जीप ने बाइक को मारी टक्कर, वृद्धा की मौत, पिता-पुत्र घायल

ग्रामीणों ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल

By: harinath dwivedi

Published: 15 Nov 2018, 05:28 PM IST

रतलाम/ नामली. महू-नीमच फोरलेन पर नामली और इप्का फैक्ट्री के बीच बुधवार शाम एक बाइक व बोलेरो में टक्कर हो गई। घटना के बाद बोलेरा बीच सड़क पर पलट गई। वहीं बाइक पर सवार तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए, जिन्हे उपचार के जिला अस्पताल लाया गया। यहां घायल वृद्धा की उपचार के दौरान मौत हो गई। बोलेरो में सवार लोग कोई भी व्यक्ति उपचार के लिए अस्पताल नहीं पहुंचा था।
पुलिस के अनुसार घटना शाम करीब ५.४५ बजे करीब की है। पिकअप की बाइक से टक्कर हो गई थी। बाइक सवार धौंसवास निवासी धापूबाई जाट ७०, उमेश जाट १५ व भंवरलाल जाट ५२ को गंभीर चोटें आई। उपचार के दौरान वृद्धा की मौत हो गई। घायल भंवरलाल ने बताया कि वह रतलाम से गांव जा रहे थे। बोलेरो ने टक्कर मारी थी, जिससे उनकी बाइक गिर गई। बाद में बोलेरो भी सड़क पर पलट गई थी, लेकिन उसमें कोई घायल हुआ या नहीं ये पता नहीं चल सका है। घटना की सूचना पर नामली थाना पुलिस भी मौके पर पहुंच गई थी।
बाइक चालक ने दो को टक्कर मारी, एक का पांव टूटा
नामली. नगर की सड़कों पर शाम ढलते ही बाइक चालक गली मोहल्ले में तेज रफ्तार से बाइक चलाते हैं। इन बाइक चालकों की वजह से कई बार आमजन छोटी छोटी दुर्घटनाओं के शिकार होते रहते हैं। बुधवार रात्रि आठ बजे ऐसी ही एक घटना में एक व्यक्ति का पांव टूट गया। मिली जानकारी के अनुसार सेमलिया निवासी बाइक चालक ने पहले तो शर्मा ढाबे के सामने ग्राम भदवासा निवासी श्यामलाल तेली (60 वर्ष) को टक्कर मारी जिन्हें ग्रामीण सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाए, जहां पर डॉक्टर राजेश मंडलोई द्वारा उपचार किया गया ।कुछ समय बाद इसी बाइक सवार ने अंबेडकर चौराहे पर पैदल घर जा रहे शिक्षक भंवर सिंह सिसोदिया को टक्कर मार दी जिससे शिक्षक घटना स्थल पर ही बेहोश होकर गिर गए। लोगों ने उन्हें तत्काल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भिजवाया। जहां पर चिकित्सक ने खून अधिक बहने ओर घुटने में से पांव टूटने से हालात गंभीर होने पर सीधा रतलाम रैफर कर दिया। जिस पर परिजन रतलाम के निजी हॉस्पिटल ले गए। इधर पुलिस ने बाइक चालक केशव पिता विष्णुराम धबाई निवासी सेमलिया के खिलाफ मामला दर्ज कर गिरफ़्तार कर लिया है। इधर स्थानीय लोगों ने पुलिस से मांग की है कि नगर में तेज गति से बाइक चलाने वाले युवाओं के खिलाफ कार्रवाई की जाए ताकि किसी प्रकार की बड़ी घटना पर अंकुश लग सके।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned