मंडियों में जगह नहीं: प्याज-लहसुन-अनाज के व्यापार पर असर

किसानों के साथ-साथ कृषि उपज मंडी में अनाज व्यापारी भी हो रहे परेशान

By: harinath dwivedi

Published: 24 May 2018, 05:34 PM IST

रतलाम। भावांतर भुगतान योजनान्तर्गत कृषि उपज मंडी में की जा रही खरीदी, मंडी प्रशासन के लिए मुसिबत बन गई है, कृषि उपज मंडी महूृ-नीमच रोड और सैलाना बस स्टैंड सब्जी मंडी में जगह नहीं है तो किसानों की उपज कभी आधे दिन बाद तो कभी एक दिन बाद नीलाम करने की स्थिति निर्मित हो रही है। व्यवस्था गड़बड़ाने के कारण लहसुन-प्याज के भाव किसानों को मिल नहीं रहे हैं, तो दो-दो दिन तक इंतजार करना पड़ रहा है, वहीं दूसरी तरफ अनाज के प्लेटफार्म पर प्याज के ढेर लग जाने के कारण अनाज व्यापारियों का व्यापार और आवागमन भी प्रभावित होने लगा है, इससे वे भी नाराज नजर आ रहे हैं। बुधवार मात्र १६० ट्राली यानी १०२६५ कट्टें ही प्याज के नीलाम किए गए, जबकि कृषि उपज मंडी में अब भी ५१५ ट्राली यानि की २० हजार कट्टे नीलाम होना शेष है।
मंडी प्रशासन ने रविवार को कृषि उपज मंडी में प्याज नीलामी करवाने के बाद सोमवार को नीलामी नहीं की। मंगलवार नीलाम किए, लेकिन बुधवार को फिर स्थिति बिगड़ गई। अब हालात ये है कि दोनों मंडियों में जगह की कमी के चलते आवागमन अवरूद्ध होने लगा है। बुधवार को सैलाना बस स्टैंड सब्जी मंडी में लहसुन के ९३८५ कट्टे २६० से २०७७ रुपए क्विंटल के भाव नीलाम किए गए, वहीं प्याज ६२६२ कट्टे १६७ से ६९२ रुपए प्रति क्विंटल के भाव से खरीदे गए। सचिव एमएल बारसे ने बताया कि गुरुवार को प्याज लहसुन-प्याज मंडी में ही नीलाम किए जाएंगे।
दो परिवहनकर्ताओं पर 69279 की पैनल्टी
रतलाम. चने के परिवहन कार्य में विलम्ब पर दो परिवहनकर्ताओं पर पैनल्टी अधिरोपित की गई है। कलेक्टर रुचिका चौहान के निर्देश पर 69 हजार 279 रुपये की पैनल्टी वसूल की जाएगी। परिवहनकर्ता मेसर्स स्वास्तिक इंटरप्राईजेस रतलाम से प्राथमिक सहकारी संस्था नगरा तथा प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था नान्दलेठा के चना परिवहन में विलम्ब किए जाने पर 33 हजार 642 पैनल्टी अधिरोपित की गई है। मेसर्स दीपेश कुमार एण्ड संस उज्जैन पर प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था विक्रमगढ़ आलोट मण्डी तथा प्राथमिक कृषि साख सहकारी संस्था खारवाखुर्द ताल मण्डी के चना परिवहन विलम्ब पर 35 हजार 637 रुपए पैनल्टी अधिरोपित की गई है।

समर्थन मूल्य चना खरीदी केंद्र नामली में चल रहा गड़बड़झाला
कृषि उपज मंडी स्थित नामली समर्थन मूल्य खरीदी केंद्र पर गड़बड़ झाला रूकने का नाम ही नहीं ले रहे है। गत दिवस भी एक किसान ने विरोध किया तो केंद्र प्रभारी और सर्वेयर की कार्यप्रणाली सामने आई थी, वहीं बुधवार को सर्वेयर द्वारा पास किए चने को जब नामली केंद्र प्रभारी सुनिल शर्मा ने देखा तो भरे हुए कट्टे का तोल रुकवाते हुए कहां कि यह चने नहीं तुलेंगे खराब है चने इसमें क्यों मिलाए। हम्मालों से कहा कि सर्वेयर आकर बोलकर गया है, तो प्रभारी ने कहा कि मैं जो बुलूगां वह करोंगे की सर्वेयर बोलेगा वह करोंगे, किस सर्वेयर ने तुम्हारे चने पास किए बंद करो बारदान भरना। हम्मालों ने बारदान भरने का कार्य रोक दिया, वहीं केंद्र प्रभारी शर्मा ने सर्वेयर कर्मचारियों के रूचि सोया प्रजापति से मोबाइल पर बात कर सर्वेयर की कारास्तानी को बताया। बुधवार दोपहर सर्वेयर द्वारा सेमलिया के किसान काशीराम मोतीराम पहले सर्वेयर ने चना फेल कर दिया था, काले दाने होने के कारण, बाद में सर्वेयर राहुल आया फेल चना भी पास कर दिया और किसान ने पास देशी और इटालियन चने में काले चने मिला दिया।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned