आरपीएफ को मिलेगी नई मोटर साइकिल

रतलाम, उज्जैन, इंदौर, नागदा, भोपाल, कटनी आदि को होगा लाभ, २० करोड़ का होगा व्यय, वर्ष २०१८-१९ के वित्तीय वर्ष में रतलाम मंडल सहित प्रदेश के अनेक जिलों

By: bhuvanesh pandya

Published: 18 Aug 2017, 11:16 AM IST

आशीष पाठक

रतलाम. वर्ष २०१८-१९ के वित्तीय वर्ष में रतलाम मंडल सहित प्रदेश के अनेक जिलों की आरपीएफ को नई मोटर साइकिल मिलने जा रही है। इसके लिए सूचना आरपीएफ के डीजी रेलवे बोर्ड एस शांडिल्लया ने जारी कर दी है। इसके लिए रेलवे बोर्ड करीब २० करोड़ रुपए का व्यय करेगा। इस वाहनों का उपयोग आरपीएफ गश्त करने से लेकर कोर्ट आदि स्थान पर जाने के लिए कर सकेगी।

फिलहाल मंडल के रतलाम मुख्यालय पर सरकारी एक भी बाइक नहीं है। एेसे में एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने के लिए निजी वाहन का उपयोग होता है। इतना ही नहीं, अगर कोई एक अपराधी को कोर्ट ले जाना हो तो निजी वाहन का ही उपयोग होता है जो सुरक्षा की दृष्टि से बेहतर नहीं माना जाता। १३ जुलाई को रेलवे बोर्ड आरपीएफ डीजी की इस मामले में बैठक भी मंत्रालय में हुई थी। आरपीएफ गश्त करने से लेकर कोर्ट आदि स्थान पर जाने के लिए कर सकेगी।

ये मिलेगा मंडल को

रतलाम पोस्ट- दो बाइक, फिलहाल एक भी नहीं है।
इंदौर- एक है एक और मिलेगी।
दाहोद-एक भी नहीं, दो मिलेगी।
चित्तौडग़ढ़-एक है, एक ओर मिलेगी।
नागदा-एक है, एक ओर मिलेगी।
महू-एक है व एक ओर मंजूर की।
मेघनगर-एक है व एक आेर मंजूर।
उज्जैन- एक भी नहीं है, दो मंजूर।
कंमाडेंट कार्यालय- एक भी नहीं है, दो मंजूर।
भैरोगढ़- एक भी नहीं, दो मंजूर।

प्रदेश में यहां के लिए भी मंजूरी


कटनी, सतना, पिपरिया, मैहर, महागजवन, सागर, भोपाल, हबीबगंज, इटारसी, हरदा, बीना, गुना के लिए एक-एक बाइक मंजूर की गई है।

इससे लाभ होगा


रेलवे में लगातार बेहतरी के लिए कार्य किया जा रहा है। इसी श्रृंखला में लगातार नई-नई मंजूरिया दी जा रही है। रेलवे लगातार सुरक्षा, सुविधा व संरक्षा की दिशा में कार्य कर रही है। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर १३३ या १८२ हेल्पलाइन का उपयोग यात्री करे।
- जेके जयंत, जनसंपर्क अधिकारी, रतलाम रेल मंडल

bhuvanesh pandya
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned