4 पिस्टल, 2 देशी कट्टे सहित चार गिरफ्तार

चेन दर चेन जावरा पुलिस ने किया गिरोह का पर्दाफाश

 

By: Virendra Rathod

Published: 24 Jul 2018, 01:34 PM IST

रतलाम। जावरा शहर पुलिस ने एक नाबालिग सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर 4 पिस्टल और 2 देशी कट्टा बरामद किए हैं। पुलिस ने पूरा मामला चेन दर चेन खोला है और हथियार बरामदगी में सफलता हासिल की है। अभी पुलिस को और लोगों की गिरफ्तारी के बाद हथियार मिलने की आशंका है। जिस संबंध में पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है।

 

patrika

एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि लगातार अवैध हथियार की सूचना पर एएसपी डॉ. राजेश सहाय और जावरा एसडीओपी डी आर मुले के नेतृत्व में जावरा पुलिस ने मुखबिर तंत्र को सक्रिय कर अवैध हथियारों का जखीरा जब्त किया है। एसपी ने बताया कि एक सप्ताह के अंतर्गत पुलिस ने 11 अवैध हथियार जप्त किए हैं। पुलिस ने आरोपी फैजान उर्फ छोटू 20 वर्ष निवासी मंदसौर, साहिल पिता अफजल 19 वर्ष निवासी जावरा ,अजय पिता कारूलाल 25 वर्ष निवासी मंदसौर और जावरा निवासी एक नाबालिग को गिरफ्तार कर 4 पिस्टल और दो देसी कट्टा बरामद किए हैं ।

चेन दर चेन हुआ खुलासा

पुलिस के अनुसार आरोपी फैजान ने पूछताछ में बताया कि डेढ़ माह पहले उसने भुनिया खेड़ी निवासी अजय पिता कालूलाल से तीन पिस्टल और दो देसी कट्टे खरीदे थे । इसमें से एक पिस्टल और एक देशी कट्टा साहिल को बेचा था ,वहीं एक पिस्टल जावरा निवासी एक नाबालिग को दी थी। एक पिस्टल और एक देशी कट्टा उसने स्वयं के पास रखा था ।इसके बाद पुलिस ने आरोपी अजय को गिरफ्तार कर उससे पूछताछ की अजय ने पुलिस को बताया कि मंदसौर निवासी सोनू ने डेढ़ वर्ष पूर्व अवैध हथियारों की खरीद फरोख्त के लिए गंधवानी के व्यक्ति से मिलवाया था ।करीब दो ढाई माह पूर्व उक्त व्यक्ति को फोन लगाकर 70 हजार में 6 अवैध हथियारों का सौदा किया था और 25 हजार रुपए नगद देकर 45 हजार रुपए खाते में भी जमा किए थे । पुलिस गंधवानी के व्यक्ति की भी तलाश कर रही है।

 

स्टेनगन की तलाश

एसपी गौरव तिवारी ने बताया कि पूर्व में अवैध हथियारों के साथ जिन लोगों को गिरफ्तार किया था ,उस मामले में एक फरार आरोपी बाबू मस्तान की तलाश चल रही है। वही बाबू मस्तान द्वारा खरीदी गई स्टेनगन को भी पुलिस तलाश कर रही है।

 

 

इनकी रही भूमिका

अवैध हथियारों की जब्ती में जावरा शहर थाना प्रभारी श्याम चंद शर्मा ,उप निरीक्षक अशोक सोनगरा ,एएसआई एम. एल बड़ोदिया ,आरक्षक बालकृष्ण, हरिओम देवड़ा ,विष्णु चंद्रावत, लाल सिंह कटारा, नरेंद्र हाडा, ओमप्रकाश जाट, पवन मेहता, चंद्रकांत ,विपुल भावसार और चालक कैलाश मालवीय की भूमिका रही।

Virendra Rathod Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned