मौत से पहले युवक ने सोशल मीडिया पर 'इश्क की कहानी में मरे हैं हम, हमारा नाम तारीखों में लिखनाÓ पोस्ट डाली और प्यार में असफल होने पर खुद को मारी गोली

रतलाम के तिरुपति नगर में दोस्त के किराए के कमरे पर कुछ देर आराम करने का कहकर रुका और सोशल मीडिया पर पोस्ट करके मार ली गोली

रतलाम। प्यार में असफल रहने पर मानसिक तनाव में आए नयागांव निवासी अभा विद्यार्थी परिषद के पूर्व पदाधिकारी नरेंद्रसिंह पिता अरविंदसिंह माहोर (22) नामक युवक ने दोस्त गजेंद्र के तिरुपति नगर स्थित किराए के मकान में खुद को सीने में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मकान से गोली की आवाज पर पड़ोसियों ने किराएदार गजेंद्र को सूचना दी और गजेंद्र की सूचना पर औद्योगिक क्षेत्र थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने देशी पिस्तौल और कारतूस का खोखा बरामद कर लिया है। सूचना मिलने के बाद नरेंद्र का छोटा भाई सौरभ महोर और पिता अरविंद महोर के साथ ही उनके अन्य रिश्तेदार भी मौके पर पहुंच गए थे। पिता अरविंद माहोर कलमोड़ा के एक सरकारी प्राथमिक विद्यालय में टीचर हैं। युवक का पोस्टमार्टम कर दिया गया है। फिलहाल मर्ग कायम कर औद्योगिक क्षेत्र थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।
सोशल मीडिया पर आत्महत्या की पोस्ट
मृतक नरेंद्र के भाई सौरभ और उसके दोस्त संदीप जाट ने बताया कि फेसबुक और वाट्सएप के कालेज ग्रुप पर जो पोस्ट लिखी थी उसके बाद गड़बड़़ लगी तो सौरभ और संदीप ढूंढते रहे कि कहीं मिले। नरेंद्र ने ११.४८ मिनट पर वाट्सएप पर लिखा कि इश्क की कहानी में मरे हैं हम, हमारा नाम तारीखों में लिखना। इसी दौरान करीब साढ़े १२ बजे गजेंद्र का फोन सौरभ और संदीप के पास पहुंचा जिससे उनके पैरों तले जमीन ही खिसक गई। दोनो का रोते हुए बुरा हाल हो गया।
दो दोस्तों का है किराए का कमरा
तिरुपति नगर के मकान की दूसरी मंजिल पर राजवेंद्र धाकड़ और गजेंद्र उर्फ गज्जू दोनों दोस्त किराए से रहते हैं। मृतक नरेंद्र गजेंद्र का दोस्त है जबकि राजवेंद्र से गजेंद्र का दोस्त। राजवेंद्र ने बताया कि गुरुवार सुबह करीब १० बजे गजेंद्र से कहा कि वह थका हुआ है और थोड़े समय आराम करने के बाद इंदौर जाएगा। वह वाट्सएप पर ११.४८ मिनट पर पोस्ट की और करीब १२ बजे गोली मारकर आत्महत्या कर ली। नरेंद्र दो साल पहले अभाविप का विकासखंड संयोजक रह चुका है।
सीने से प्रवेश करके पीछे निकल गई गोली
नरेंद्र ने गद्दे पर लेटे-लेटे ही देशी रिवाल्वर से सीधे हाथ से दाहिने हाथ की तरफ सीने पर गोली चलाई। गोली सीने में शरीर को पार करते हुए पीछे से बाहर निकल गई। गोली निकलने के बाद उसके लेटे होने से जिस गद्दे पर वह लेटा हुआ था उसमें जाकर धंस गई। पुलिस को मौके से गोली और उसका खोखा जरुर मिला है।
&युवक की मौत की सूचना गजेंद्र नामक उसके दोस्त ने दी थी। युवक ने खुद को देशी कट्टे से गोली मारी है। उसकी फेसबुक और वाट्सएप पोस्ट से प्रथम दृष्टया यह मामला प्रेम प्रसंग का है।
- दीपक मंडलोई, प्रभारी टीआई औद्योगिक क्षेत्र, रतलाम

Chandraprakash Sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned