रेलवे में निजीकरण का विरोध: रेल कर्मचारियों ने लगाए नारे

रेलवे में निजीकरण का विरोध: रेल कर्मचारियों ने लगाए नारे

Yggyadutt Parale | Updated: 13 Jul 2019, 06:05:37 PM (IST) Ratlam, Ratlam, Madhya Pradesh, India

रेलवे में निजीकरण का विरोध: रेल कर्मचारियों ने लगाए नारे

रतलाम। रेलवे में निजीकरण व निगम बनाने के खिलाफ अब रेल संगठन लामबंद हो रहे है। शुक्रवार को मंडल मुख्यालय पर वेस्टर्न रेलवे मजदूर संघ ने सुबह से लेकर शाम तक अलग-अलग तीन स्थान पर प्रदर्शन करते हुए सरकारी की रेलवे के निजीकरण की दिशा में बढ़ रहे कदम की निंदा की व जमकर प्रदर्शन किया।

मजदूर संघ ने सुबह ७.३० बजे डीजलशेड में सबसे पहला प्रदर्शन किया। यहां पर कर्मचारियों को संबोधित करते हुए मंडल मंत्री बीके गर्ग ने कहा कि रेलवे कॉलोनी की बिक्री करने की योजना बन गई है। रेल का संचालन निजी हाथ में दे रहे है। जो उत्पादन इकाई लाभ दे रही है, उसको निजी हाथ में सौपने की अनुमति सरकार देने जा रही है। डॉ. राघवैय्या दिल्ली में, जेजी माहुकर मुंबई में व रतलाम में हम सब इसके खिलाफ उठ खडे़ हुए है।

डीआरएम कार्यालय में भी प्रदर्शन
दोपहर में मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय में दूसरा प्रदर्शन दोपहर १ बजे से शुरू हुआ। इस दौरान सहायक मंडल मंत्री दीपक भारद्वाज ने कहा कि लंबे समय से कहा जा रहा है कि नई पेंशन योजना को रद्द किया जाए। जनप्रतिनिधि अपने वेतन से लेकर भत्ते बढ़ा लेते है, लेकिन रेल कर्मचारी को पेंशन देने से रोक लगा दी गई। २००४ से लगी इस रोक को हटाकर पूर्व की जारी पेंशन योजना को लागू करने की मांग करना गलत नहीं है। सरकार को इस बारे में एक बार अपनी निती को साफ करना होगा कि वो कर्मचारियों के साथ है या नहीं।

 

शाम को स्टेशन पर प्रदर्शन
शाम को रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शन हुआ। यहां पर युवा समिति अध्यक्ष गौरव दुबे, संयुक्त सचिव वाजीद खान, मीडिया प्रभारी चंपालाल गिडवानी आदि ने संबोधन में कहा कि सरकारी पदों को सरेंडर कर रही है। मंडल सहित देशभर में संरक्षा के डेढ़ लाख के करीब पद रिकत है। यात्री सुरक्षा का ढोल पीटा जा रहा है, लेकिन जरूरी पदों को भरने के बजाए सरकार इनको सरेंडर करके समाप्त कर रही है। बाद में इन अलग-अलग पद के विभाग को निजी हाथ में देने की योजना बना रही है। इसको सफल नहीं होने देंगे।

ये रहे शामिल
विरोध प्रदर्शन में मंडल उपाध्यक्ष प्रमोद व्यास, युवा समिति सचिव धीरज प्रजापति, राकेश दुबे, प्रताप गिरी, मंडल कोषाध्यक्ष अतुल सिंह राठौड़, मायादेवी, रमाश्रीवास, पार्वती, नीलकमल, गीतादेवी आदि सभी ब्रंाचो के पदाधिकारी एवं रेलवे कर्मचारी बड़ी संख्या में उपस्थित थे।

patrika

समस्याओं को लेकर ज्ञापन सौंपा
रतलाम। चर्चगेट मुख्यालय के चीफ मैकेनिकल प्लानिंग एके गुप्ता के मंडल मुख्यालय में डीजलशेड आने पर वेस्टर्न रेलवे एत्प्लाइज यूनियन की डीजलशेड शाखा ने मुलाकात कर विभिन्न समस्याओं के बारे में बताया व इसके लिए ज्ञापन दिया। इस दौरान अधिकारी गुप्ता ने भरोसा दिया कि समस्याओं के समाधान के लिए हर स्तर पर प्रयास किए जाएंगे। डीजल शेड शाखा के अध्यक्ष श्याम चरण शर्मा सचिव सुनील चतुर्वेदी के नेतृत्व में प्रतिनिधिमंडल ने मिलकर कर्मचारियों की समस्याओं पर चर्चा की। प्रतिनिधिमंडल ने डीजल शेड में कार्यरत विभिन्न कर्मचारियों की समस्याओं के बारे में विस्तार से बताया। इस दौरान मंडल मुख्यालय से गांधीनगर तबादला किए गए कर्मचारियों के आदेश को निरस्त करने की बात करते हुए कर्मचारियों की कमी से डीजलशेड में आ रही समस्याओं के बारे में बताया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ मंडल यांत्रिक इंजीनियर ( डीजल) विनोद कुमार की उपस्थित में कर्मचारियों ने बताया कि उनकी समस्याओं के लिए वे लंबे समय से लड़ रहे है, लेकिन अब तक सुनवाई नहीं हुई है। इस पर अधिकारी गुप्ता ने कहा कि वे इसके स्थायी समाधान की दिशा में काम करेंगे। इस अवसर पर ओम प्रकाश मीणा, विमलेश श्रीवास्तव, हरीश मिश्रा, अरविंद भट्ट, भूपेंद्र मकवाना आदि उपस्थित थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned