लालपानी पर भाजपा विधायक 'लाल'

sachin trivedi

Publish: May, 18 2018 02:38:49 PM (IST)

Ratlam, Madhya Pradesh, India
लालपानी पर भाजपा विधायक 'लाल'

जिला योजना समिति में नाराज होकर कहा, अब तो हमारी सुनो

रतलाम. लंबे समय के बाद गुरुवार को प्रभारी मंत्री की मौजूदगी में जिला योजना समिति की बैठक हुई। डेढ़ घंटे चली बैठक के दौरान कांग्रेस सांसद और भाजपा विधायकों सहित जियोस सदस्यों ने कई मुद्दों पर प्रशासन को घेरा। रतलाम ग्रामीण विधायक मथुरलाल डामर ने तो लालपानी के मुद्दें पर गुस्सा व्यक्त कर कलेक्टर और जिला पंचायत सीइओ की ओर इशारा करते हुए कह दिया कि अब तो हमारी सुन लो। जावरा विधायक राजेन्द्र पांडेय भी डामर की बात का समर्थन करते हुए नाराजगी जाहिर की। वहीं, सांसद कांतिलाल भूरिया ने बाजना बस स्टैंड पर निर्मित हो रहे फोरलेन की चौड़ाई पर सवाल उठा दिए। भूरिया ने साफ कहा कि क्या चौड़ाई कुछ अधिकारी और लोग तय करेंगे, जियोस किस लिए है। बैठक मेें आवास योजना पर भी सदस्य नाराज हुए।

कलेक्टोरेट सभागार में गुरुवार को दोपहर के बाद जिला योजना समिति की बैठक प्रभारी मंत्री दीपक जोशी की अध्यक्षता में हुई। बैठक मेंं सांसद कांतिलाल भूरिया ने सबसे पहले बाजना बस स्टैंड फोरलेन की चौड़ाई को लेकर जारी पत्र का जवाब नहीं मिलने का मुद्दा उठाया। सांसद ने कहा कि शासकीय पत्र का 3 दिन में जवाब देना चाहिए, लेकिन अब तक जवाब नहीं आया है। मास्टर प्लान में 18 मीटर का प्रावधान है, जबकि फोरलेन की चौड़ाई 32 मीटर की गई है। इसके लिए किसकी अनुमति ली गई थी, यह अधिकारी तय नहीं करेंगे, यह हम, आप और समिति को तय करना है। रेलवे पुलिया का कार्य भी अब तक शुरू नहीं हुआ है। सांसद ने नगर निगम को दी गई मोटरों पर भी सवाल किया कि क्या निगम इस तरह दान स्वीकार कर सकती है। बैठक में सदस्यों ने कहा कि पीएम आवास योजना में ग्राम रोजगार सहायक लोगों को परेशान कर रहे है। प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिए कि आगामी 3 दिन में जीआरएस की बैठक कर उनको समझा दिया जाए कि अब शिकायत आती है तो नौकरी चली जाएगी।

अपने विधायकों की नाराजगी पर चुप रहे प्रभारी मंत्री
जियोस में ग्रामीण विधायक मथुरालाल डामर ने गांवों में लालपानी की शिकायत पर प्रभारी मंत्री से दखल की मांग की। डामर ने कहा कि कई वर्षो से यह समस्या उठा रहा हूं, लेकिन कोई हल नहीं निकल रहा, डामर ने कलेक्टर और जिला पंचायत सीइओ की ओर इशारा करते हुए कहा कि अब तो हमारी सुन लो। इस पर जावरा विधायक डॉ. राजेन्द्र पांडेय ने भी कहा कि वर्ष १९९० से जियोस में लालपानी पर चर्चा हो रही है। प्रभारी मंत्री ने पीएचई विभाग से जवाब तो मांगा लेकिन निर्देश नहीं दिए।

नामली मेंं घोटाला पर भी सदस्य नाराज
जिला पंचायत उपाध्यक्ष डीपी धाकड़ ने नामली में सरकारी खरीदी केन्द्र पर गेहंू घोटाला सामने आने पर कार्रवाई का ब्यौरा मांगा। धाकड़ ने कहा कि सोसाइटी भंग हो गई थी, लेकिन फिर भी उसे कार्य दिया गया, इसकी जांच होना चाहिए। साथ ही नामली में शासकीय नालें पर निर्मित हुई दुकानों के मुद्दें पर भी जांच की मांग की गई। धाकड़ ने शिक्षा विभाग में भ्रष्टाचार का मुद्दा भी उठाया। प्रभारी मंत्री ने जांच का आश्वासन दिया।

जिला परीक्षा परिणामों में पिछड़ा क्यों
प्रभारी मंत्री ने जिला शिक्षा अधिकारी अमर वरदानी से पूछा कि बोर्ड परीक्षा परिणामों में रतलाम जिला इस वर्ष पिछड़ क्यों गया है। जिला शिक्षा अधिकारी ने सीबीएसइ पेटर्न तथा अतिथि शिक्षकों की ज्वाइनिंग नहीं होने को कारण बताया। प्रभारी मंत्री ने उत्तर से असंतुष्ट होते हुए कहा कि प्राचार्यो की तत्काल बैठक बुलाकर परिणामों की समीक्षा की जाए। बैठक में जावरा में प्राइवेट स्कूलों में भर्ती बच्चों से फीस लिए जाने की बात कुछ सदस्यों ने उठाई, इस पर प्रभारी मंत्री ने जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

बैठक में शहर व आलोट विधायक नहीं आए
जियोस में शहर विधायक चेतन्य काश्यप व आलोट विधायक जितेन्द्र गेहलोत अन्य व्यस्तता के कारण शामिल नहीं हुए। सांसद भूरिया, जिला पंचायत अध्यक्ष प्रमेश मईड़ा, विधायक राजेन्द्र पाण्डेय, मथुरालाल डामर, संगीता चारेल, जिला पंचायत उपाध्यक्ष डीण्ी धाकड़, महापौर डॉ. सुनीता यार्दे, कलेक्टर रूचिका चौहान, एसपी अमित सिंह, सीइओ जिपं सोमेश मिश्रा, जिला योजना समिति के सदस्य तथा अधिकारी उपस्थित थे।

Ad Block is Banned