scriptRSS ka matra chaya shivir | जीवमात्र की पीड़ा को हरने में सहायता करें | Patrika News

जीवमात्र की पीड़ा को हरने में सहायता करें

आरएसएस की पे्ररणा से हुई मातृ छाया की शुरुआत

रतलाम

Published: December 02, 2021 05:36:32 pm

रतलाम. परम पिता परमेश्वर ने यदि हमें इस योग्य बनाया है कि हम सुखमय जीवन जी सके तो ईश्वर हमें यह सद्बुद्धि भी प्रदान करता है कि हम जीवमात्र की पीड़ा को हरने में सहायता प्रदान करें। हमारी संस्कृति में किसी की सहायता करने पर अहंकार का भाव नहीं आता हैं, अपितु कृतज्ञता का भाव उत्पन्न होता है, उपकार नहीं। अपितु सम्मान के भाव के साथ परोपकार करना हमारी संस्कृति है। पश्चिम का दर्शन है कि सरवाइकल ऑफ द फिटनेस लेकिन हमारा दर्शन है कि जो अक्षम है तो भी उसे जीवन का अधिकार है और उससे इस अधिकार की सुरक्षा का उत्तरदायित्व सर्व समाज का हैं।
जीवमात्र की पीड़ा को हरने में सहायता करें
जीवमात्र की पीड़ा को हरने में सहायता करें
यह बात राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सेवा प्रमुख पराग अभ्यंकर ने मातृ छाया के उद्घाटन के अवसर पर व्यक्त किये। अभ्यंकर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की प्रेरणा से कार्यरत सेवा भारती संस्था द्वारा संचालित निराश्रित बच्चों के सेवा प्रकल्प मातृ छाया के उद्घाटन समारोह में मुख्य वक्ता के रूप में मंगलवार को संबोधित कर रहे थे। मुख्य वक्ता अभ्यंकर एवं मुख्य अतिथि वरिष्ठ स्त्री रोग चिकित्सक डॉक्टर आशा सराफ ने भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्वलन कर मातृछाया केंद्र का उद्घाटन किया। मातृछाया प्रकल्प का अवलोकन करने के पश्चात अतिथियों का स्वागत सेवा भारती समिति के सदस्य ममता दीदी, संगीता कमल जैन, अनुज छाजेड़, सुरेश वर्मा ने तिलक एवं श्रीफल द्वारा किया गया। मुख्य अतिथि डॉक्टर सराफ ने मातृत्व एवं निराश्रित बच्चों के इस प्रकल्प की प्रशंसा करते हुए अपनी ओर से 2 लाख आर्थिक सहायता प्रदान की इस अवसर पर विभाग संघचालक तेजराम मंगरोदा मंचासीन थे।
प्रतिवेदन प्रस्तुत किया
समारोह में सेवा भारती समिति के सचिव राजेश बाथम ने संचालित समस्त सेवा कार्यों एवं प्रकल्पों का प्रतिवेदन प्रस्तुत किया। समारोह के अंत में उपस्थित दानदाताओं के प्रति सेवा भारती समिति के अध्यक्ष राकेश मोदी ने आभार व्यक्त किया। संचालन सुषमा अव्तानी ने किया। इस अवसर पर सेवा भारती द्वारा संचालित जनजाति समाज के बालकों के छात्रावास के बच्चों ने मंगल गीत प्रस्तुत किए। आयोजन में शहर विधायक चेतन कश्यप, पूर्व मंत्री हिम्मत कोठारी, राजेंद्र पिपलिया, नितिन फलोदिया, भूमिका शरद फाटक, पन्नालाल कटारिया, राजेश चोपड़ा, महेश बोथरा, मनीष जैन, मन्नालाल रुनवाल, जितेन नागरेचा सहित गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहकर्नाटक में कोरोना की रफ्तार तेज, 47  हजार से अधिक नए मामलेरामगढ़ पचवारा में बरसे टिकैत, कहा किसानों की जमीन को छीनने नहीं दिया जाएगाप्रदेश के डेढ़ दर्जन जिलों में रेत का अवैध परिवहन जारी, सरकार को करोड़ों का नुकसान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.