युवक की चाकुओं से गोदकर बेरहमी से हत्या

शराब के नशे में शुरू हुई कहासुनी में पिता-पुत्र पर हमला, एक आरोपी गिरफ्तार

By: Hitendra Sharma

Published: 09 Jun 2021, 08:43 AM IST

रतलाम. शहर के ओसवाल नगर में देर रात मामूली विवाद के बाद एक युवक की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी गई। आरोपियों ने मृतक के बेटे पर भी चाकू से वार किए, जिससे वह भी घायल हो गया। चाकूबाजी की घटना के बाद घायल को जिला अस्पताल लाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने के बाद भारी पुलिस बल अस्पताल में पहुंच गया था। इन सब के बीच एक आरोपी अपना इलाज करवाने अस्पताल आया तो उसको पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

Must see: ब्लैकमेलिंग का नया तरीका, फेसबुक पर की दोस्ती फिर ...

पुलिस के मुताबिक मंगलवार की रात करीब 9:15 बजे ओसवाल नगर निवासी गोलू, मृतक प्रदीप का पुत्र शिवम और काना घर के पास स्थित मंदिर पर रात का खाना खाने के बाद बैठे हुए थे। इसी दौरान उधर से धवल शर्मा और उसके साथी बाइक से निकल रहे थे। इन्होंने शिवम और उसके साथियों को कहा कि इतनी रात गए यहां क्यों बैठे हो। बताया जा रहा है कि सभी लोग शराब के नशे में धुत्त थे। शिवम और उसके साथियों ने कहा कि बैठे हैं। इतने में धवल शर्मा और उसके साथियों ने इनमें से किसी एक को चांटा मार दिया। इस पर शिवम के साथियों ने उसे भी चांटा मार दिया। इसके बाद शवम अपने पिता को बोलने घर आया। उधर धवन ने अपने अन्य साथियों को वहीं पर फोन लगाकर बुला लिया। जिनको बुलाया गया वहां सभी पहुंचे, जिनकी संख्या करीब 8 से 10 बताई जा रही है।

Must see: कंपनी के ईमेल का एक अक्षर बदलकर 67 लाख रुपए ठगी

जब दोनों तरफ की भीड़ हो गई तो शिवम के पिता प्रदीप ने आरोपियों को रोकने का प्रयास किया तो उन पर चाकू से हमला कर दिया। आरोपियों ने प्रदीप को शरीर में कई जगह चाकू मारे। शिवम को भी चाकू मारे, लेकिन शिवम को मामूली चोट लगी। गंभीर रूप से घायल प्रदीप राठौड़ को शिवम खुद ही अपनी बाइक पर एक अन्य साथी के साथ जिला अस्पताल लेकर पहुंचे।

Must see: MP में कोरोना के ताजा आंकड़े

जिला अस्पताल के ऑपरेशन थिएटर में प्रदीप को टांके लगाने के बाद इमरजेंसी वार्ड में भर्ती किया, जहां कुछ देर बाद प्रदीप ने दम तोड़ दिया। पुलिस के अनुसार चाकू से प्रदीप राठौर को घायल करने के बाद आरोपी धवल स्वयं भी घायल होकर जिला अस्पताल पहुंच गया था। यहां पहले से मौजूद बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों ने उसे देखा तो उसे भी हिरासत में लेकर थाने पहुंचाया। पुलिस उससे उसके साथियों के बारे में पूछताछ कर रही है।

Must see: शिकंजा कसा: सोम डिस्टलरी का लाइसेंस निरस्त

Hitendra Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned