शहर व कोर्ट में क्यों हुई पुलिस मुस्तैद पढ़ें खबर....

- कपिल हत्याकांड के मामले में आज फैसला

 

By: Virendra Rathod

Published: 24 Jul 2018, 12:54 PM IST

रतलाम। शहर के अमन चेन को छीनकर एक पखवाडे तक कफ्र्यू के साये में धकेल देने वाले बहुचर्चित कपिल हत्याकाण्ड का फैसला आज मंगलवार को आने की पूरी तरह से उम्मीद है। जिसको लेकर एसपी गौरवतिवारी ने बाहरी पुलिस बल कोर्ट और संदिग्ध इलाकों में तैनात किया है। कोर्ट ने मेटल डिटेक्टर लगाकर आने जाने वालों की पुलिस चेकिंग कर रही है। हालांकि प्रकरण में दोनो पक्षों की बहस पूरी हो चुकी है। प्रकरण में अभियोजन पक्ष ने जहां अभियुक्तों को मृत्युदण्ड देने की मांग की हैं,वहीं बचाव पक्ष ने अभियोजन के प्रकरण को संदिग्ध बताते हुए अभियुक्तों को दोषमुक्त करने की मांग की है।

 

यह है मामला

गौरतलब है कि करीब चार वर्ष पूर्व 27 सितम्बर 2014 को अज्ञात आरोपियों ने नगर निगम में तत्कालीन नेता प्रतिपक्ष कांग्रेस नेत्री यास्मीन शैरानी पर फायर किए थे। इस घटना के बाद शहर में तनाव व्याप्त हो गया था और शहर बन्द हो गया था। इसी दौरान पांच आरोपियों ने मौके का फायदा उठाते हुए रोडवेज बस स्टैण्ड पर पंहुचकर बजरंग दल के कार्यकर्ता कपिल राठौड की दुकान पर हमला कर दिया था। इस वारदात में आरोपियों ने कपिल राठौड पर रिवाल्वर से कई फायर किए थे। दुकान पर काम करने वाले एक युवक पुखराज के गले पर छूरे से वार किए गए थे। कपिल राठौड के छोटे भाई विक्रम राठौड पर भी गोलियां दागी गई थी। इस घटना में कपिल और पुखराज की घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी,जबकि कपिल का भाई विक्रम गंभीर रुप से घायल हो गया था। इस हत्याकाण्ड के बाद पूरे शहर में कफ्र्यू लगा दिया गया था। पूरे एक महीने तक शहर में कफ्र्यू लगा रहा और आम लोगों का जीवन अस्त व्यस्त हो गया था।

 

एक आरोपी अभी भी फरार

पुलिस ने कपिल और पुखराज की हत्या के प्रकरण में कुल नौ आरोपियों को नामजद किया था। इनमें से आठ आरोपी गिरफ्तार हो चुके है,जबकि एक आरोपी मुतल्लिफ अब तक फरार है। अभियोजन के अनुसार,हत्याकाण्ड के मुख्य आरोपी हैदर पिता इमदाद शैरानी,रिजवान पिता रमजानी शैरानी,मुसैफ उर्फ कप्तान पिता इरफान शैरानी,नासिर उर्फ निसार अली पिता निजाम अली ने इस हत्याकाण्ड को अंजाम दिया था। ये चार आरोपी,फरार आरोपी मुतल्लिफ के साथ दो मोटर साईकिलों पर सवार होकर कपिल की दुकान पर पंहुचे थे। पुलिस ने इन पांच आरोपियों के अलावा हत्याकाण्ड में अप्रत्यक्ष तौर पर शामिल रहे चार अन्य व्यक्तियों जाहिद पिता गुलाम मोहम्मद,याहया पिता कासम खां शैरानी,मूसा खान पिता अब्दुल करीम और सैफूल्ला पिता रमजानी खां शैरानी को भी गिरफ्तार किया था। इनमें से जाहिद ने आरोपियों को बाइक उपलब्ध कराई थी,जबकि याहया ने रिवाल्वर उपलब्ध कराया था। इसी तरह अन्य दो आरोपियों ने भी छूरा और रिवाल्वर उपलब्ध कराए थे।

 

एतिहायत के तौर पर पुलिस बल किया मुस्तैद

शहर में किसी भी प्रकार से कानून व्यवस्था न बिगड़े, इसीलिए पुरानी बातों को ध्यान में रखकर पुलिस बल की सख्ती की गई है। कोर्ट में आने जाने वाले की तलाशी ली जा रही और संदिग्ध इलाकों में पुलिस बल तैनात किया गया है। जिससे कोई अप्रिय घटना न हो।

- गौरव तिवारी, एसपी रतलाम।

Show More
Virendra Rathod Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned