BREAKING उज्जैन से चित्तौडग़ढ़ मेमू ट्रेन को रेलवे का ग्रीन सिग्नल

रेलवे मंडल को जल्दी ही दो बड़ी सौगात मिलने जा रही है। इसके लिए रतलाम रेल मंडल से लेकर पश्चिम रेलवे ने ग्रीन सिग्नल दे दिया है।

By: Ashish Pathak

Published: 18 Jul 2021, 12:06 PM IST

रतलाम. रेलवे मंडल को जल्दी ही दो बड़ी सौगात मिलने जा रही है। इसके लिए रतलाम रेल मंडल से लेकर पश्चिम रेलवे ने ग्रीन सिग्नल दे दिया है। अब जल्दी ही रेलवे बोर्ड भी इसकी मंजूरी देने जा रहा है। सब कुछ सही रहा तो अगस्त तक दो नई ट्रेन दौडऩे लगेगी। इंदौर फतेहाबाद उज्जैन के बीच जो ट्रेन चलेगी वो आईसीएफ श्रेणी के रैक के साथ दौड़ेगी। इसके अलावा उज्जैन चित्तौडग़ढ़ के बीच मेमू ट्रेन की भी मूंजरी हो गई है।

MP Railway सिक्कों से 'ग्रीन' सिग्नल को कर दिया 'रेड', 8 ट्रेन 9 दिन में लूटी

Over 630 children rescued from railway premises by RPF during Covid19

इंदौर फतेहाबाद उज्जैन के बीच मुंबई की तर्ज पर जल्दी ही ट्रेनें दौड़ती हुई नजर आएंगी। जल्द ही दो आईसीएफ श्रेणी के रैक की ट्रेनों का संचालन शुरू होने वाला है। इन ट्रेनों के शुरू होने से इंदौर फतेहाबाद उज्जैन के बीच रोजाना सफर करने वाले हजारों यात्रियों को यात्रा में न सिर्फ सहूलियत होगी, बल्कि व्यापार - व्यवसाय के लिए आने-जाने वालों को भी फायदा होगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी मध्यप्रदेश को बड़ी सौगात

train ticket

एक साल पहले उठी आवाज
असल में एक साल पहले पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक के आगमन के दौरान उज्जैन सांसद अनिल फिरोजिया ने इस तरह से लोकल ट्रेन शुरू करने का प्रस्ताव दिया था। इसके बाद रेलवे ने इस दिशा में काम शुरू किया था। बता दें कि उज्जैन - इंदौर के बीच रोजाना हजारों की संख्या में यात्री सफर करते हैं। जिसमें बड़ी संख्या में डेली अप डाउनर सहित व्यापार और नौकरी पेशा वाले यात्री होते हैं। संासद का कहना था ऐसे में कई यात्री ऐसे भी हैं जो महाकाल मंदिर दर्शन कर वापस इंदौर लौट जाना चाहते हैं। ऐसे लोगों के लिए मेमू स्तर ट्रेन सफर आसान बनाएगी। हालांकि रेलवे ने मेमू स्तर की ट्रेन के बजाए आईसीएफ श्रेणी के रैक वाली ट्रेन को मंजूरी दे दी है। अब सब कुछ सही रहा तो अगस्त में यह ट्रेन दौड़ जाएगी।

रतलाम पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई है अंजली काजल पूजा

No regular train in five hours to go to Bhopal by changing the time of Mangla, Samta Express
IMAGE CREDIT: patrika

उज्जैन से चित्तौडग़ढ़ मेमू चलेगी
इसके अलावा रेलवे उज्जैन से लेकर फतेहाबाद के रास्ते रतलाम मंदसौर होते हुए चित्तौडग़ढ़ के लिए मेमू ट्रेन अगस्त में चलाने जा रहा है। इसके लिए भी प्रस्ताव को पश्चिम रेलवे ने मंजूरी दे दी है। अब सिर्फ रेलवे बोर्ड के पास यह मामला है, जो अगले सप्ताह तक मंजूर होने की बात की जा रही है।

नए रेल मंत्री के आते ही हुआ यह बड़ा बदलाव

From March 31, there will be jail for carrying flammable substances in the train or smoking
IMAGE CREDIT: patrika

यहां होगा ठहराव
उज्जैन चित्तौडग़ढ़ ट्रेन के शुरू होने पर इसका ठहराव फतेहाबाद, बडऩगर, रतलाम, जावरा, मंदसौर, पिपलियामंडी, नीमच, मल्हारगढ़, जावदरोड, चित्तौडग़ढ़ में प्रस्तावित किया गया है। ट्रेन की गति 95 से 110 किलोमीटर प्रतिघंटा की रहेगी। पूरी तरह से आरक्षित इस ट्रेन में अनारक्षित दो डिब्बे रहेंगे। इसके अलावा इंदौर फतेहाबाद उज्जैन ट्रेन का ठहराव हर स्टेशन पर होगा व यह प्रस्ताव के अनुसार अनारक्षित रुप से चलेगी।

Corona Virus के बीच चलती ट्रेन में विजिलेंस की रेड

Railway News: कोरोना काल में कबाड़ ने रेलवे को दी 4.5 करोड़ की आय, ये रही पूरी जानकारी

दो ट्रेन के प्रस्ताव भेजे है
इंदौर फतेहाबाद उज्जैन के बीच आईसीएफ श्रेणी के रैक के साथ व चित्तौडग़ढ़ रतलाम उज्जैन मेमू ट्रेन के प्रस्ताव भेजे गए है। हमारी तैयारी पूरी है। इनके मंजूर होते ही दोनों ट्रेन का संचालन शुरू हो जाएगा।
- विनीत गुप्ता, मंडल रेल प्रबंधक

special train for gorakhpur special train for patna
IMAGE CREDIT: patrika
Show More
Ashish Pathak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned