ऑनलाइन परीक्षा में खड़ी हुई परेशानी, कई वंचित रह गए, कुछ की दोबारा ली

ऑनलाइन परीक्षा में खड़ी हुई परेशानी, कई वंचित रह गए, कुछ की दोबारा ली

Chandraprakash Sharma | Publish: Jul, 17 2019 05:32:27 PM (IST) Neemuch, Neemuch, Madhya Pradesh, India

ऑनलाइन परीक्षा में खड़ी हुई परेशानी, कई वंचित रह गए, कुछ की दोबारा ली

रतलाम। आईटीआई स्टेनो टाइपिंग परीक्षा इसी साल से सजन कॉलेज में ऑनलाइन शुरू हुई। पहले ही साल विद्यार्थियों के सामने संकट खड़ा हो गया। पहले प्रश्नपत्र में आई दिक्कत के बाद शिकायत करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं हुई और मंगलवार को हुए दूसरे प्रश्न पत्र में परीक्षा दे रहे विद्यार्थियों को टाइपिंग करने के दौरान फोंट ही बदल गए। विद्यार्थी कुछ समझ पाते और इन्हें ठीक करते इसके पहले ही समय खत्म हो गया और पेपर अपने आप ही सबमिट हो गया। विद्यार्थियों ने विरोध किया और कुछ विद्यार्थी शिकायत करने आईटीआई पहुंचे तो कुछ वहीं पर रुके रह गए। जो रुक गए उनकी दोबारा परीक्षा ले ली गई किंतु जो शिकायत करने आईटीआई पहुंच गए वे वंचित रह गए। इसी बात को लेकर अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) के छात्र नेताओं ने वंचित रहे विद्यार्थियों के साथ आईटीआई के प्राचार्य के सामने अपनी बात रखी लेकिन संतोषजनक समाधान नहीं हो पाया। प्राचार्य का कहना है कि उन्हें यहां नहीं आकर वहीं पर अपनी शिकायत दर्ज कराना थी।
आईटीआई स्टेनों की परीक्षा प्रदेशभर में एप्टेक कंपनी करवा रही है। इसके लिए रतलाम के सृजन कॉलेज को सेंटर बनाया गया है। रतलाम के महिला आईटीआई की २३ छात्राएं और मनासा के २९ विद्यार्थी इस परीक्षा में शामिल हुए हैं। मंगलवार को हुई परीक्षा के दौरान माउस नहीं चलने और बार-बार फोंट बिगड़ते रहे जिससे विद्यार्थी परेशान हुए। परीक्षा खत्म होने तक कोई भी हल नहीं कर पाया। अभाविप के कृष्णा डिंडोर और कृतिका पाठक ने बताया विद्यार्थियों ने उन्हें इस बात की जानकारी दी तो वे पहुंचे। यहां से सभी के साथ आईटीआई पहुंचे और प्राचार्य यूपी अहिरवार से इसकी शिकायत की। विद्यार्थियों का कहना था कि पूर्व में हुए प्रश्न पत्र को लेकर भी आईटीआई में शिकायत की गई थी किंतु कोई कार्रवाई नहीं हुई।


हमने ऊपर बताई है समस्या
पूरे प्रदेश में एक साथ ऑनलाइन परीक्षा शुरू होती और बंद होती है। कुछ विद्यार्थियों को दिक्कत आई थी जिनका प्रश्न पत्र रिशेड्युल करवा दिया गया है। जो लोग यहा चलकर आ गए थे वे वंचित रह गए हैं। परीक्षा केंद्र निजी कॉलेज को बनाया गया है इसलिए हम उसमें कुछ नहीं कर सकते हैं। वरिष्ठ कार्यालय में हमने सूचना दे दी है।
- यूपी अहिरवार, प्राचार्य आईटीआई


कुछ की रिशेड्यूल करवा दी परीक्षा
कुछ विद्यार्थियों को परेशानी आई थी जिनका प्रश्न पत्र रिशेड्युल करवा दिया गया था। यह परीक्षा एप्टेक कंपनी ले रही है। हमारे कॉलेज को परीक्षा केंद्र बनाया गया है। हम केवल सिस्टम और परिसर उपलब्ध करवाते हैं। सर्वर में कुछ परेशानी होने से दिक्कत जरुर आई थी किंतु हम इसमें कुछ हस्तक्षेप नहीं कर सकते हैं।
- मोइन, केंद्राध्यक्ष सृजन कॉलेज, रतलाम

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned