रेलवे में खुद पर आई तो किया प्रदर्शन

जब नेताजी के खुद पर आई तो गुरुवार सुबह डीजलशेड गेट पर जमकर प्रदर्शन किया। इस प्रकार के प्रदर्शन दाहोद, चित्तौडग़ढ़, इंदौर, उज्जैन से लेकर महू आदि स्थान पर हुए।

By: vikram ahirwar

Published: 16 Mar 2017, 03:06 PM IST



रतलाम। रेलवे में संरक्षा पद के कर्मचारियों पर 30 जनवरी को रेलवे बोर्ड ने विभिन्न रेल संगठन में काम करने पर या साफ कहे तो नेतागिरी करने पर रोक लगा दी। जब नेताजी के खुद पर आई तो गुरुवार सुबह डीजलशेड गेट पर जमकर प्रदर्शन किया। इस प्रकार के प्रदर्शन दाहोद, चित्तौडग़ढ़, इंदौर, उज्जैन से लेकर महू आदि स्थान पर हुए।

वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाईज यूनियन ने गुरुवार सुबह डीजलशेड गेट पर प्रदर्शन का आयोजन किया था। इस दौरान मंडल अध्यक्ष मनोहर पचौरी ने कहा कि रेलवे बोर्ड सरकार के कहने पर कर्मचारियों की आवाज को दबाना चाह रहा है। बोर्ड की इस इच्छा को पूरा नहीं होने दिया जाएगा। मंडल मंत्री एसबी श्रीवास्तव ने कहा कि सेफ्टी केटेगरी में कर्मचारी पहले अपना काम करता है इसके बाद संगठन को समय देता है।

नेतागिरी के लिए कर्मचारी नहीं जुडे

अन्य संगठन की तरह हमारे संगठन में सिर्फ नेतागिरी के लिए कर्मचारी नहीं जुडे है। इसलिए रेलवे बोर्ड को इस निर्णय पर फिर से विचार की जरुरत है। संगठन की केंद्रीय उपाध्यक्ष सीमा कौशिक ने कहा कि रेल कर्मचायियों ने जब-जब संगठीत होकर आवाज उठाई है, बोर्ड हो या मंत्रालय सभी को कर्मचारी की बात माननी पड़ी है। इसलिए हम सभी को मिलकर कर्मचारियों के हित में इस निर्णय का विरोध करना होगा।

पहले भी हुए है प्रदर्शन

असल में रेलवे बोर्ड ने 30 जनवरी को आदेश जारी किया। इस आदेश अनुसार 31 मार्च के बाद वे सभी रेलकर्मी जो संरक्षा विभाग के है, उनके रेल संगठन में पदाधिकारी बनने पर रोक लगा दी गई। मंडल में यूनियन में संरक्षा विभाग से मंडल मंत्री एसबी श्रीवास्तव है। ये स्थिति पश्चिम रेलवे में विभिन्न संगठन के पदाधिकारियों में है। इसलिए इस निर्णय का जमकर विरोध हो रहा है। रेलवे बोर्ड ने फरवरी से अब तक हुए विरोध प्रदर्शन पर कुछ नहीं कहा है।

साफ कर दिया

हालाकि रेलवे बोर्ड ने आदेश जारी करने के बाद ये साफ कर दिया था कि 31 मार्च तक जो कर्मचारी संगठन में पद का त्याग नहीं करेंगे, उनको या तो तबादला झेलना होगा या रेलवे और कड़ा निर्णय इन कर्मचारियों पर लेगा। अब आगे क्या होगा, ये 31 मार्च के बाद ही साफ होगा।

Show More
vikram ahirwar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned