाय व्यवस्था सुचारू करने में मदद मिली। दूसरा पंप भी धोलावाड़ पहुंच गया। इससे भविष्य में पानी की किल्लत नहीं होगी।

दिनभर पानी पर सरगर्मी, सुबह आक्रोश, शाम को आभार
सुबह ८ से ११ बजे तक यह चला
- जवाहरनगर एवं विरियाखेड़ी में रहवासियों ने चक्काजाम किया।
- महापौर परिषद के सदस्यों को जनाक्रोश का सामना करना पड़ा।
- विधायक ने निगम अमले से मोटर पंप टेस्टिंग की रिपोर्ट मांगी।
- महापौर विरियाखेड़ी पहुंची, निगम अमला धोलावाड़ रवाना हुआ।
दोपहर १२ से ३ बजे तक यह चला
- विधायक के निजी प्रयासों से लाए पंप से पानी पंपिंग की शुरूआत।
- प्रमुख टंकियों के साथ डायरेक्ट बुस्टिंग के जरिए शहर में पानी आया।
- महापौर परिषद सदस्यों को साथ लेकर धोलावाड़ निरीक्षण करने पहुंची।
अपरान्ह ४ से रात ८ बजे तक यह चला
- शाम के समय जवाहरनगर सहित ४ टंकियों से लगे क्षेत्र में पानी आया।
- महापौर परिषद ने मोटर पंप खरीदी को लेकर विधायक का आभार माना।
- रात को एक अन्य पंप की मदद से प्रमुख टंकियों तक पहुंचाया गया पानी।

पेयजल पहली प्राथमिकता
शहर में पेयजल व्यवस्था में सुधार के लिए हर संभव प्रयास किए गए है। मोटर पंप की समस्या बताई गई थी तो तत्काल दो पंप बुलवाकर धोलावाड़ भेज दिए है। नया पंप लगने के बाद शहर में पेयजल व्यवस्था सुचारू होने लगी है। निगम अमले को सभी क्षेत्रों में शेड्यूल अनुसार पेयजल वितरण के लिए कहा गया है, आपूर्ति में दिक्कत नहीं आने देंगे।
- चेतन्य काश्यप, उपाध्यक्ष राज्य योजना आयोग व शहर विधायक

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned