भावांतर में उपज बेची, 700 किसानों ने जमा नहीं कराए अब तक दस्तावेज

मंडी में भावांतर भुगतान योजना खरीदी के अंतिम दिन नीलामी की वीडियोग्राफी

By: Chandraprakash Sharma

Published: 19 Jan 2019, 05:36 PM IST

रतलाम। समर्थन मूल्य पर मंूग-उड़द और मंडी में फ्लैट भावांतर भुगतान योजना अन्तर्गत सोयाबीन-मक्का की खरीदी की आज अंतिम तारिख है। कृषि उपज मंडी कर्मचारियों का हाल यह है कि पूरा माह निकल गया, मात्र अंतिम दिन नीलामी की वीडियोग्राफी कराना समझ से परे है। जबकि पिछले कई दिनों से मंडी में सोयाबीन की 300 से 350ट्राली की आवक हो रही है।
शुक्रवार को भी सोयाबीन की 350 और मक्का की 3 ट्राली मंडी पहुंची थी। सोयाबीन 2600 से 3712 रुपए प्रति क्विंटल के भाव नीलाम हुआ। जबकि मक्का के भाव १६९१ से 1827 रुपए प्रति क्विंटल के भाव खरीदी गई। वहीं समर्थन मूल्य पर धराड़ और करमदी केंद्र पर बगैर वीडियोग्राफी के केंद्र संचालकों द्वारा उड़द की खरीदारी की जा रही है। यहां के सर्वेयर राजपूत की माने तो नोडल अधिकारी तक यहां कई दिनों से नहीं आई है। खरीदी के पांच दिन निर्धारित कर रखे हैं, जबकि छठ दिन शनिवार है अब केंद्र संचालकों को यह चिंता सता रही है कि अगर कोई किसान यहां आता है तो उसके बिल बनेंगे के नहीं, १९ जनवरी के मैसेज भी नहीं है।
15 जनवरी तक जिले में खरीदी की स्थिति
खरीफ 2018 फ्लैट भावांतर भुगतान योजना अन्तर्गत जिले में सर्वाधिक खरीदी जावरा मंडी में की गई। सोयाबीन 22334 किसानों द्वारा 453072 क्विं बेची। रतलाम में 17345 किसानों द्वारा 408742 क्विं सोयाबीन तोली गई। सबसे कम सोयाबीन सैलाना मंडी में 6391 किसानों द्वारा 109334 क्विं बेची गई। मक्का रतलाम मंडी में 656 किसानों द्वारा 12214 क्विं और कम ताल में 35 किसानों द्वारा 74 क्विं बेची गई। खाद्य आपूर्ति अधिकारी बीएस जामरे ने बताया कि 6908 पंजीकृत किसानों में से 4520 के पास मैसेज पहुंचे। 2773 किसानों ने उड़द 20 हजार 725 क्विं केंद्रों पर बैचा है।
700 किसानों ने नहीं जमा कराए दस्तावेज
मंडी सचिव एमएल बारसे ने बताया कि अब तक जिले के 700 के करीब किसानों ने उपज बेचने के बाद दस्तावेज जमा नहीं कराए। किसानों का वाट्सएप और मोबाइल लगाकर भी सूचना की जा रही है। सोयाबीन के 665 और मक्का के 30 किसान अब भी शेष है, जो 19 जनवरी तक अपने दस्तावेज मंडी कार्यालय में जमा करा दें, ताकि उन्हे योजना का लाभ मिल सकें। 15जनवरी की स्थिति में अब तक63317 सोयाबीन और 107 किसानों ने अपने दस्तावेज जमा कराए है।

Chandraprakash Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned