scriptRatlam will not be thirsty this time in summer, water is plentiful in | गर्मी में इस बार प्यासा नहीं रहेगा रतलाम, धोलावाड़ में भरपूर है पानी | Patrika News

गर्मी में इस बार प्यासा नहीं रहेगा रतलाम, धोलावाड़ में भरपूर है पानी

- शहर में पेयजल के लिए प्रतिदिन पानी देने के अतिरिक्त, सिंचाई के लिए नहरों में भी छोड़ रहे पानी

रतलाम

Published: February 18, 2022 11:04:54 am

रतलाम। मानसून की मेहरबानी के चलते इस बार गर्मी में रतलाम प्यासा नहीं रहेगा। रतलाम की प्यास बुझाने वाले धोलावाड डेम में अब भी इतना पानी है कि पूरी गर्मी में निगम प्रतिदिन लोगों को पीने का पानी देगा तब भी इसकी कमी नहीं होगी। यह बात सही है कि गर्मी में इसकी मांग बढ़ जाती है लेकिन उसके बाद भी पानी की कोई किल्लत इस बार नहीं रहेगी। यह बात हम नहीं बल्कि धोलावाड़ के वर्तमान स्थिति खुद बयां कर रही है।
गर्मी में इस बार प्यासा नहीं रहेगा रतलाम, धोलावाड़ में भरपूर है पानी
गर्मी में इस बार प्यासा नहीं रहेगा रतलाम, धोलावाड़ में भरपूर है पानी
धोलावाड़ डेम की क्षमता वैसे तो 395 मीटर है। मानसून में अच्छी बारिश के चलते डेम से पानी पर्याप्त मात्रा में आने से उसके गेट भी खोलना पड़े थे। वर्तमान में डेम 389.20 मीटर पानी अब भी उपलब्ध है। जून 2021 के बाद करीब सात माह बीत चुके है और इनते लंबे समय में अब तक डेम का पानी करीब ६ मीटर ही कम हुआ है। इतना ही नहीं वर्तमान में नहरों के माध्यम से सिंचाई के लिए पानी भी छोड़ा जा रहा है जो कि मार्च माह तक चलता रहेगा। फसलों की कटाई का दौर शुरू होने के साथ ही नहरों से पानी छोडऩा बंद कर दिया जाएगा।
380 मीटर ग्राउंड लेवल
धोलावाड़ डेम का ग्राउंड लेवल 380 मीटर है। नीचे ऊपर तक करीब 15 मीटर तक इसमें पानी संग्रहण की क्षमता है। वर्तमान में डेम में जो पानी संग्रहित है, इसमें से करीब ढ़ाई मीटर पानी सिंचाई में आगामी 15 मार्च तक जाएगा। उसके बाद नहरों को रोक दिया जाएगा। दरअसल इसके बाद पानी को पेयजल के लिए रोक दिया जाता है। गत वर्ष भी धोलावाड़ डेम का नीचला स्तर मानसून आने तक महज 384.15 मीटर तक ही पहुंचा था और 15 जून को रतलाम में मानसून ने दस्तक दे दी थी।
0.05 एमसीएम पानी मिलता शहर को
वर्तमान में रतलाम शहर में पेयजल वितरण के लिए नगर निगम को धोलावाड़ डेम के माध्मम से 0.05 एमसीएम पानी मिलता है। यह पानी शहर की प्यास बुझाने के लिए पर्याप्त है लेकिन जिम्मेदारों की लापरवाही और निगम की पेयजल लाइनों में लिकेज के चलते हर दिन हजारों लीटर पानी व्यर्थ ही बह जाता है। इसके अतिरिक्त कई लोग पानी की चोरी भी करते है, उसके बाद भी अब तक पानी की बड़ी किल्लत का सामना किसी को भी नहीं करना पड़ा है।
तो नहीं लगेगी टैंकरों की जरुरत
वर्तमान में धोलावाड़ डेम में जल संग्रहण क्षमता को देखते हुए यह कहा जाना गलत नहीं होगा कि इस वर्ष शहरवासियों को पेयजल के लिए जूझना पड़ेगा। निगम को बहुत अधिक मात्रा में टैंकरों के माध्यम से भी पानी वितरण करने की आवश्यकता नही रहेगी। पेयजल व्यवस्था को गर्मी में बेहतर बनाए रखने के लिए नगर निगम को चाहिए कि अभी से पेयजल वितरण के लिए बेहतर प्लान तैयार किया जाए जिससे कि आमजन को गर्मी में पानी के लिए परेशान नहीं होना पडेग़ा।
.................................................................................
फैक्ट फाइल
395 - मीटर धोलावाड़ डेम की क्षमता
389.20 - मीटर डेम में आज की स्थिति में पानी की उपल्बधता
0.05 - एमसीएम पानी प्रतिदिन निगम को दिया जाता है
2.8 - मीटर सिंचाई के लिए १५ मार्च तक दिया जाने वाला पानी
380 - मीटर डेम का ग्राउंड लेवल
384.15 - मीटर डेम में गत वर्ष का न्यूनतम वाटर लेवल स्तर
4.15 - मीटर गत वर्ष की तुलना में डेम में वर्तमान में पानी की उपल्बधता

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

द्वारकाधीश मंदिर में पूजा के साथ आज शुरू होगा BJP का मिशन गुजरात, मोदी के साथ-साथ अमित शाह भी पहुंच रहेRajasthan: एंटी करप्शन ब्यूरो की सक्रियता से टेंशन में Gehlot Govt, अब केंद्र की तरह जांच से पहले लेनी होगी अनुमतिVIP कल्चर पर पंजाब की मान सरकार का एक और वार, 424 वीआईपी को दी रही सुरक्षा व्यवस्था की खत्मओडिशा में "भ्रूण लिंग" जांच गिरोह का भंडाफोड़, 13 गिरफ्तारमां की खराब तबीयत के बावजूद बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटे ओबेड मैकॉय, संगकारा ने जमकर की तारीफRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चदिल्ली में डबल मर्डर से सनसनी! एक की चाकू से गोदकर हत्या, दूसरे को गोली मारीEncounter In Ghaziabad: बदमाशों पर कहर बनकर टूटी पुलिस, एक रात में दो इनामी अभियुक्तों को किया ढेर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.